वीडियोः जब हेमंत सोरेन बोले, हिंदपीढ़ी के चलते झारखंड में कई जगहों पर कोरोना का संक्रमण पहुंचा

वीडियोः जब हेमंत सोरेन बोले, हिंदपीढ़ी के चलते झारखंड में कई जगहों पर कोरोना का संक्रमण पहुंचा
Publicbol (File Photo)
पीबी ब्यूरो ,   Apr 27, 2020

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि कोरोना को लेकर राजधानी रांची का हिंदपीढ़ी इलाका पूरे राज्य में चर्चा के केंद्र में है. तमाम कोशिशों के बाद भी हमने यह पाया कि राज्य के कई हिस्सों में कोरोना संक्रमण का जुड़ाव हिंदपीढ़ी से रहा है.

इसका मतलब है कि हिंदपीढ़ी वाले किसी कारण से दूसरी जगहों पर जा रहे हैं और लोगों की जान को भी खतरे में डाल रहे हैं.

इसलिए लोग हिंदपीढ़ी में ही रहें. जांच में सहयोग करें. सरकार कोरोना के खतरे को टालने में जुटी है. और लगन के साथ जांच के लिए टीम उस इलाके में जा रही है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग में शामिल होने के बाद हेमंत सोरेन पत्रकारों से बात कर रहे थे. 

उन्होंने कहा, हिंदपीढ़ी से निकल कर कभी लोग बेड़ो चले जाते हैं. कभी गढ़वा चले जाते हैं. कृपया यह नहीं करें. अब हिंदपीढ़ी क्षेत्र सीआरपीएफ की निगरानी में रहेगा. वहां पर पूरी तरह से लोगों की आवाजाही रोकेंगे. रांची के दूसरे इलाकों में में जहां महसूस होगा, वहां सीआरपीएफ लगाएंगे.  

इसे भी पढ़ें: कोरोना संक्रमण से उबरीं बॉलीवुड गायिका कनिका ने सरकारी इंतजाम पर क्यों उठाए सवाल

इसके साथ ही हेमंत सोरेन ने कहा कि बाहर से रांची के अंदर आने और बाहर जाने वाली सड़कों को सील कर देंगे. नियमानुसार सभी आवाजाही पर रोक लगाएंगे. डीजीपी को आदेश दे दिया है. सीएस को भी आदेश दिया है.

इसके साथ ही जिलों के अधिकारियों से कहा है कि राज्य के जो इलाके कोरोना के जद में नहीं आए हैं, उसे संक्रमण से बचाने के लिए हर एहतियाती कदम उठाए जाएं. साथ ही नजदीकी निगरानी रखें. 

हेमंत सोरेन ने कहा कि तीन मई को लॉक डाउन -2 की मियाद खत्म हो रही है. आगे केंद्र सरकार के फैसले के बाद वे राज्य मे हालात की समीक्षा करेंगे. लेकिन लॉक डाउन को लेकर केंद्र सरकार को जो भी फैसला होगा, उसका अनुपालन करेंगे. 
 
हालांकि हेमंत ने कहा कि हाल ही में पहले भारत सरकार ने लॉक डाउन में कुछ रियारतें दी है. हम उसे लागू नहीं करेंगे. तीन मई तक राज्य के किसी क्षेत्र में भारत सरकार की रियायतें लागू नहीं होगी. पूर्व में जो दुकानें खुलती थी, बस वही खुलेंगी. 

मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि राज्य में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ रही है. राज्यवासियों को घबराने की आवश्यकता नहीं है.

संक्रमित लोगों की पहचान में सरकार जुटी है ताकि वायरस के फैलाव को रोका जा सके. मरीजों की पहचान में हमारी गति संतोषजनक है. डॉक्टर, नर्स और अन्य कोरोना वारियर लगन के साथ जोखिम में भी तत्परता से काम कर रहे हैं. 

गौरतलब है कि बीते 17 अप्रैल को हिंदपीढ़ी में लोगों की मदद के लिए मुख्यमंत्री हेंमत सोरेन खुद वहां पहुंचे थे. लोगों को खाने और रोजमर्रे के सामान की दिक्कत नहीं हो इसके लिए 'मुख्यमंत्री आहार' नाम का पैकेट घरों में भेजा जा रहा है. उस दिन हेमंत सोरेन ने हरी झंडी दिखाकर गाड़ियों को रवाना किया था.

