फेसबुक पोस्ट को लेकर बेंगलुरु में भड़की हिंसा, पुलिस फायरिंग में तीन की मौत

फेसबुक पोस्ट को लेकर बेंगलुरु में भड़की हिंसा, पुलिस फायरिंग में तीन की मौत
पीबी ब्यूरो ,   Aug 12, 2020

बेंगलुरु में एक सोशल मीडिया पोस्ट के वजह से हुए विवाद और उससे उपजी हिंसा में तीन लोगों की मौत हो गई है. 

एनडीटीवी के मुताबिक बेंगलुरु पुलिस कमिश्नर कमल पंत ने बताया कि पूर्वी बेंगलुरु के डीजे हल्ली इलाके में पुलिस की फायरिंग में तीन लोगों की मौत हो गई है, वहीं 60 पुलिसकर्मी घायल हैं.

इससे पहले माहौल को काबू में करने के लिए पुलिस ने भीड़ पर लाठीचार्ज किया, आंसू गैस के गोले छोड़ और फायरिंग की. भीड़ सोशल मीडिया पर एक आपत्तिजनक पोस्ट के ख़िलाफ़ प्रदर्शन करते हुए पुलिस स्टेशन पहुँची थी.

डीजे हल्ली और केजी हल्ली थाना क्षेत्रों में गुरुवार की सुबह तक कर्फ्यू लगा दिया गया है. वहीं पूरे बेंगलुरु में धारा 144 लागू है. 

कमिश्नर ने कहा कि फिलहाल हालात काबू में हैं. पुलिस ने इस मामले में कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के आरोपी भतीजे नवीन को गिरफ्तार कर लिया है, वहीं इसके अलावा 110 अन्य लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

इसे भी पढ़ें: रूस की कोरोना वैक्सीन के बारे जानकारों की अलग-अलग राय?

इस बीच समाचार एजेंसी एएनआई ने बेंगलुरु के ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर (क्राइम) संदीप पाटिल के हवाले से बताया कि इस मामले में अब तक 110 लोगों को गिरफ़्तार किया गया है.

उधर पुलाकेशी नगर में मंगलवार रात भीड़ ने थाने और कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के आवास में तोड़फोड़ की. 

यह घटना विधायक के एक कथित संबंधी द्वारा सोशल मीडिया पर सांप्रदायिक मुद्दे से जुड़े एक पोस्ट साझा किए जाने के बाद हुई.

पुलिकेशिनगर के कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के एक रिश्तेदार ने कथित तौर पर सोशल मीडिया पर एक आपत्तिजनक पोस्ट डाला था जिसके विरोध में भारी संख्या में लोग मंगलवार की शाम पुलिस थाने पहुँचे और पोस्ट डालने वाले के ख़िलाफ़ कार्रवाई की माँग की.

खबरों के मुताबिक पुलिस कमिश्नर ने कहा, "पुलिसकर्मियों पर बड़े पत्थरों से हमला किया गया. अचानक बिजली चली गई और भीड़ से निपटने में हमें कुछ समय लगा. चूंकि पुलिस स्टेशन पर चारों तरफ़ से हमले किए जा रहे थे, पुलिस के पास गोली चलाने के सिवा और कोई दूसरा रास्ता नहीं था."

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा, 'मैंने बेंगलुरू के पुलिस कमिश्नर से बात कर उन सभी दोषियों को तुरंत गिरफ्तार करने के लिए कहा है, जो घटना में शामिल थे, और जिन्होंने इसे भड़काया था...हम शांति बहाल करने करने के लिए कर्नाटक सरकार को पूरा समर्थन देते हैं...'

साथ ही उन्होंने कहा, 'मैं कवल बिरसैन्ड्रा में हुई हिंसक घटना और उस सोशल मीडिया पोस्ट की भर्त्सना करता हूं, जिसकी वजह से भीड़ भड़क गई... मैं क्षेत्र के हिन्दुओं और मुस्लिमों से विनम्र अनुरोध करता हूं कि शांत रहें, शांति बनाए रखें, और सौहार्द से रहें...'


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कृषि विधेयक किसानों के लिए मौत की सजा हैं: राहुल गांधी
कृषि विधेयक किसानों के लिए मौत की सजा हैं: राहुल गांधी
पप्पू यादव ने बनाया प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन, कहा, 30 साल के महापाप को खत्म करना है
पप्पू यादव ने बनाया प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन, कहा, 30 साल के महापाप को खत्म करना है
लवली आनंद ने राजद का दामन थामा, बोलीं, नीतीश सरकार ने धोखा दिया है
लवली आनंद ने राजद का दामन थामा, बोलीं, नीतीश सरकार ने धोखा दिया है
मत विभाजन की मांग के वक्त सांसद शिवा सीट पर थे, पर सदन का ऑर्डर में होना महत्वपूर्णः हरिवंश
मत विभाजन की मांग के वक्त सांसद शिवा सीट पर थे, पर सदन का ऑर्डर में होना महत्वपूर्णः हरिवंश
जेडीयू के दफ्तर में सीएम नीतीश से मिले गुप्तेश्वर पांडेय, 'सुशासन' की तारीफ की
जेडीयू के दफ्तर में सीएम नीतीश से मिले गुप्तेश्वर पांडेय, 'सुशासन' की तारीफ की
 मनमोहन सिंह की तरह गहराई वाले प्रधानमंत्री की कमी महसूस कर रहा है भारत: राहुल
मनमोहन सिंह की तरह गहराई वाले प्रधानमंत्री की कमी महसूस कर रहा है भारत: राहुल
झारखंडः सरना कोड की मांग पर गोलबंद होते आदिवासी संगठन, 15 अक्तूबर को राज्य व्यापी चक्का जाम करेंगे
झारखंडः सरना कोड की मांग पर गोलबंद होते आदिवासी संगठन, 15 अक्तूबर को राज्य व्यापी चक्का जाम करेंगे
पता नहीं, पीएम मोदी देश को किस दिशा में ले जाना चाहते हैं, कृषि विधेयक सबसे बड़ा प्रहारः हेमंत सोरेन
पता नहीं, पीएम मोदी देश को किस दिशा में ले जाना चाहते हैं, कृषि विधेयक सबसे बड़ा प्रहारः हेमंत सोरेन
गायक एस पी बालासुब्रमण्यम का निधन, मखमली आवाज से प्रशंसकों के दिलों पर दशकों तक राज किए
गायक एस पी बालासुब्रमण्यम का निधन, मखमली आवाज से प्रशंसकों के दिलों पर दशकों तक राज किए
बिहार विधानसभा चुनाव का बिगुल बजाः 28 अक्तूबर से तीन चरणों में मतदान, 10 नवंबर को नतीजे
बिहार विधानसभा चुनाव का बिगुल बजाः 28 अक्तूबर से तीन चरणों में मतदान, 10 नवंबर को नतीजे

Stay Connected

Facebook Google twitter