योगी सरकार की उल्टी गिनती शुरूः अखिलेश यादव

योगी सरकार की उल्टी गिनती शुरूः अखिलेश यादव
Twitter-Akhilesh Yadav
पीबी ब्यूरो ,   Jan 18, 2020

समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर धर्म के नाम पर नफरत फैलाने का आरोप लगाते हुए शनिवार को कहा कि उनकी सरकार के पास अब ज्यादा वक्त नहीं है और उसकी उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है.

अखिलेश यादव ने हिंदू युवा वाहिनी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुनील सिंह और उनके साथियों के सपा में शामिल होने पर उनका स्वागत करते हुए कहा कि विरोध करने पर योगी सरकार ने इन लोगों पर न जाने कितने मुकदमे लाद दिए हैं,

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा, ‘‘यह सरकार पहले ही दिन से अन्याय कर रही है. विरोध करने वालों पर झूठे मुकदमे दर्ज किए जा रहे हैं. अब तो मुख्यमंत्री के पास समय भी नहीं बचा है। अब उनकी उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है.’’ 

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘पूर्ववर्ती सपा सरकार जहां उत्तर प्रदेश को विकास की तरफ ले जा रही थी, वहीं भाजपा ने विकास का रास्ता रोककर राज्य को विनाश के रास्ते पर ले जाने का काम किया है.’’ 

उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘उसके (भाजपा) पास हिंदू और मुसलमान के अलावा और कोई नारा नहीं है। अभी नागरिकता को लेकर कितना बड़ा सवाल खड़ा कर दिया गया। नागरिकता का मामला असम से शुरू हुआ था लेकिन कोई असम के लोगों से पूछे कि क्या वे वहां हुई एनआरसी की कवायद से संतुष्ट हैं?’’ 

इसे भी पढ़ें: अभिनव मुहिम, उज्जैन में किन्नर दे रहे 'सफाई की बधाई’

अखिलेश ने कहा "असम के लोग ही न जाने क्या-क्या चाहते थेय भाजपा को मौका मिलाय उन्होंने वहां भी हिंदू-मुसलमान करा दिया. असम के लोग जो चाहते थे वह उन्हें नहीं मिला। असम के एक हिस्से में ऐसा कर दिया कि अगर हम और आप जाना चाहेंगे तो उसके लिए परमिट लेना जरूरी होगा." अखिलेश ने कहा कि असम के एक हिस्से में सीएए लागू ही नहीं किया गया है. अगर वहां कोई व्यक्ति चाहे तो उसे नागरिकता नहीं मिल सकती। भाजपा सरकार ने किसी वर्ग को कोई सुविधा नहीं दी। केवल इसलिए नफरत फैलाई जा रही है ताकि उसका राजनीतिक लाभ उठाया जा सके.

सपा अध्यक्ष ने कहा, ‘‘हमें इस बात की खुशी है कि योगी आदित्यनाथ की सरपरस्ती वाली हिंदू युवा वाहिनी के लोग सपा के साथ आ गए हैं. जो लोग दूसरों की नागरिकता ले रहे थे अब उन्हीं लोगों की नागरिकता खतरे में आ जाएगी। हमें भरोसा है कि भाजपा के लोग जो धर्म की आड़ में अधर्म कर रहे थे उसका भी खुलासा ये लोग कर देंगे.’’

सपा अध्यक्ष ने कहा, ‘‘यह परंपरा तो भाजपा ने ही शुरू की है. उसने हमारे विधान परिषद सदस्य बुक्कल नवाब को ले लिया और उनसे कहा कि जाओ हनुमान जी की पूजा करो.’’ कार्यक्रम में सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव भी शरीक हुए। इस मौके पर हिंदू युवा वाहिनी भारत के साथ साथ बसपा से भी कई नेता और कार्यकर्ता सपा में शामिल हुए.

(भाषा से इनपुट) 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

दिल्ली हिंसाः कांग्रेस ने राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपा, कहा, सरकार नाकाम रही, निर्णायक कदम उठाएं
दिल्ली हिंसाः कांग्रेस ने राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपा, कहा, सरकार नाकाम रही, निर्णायक कदम उठाएं
दिल्ली हिंसाः मरने वालों की संख्या 32 तक पहुंची, अमरीका और रूस ने जारी की एडवायजरी
दिल्ली हिंसाः मरने वालों की संख्या 32 तक पहुंची, अमरीका और रूस ने जारी की एडवायजरी
कांग्रेस के हाथ खून से सने हैं, सोनिया गांधी का गृह मंत्री से इस्तीफा मांगना हास्यास्पद: बीजेपी
कांग्रेस के हाथ खून से सने हैं, सोनिया गांधी का गृह मंत्री से इस्तीफा मांगना हास्यास्पद: बीजेपी
पीएम मोदी ने दिल्ली में शांति की अपील की, सोनिया ने अमित शाह से मांगा इस्तीफा
पीएम मोदी ने दिल्ली में शांति की अपील की, सोनिया ने अमित शाह से मांगा इस्तीफा
राज्य सभा चुनाव एक मौका होगा, जब झारखंड में बीजेपी-आजसू नए सिरे से करीब आ सकती है
राज्य सभा चुनाव एक मौका होगा, जब झारखंड में बीजेपी-आजसू नए सिरे से करीब आ सकती है
सिल्ली की बेटी बबीता चमकी 'खेलो इंडिया' में, तीरंदाजी में कांस्य पदक
सिल्ली की बेटी बबीता चमकी 'खेलो इंडिया' में, तीरंदाजी में कांस्य पदक
दिल्ली हिंसाः मरने वालों की संख्या 20 हुई, एनएसए ने संभाली कमान
दिल्ली हिंसाः मरने वालों की संख्या 20 हुई, एनएसए ने संभाली कमान
एनोस फिर 'सलाखों' के पीछे और अर्श से फर्श पर राजनीति का 'इक्का'
एनोस फिर 'सलाखों' के पीछे और अर्श से फर्श पर राजनीति का 'इक्का'
पूर्वोत्तर दिल्ली में फिर हिंसा, अब तक सात की मौत, गृह मंत्रालय में बैठक
पूर्वोत्तर दिल्ली में फिर हिंसा, अब तक सात की मौत, गृह मंत्रालय में बैठक
 हाइकोर्ट का बड़ा फैसलाः झारखंड में बिहार और दूसरे राज्य के एससी, एसटी, ओबीसी को आरक्षण नहीं
हाइकोर्ट का बड़ा फैसलाः झारखंड में बिहार और दूसरे राज्य के एससी, एसटी, ओबीसी को आरक्षण नहीं

Stay Connected

Facebook Google twitter