हिंदपीढ़ी में लॉक डाउन का सख्ती से पालन के लिए गुरुनानक स्कूल में कमांड एंड क्ट्रोल रूप बनाया गया है. यहीं पर खाद्य सामान के पैकेट बनाए जा रहे हैं. इस दौरान हेमंत सोरेन ने वितरण के लिए पैक किये जा रहे खाद्यान्न सामग्रियों का निरीक्षण भी किया

आकस्मिक राहत खाद्यान्न सामग्री में 15 दिनों का चावल, दाल, आलू, प्याज, सरसों का तेल, चायपत्ती, चीनी, साबुन, नमक व अन्य सामग्रियों उपलब्ध कराई गई है.

हेमंत सोरेन का कहना था कि हिंदपीढ़ी पूरी तरह से लॉकडाउन है. लोगों का घरों से निकलना बंद है. हिंदपीढ़ी के करीब आठ हजार घरों के लिए आकस्मिक राहत खाद्यान्न सामग्री वितरण  की व्यवस्था की गई है. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कोरोना, नोटबंदी और जीसटी को हार्वर्ड में असफलता पर केस स्टडीज की तरह पढ़ाया जाएगा : राहुल गांधी
कोरोना, नोटबंदी और जीसटी को हार्वर्ड में असफलता पर केस स्टडीज की तरह पढ़ाया जाएगा : राहुल गांधी
दिल्ली के 106 वर्षीय बुजुर्ग कोविड-19 संक्रमण से ठीक हुए, 102 साल पहले स्पेनिश फ्लू को भी दी थी मात
दिल्ली के 106 वर्षीय बुजुर्ग कोविड-19 संक्रमण से ठीक हुए, 102 साल पहले स्पेनिश फ्लू को भी दी थी मात
दुनिया में कोरोना से तीसरा सबसे ज्यादा प्रभावित देश बना भारत, रूस को पीछे छोड़ा
दुनिया में कोरोना से तीसरा सबसे ज्यादा प्रभावित देश बना भारत, रूस को पीछे छोड़ा
अब जेएमएम ने दिखाया कच्चा-चिट्ठाः रघुवर राज में 1450 एकड़ जमीन गलत तरीके से बेची गई
अब जेएमएम ने दिखाया कच्चा-चिट्ठाः रघुवर राज में 1450 एकड़ जमीन गलत तरीके से बेची गई
चुनौतियों का स्थायी समाधान भगवान बुद्ध के आदर्शों से मिल सकता है : पीएम मोदी
चुनौतियों का स्थायी समाधान भगवान बुद्ध के आदर्शों से मिल सकता है : पीएम मोदी
चीनी घुसपैठ पर लद्दाखवासियों की बात नजरअंदाज नहीं करे सरकार: राहुल गांधी
चीनी घुसपैठ पर लद्दाखवासियों की बात नजरअंदाज नहीं करे सरकार: राहुल गांधी
जब कोरोना से बचने के लिए बनवा लिए सोने का मास्क, पैसे लगे तीन लाख
जब कोरोना से बचने के लिए बनवा लिए सोने का मास्क, पैसे लगे तीन लाख
नीट और जेईई मेन परीक्षाएं स्थगित, मिली सितंबर में नई तारीख
नीट और जेईई मेन परीक्षाएं स्थगित, मिली सितंबर में नई तारीख
'15 साल में हमसे कोई भूल हुई थी तो उसके लिए माफी मांगते हैं'
'15 साल में हमसे कोई भूल हुई थी तो उसके लिए माफी मांगते हैं'
कानपुरः छापा मारने गई पुलिस पर अपराधियों की फायरिंग, डीएसपी सहित आठ पुलिसकर्मियों की मौत
कानपुरः छापा मारने गई पुलिस पर अपराधियों की फायरिंग, डीएसपी सहित आठ पुलिसकर्मियों की मौत

Stay Connected

Facebook Google twitter