उलिहातू से भोगनाडीह तक 506 किमी की पद यात्रा पर निकले युवा, छठी जेपीएससी रिजल्ट का विरोध

उलिहातू से भोगनाडीह तक 506 किमी की पद यात्रा पर निकले युवा, छठी जेपीएससी रिजल्ट का विरोध
पीबी ब्यूरो ,   Jun 09, 2020

झारखंड लोकसेवा आयोग द्वारा जारी छठी परीक्षा परिणाम को लेकर विवादों के बीच आज कई युवाओं ने बिरसा मुंडा की जन्म स्थली उलिहातू से पद यात्रा शुरू की है.

मुट्ठियां भींचे और नारे लगाते ये युवा 506 किलोमीटर की दूरी पैदल तय 30 जून को भोगनाडीह पहुंचेगे. इसे 'छात्र उलगुलान यात्रा' नाम दिया गया है. 

आज ही उलगुलान के नायक बिरसा मुंडा की पुण्य तिथि है. सत्याग्रह की राह पर उतरे इमाम सफी, रीना कुमारी, इंद्रेदव कुमार बताते हैं कि इस आंदोलन से किसी राजनीतिक दल का कोई वास्ता नहीं है.

स्वतंत्र तौर पर जेपीएससी के अभ्यर्थियों ने यह रुख अख्तियार किया है, ताकि सरकार की नजर पड़े और गंभीरता से इस मामले में कार्रवाई करे. 

साहिबंगज में भोगनाडीह की धरती वीर सिद्धो- कानू की जन्म स्थली है, जिन्होंने अंग्रेजों के खिलाफ हूल आंदोलन छेड़ा था. इन छात्रों का कहना है कि झारखंड के शहीदों वीर पुरूषों के नमन के साथ उन्हें पैदल चलने की ताकत मिलती रहेगी. 506 किमी की पदयात्रा में 17 पड़ाव होंगे. 

इसे भी पढ़ें: लॉकडाउन में सिर्फ ट्यूशन फीस लेंगे झारखंड के निजी स्कूलः मंत्री जगरनाथ महतो

गौतम कुमार बताते हैं कि छठी जेपीएससी परीक्षा परिणाम रद्द करने के साथ अधियाचना वापस लेने और जेपीएससी में भ्रष्टाचार के खिलाफ सत्याग्रह आंदोलन किया जा रहा है. इसके अलावा आरक्षण नीति में सुधार तथा नियोजन नीति में तत्काल सुधार हमारी मुख्य मांग है. 

रीना कुमार के मुताबिक छठी जेपीएससी परीक्षा का परिणाम पांच साल पर आया, पर इसमें तमाम विसंगतियां हैं. राज्य के कई विधायकों ने सरकार को इसके बारे में पत्र भी लिखा है. पर सरकार इस मामले में खामोश है. 

इससे पहले बिरसा मुंडा की मूर्ति पर श्रद्धासुमन अर्पित कर अलग- अलग जिलों से जुटे जेपीएससी के अभ्यर्थियों ने यात्रा की शुरुआत की. 

कल वे रांची पहुंचेगे. यहां से फिर अगला पड़ाव तय होगा. इस मुहिम में प्रकाश कुमार, राकेश कुमार. अमरदीप रावत विद्या भूषण समेत कई लोग शामिल हैं. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

आईपीएल 2020 के रंग में धौनी, साथियों के साथ चेन्नई पहुंचे
आईपीएल 2020 के रंग में धौनी, साथियों के साथ चेन्नई पहुंचे
वैक्सीन पर उठते सवालों के बीच रूस का दावा, दो सालों तक छू नहीं सकेगा वायरस
वैक्सीन पर उठते सवालों के बीच रूस का दावा, दो सालों तक छू नहीं सकेगा वायरस
राजस्थान विधानसभा में बोले सचिन पायलट, मैं जब तक बैठा हूं, सरकार सुरक्षित है
राजस्थान विधानसभा में बोले सचिन पायलट, मैं जब तक बैठा हूं, सरकार सुरक्षित है
वकील प्रशांत भूषण अवमानना के मामले में दोषी करार, सजा पर सुनवाई 20 अगस्त को
वकील प्रशांत भूषण अवमानना के मामले में दोषी करार, सजा पर सुनवाई 20 अगस्त को
तेजस्वी ने नीतीश और उनके मंत्री को घेरा, कोरोना के आंकड़ों पर पूछा- कौन सच्चा कौन झूठा?
तेजस्वी ने नीतीश और उनके मंत्री को घेरा, कोरोना के आंकड़ों पर पूछा- कौन सच्चा कौन झूठा?
झारखंडः पीटीआई के ब्यूरो चीफ पीवी रामानुजम ने खुदकुशी कर ली
झारखंडः पीटीआई के ब्यूरो चीफ पीवी रामानुजम ने खुदकुशी कर ली
 जीडीपी में गिरावट की नारायणमूर्ति की आंशका पर राहुल का तंज: ‘मोदी है तो मुमकिन है’
जीडीपी में गिरावट की नारायणमूर्ति की आंशका पर राहुल का तंज: ‘मोदी है तो मुमकिन है’
जानिए क्यों मिला खूंटी के दारोगा पुष्पराज को केंद्रीय गृह मंत्री पदक सम्मान
जानिए क्यों मिला खूंटी के दारोगा पुष्पराज को केंद्रीय गृह मंत्री पदक सम्मान
अलीगढ़ः बीजेपी विधायक का आरोप, पुलिस ने पीटा, कार्यकर्ताओं ने थाना घेरा, तनाव
अलीगढ़ः बीजेपी विधायक का आरोप, पुलिस ने पीटा, कार्यकर्ताओं ने थाना घेरा, तनाव
रूस की कोरोना वैक्सीन के बारे जानकारों की अलग-अलग राय?
रूस की कोरोना वैक्सीन के बारे जानकारों की अलग-अलग राय?

Stay Connected

Facebook Google twitter