सीबीएसई बोर्ड की बची परीक्षाएं नहीं होंगी, पर 12 वीं की छात्रों को दो विकल्प, कल फिर होगी सुनवाई

सीबीएसई बोर्ड की बची परीक्षाएं नहीं होंगी, पर 12 वीं की छात्रों को दो विकल्प, कल फिर होगी सुनवाई
सांकेतिक तस्वीर
पीबी ब्यूरो ,   Jun 25, 2020

सीबीएसई ने 1 से 15 जुलाई तक होने वाली 10वीं की परीक्षाएं रद्द करने और 12वीं के छात्रों को दो विकल्प देने का फैसला किया है. यह जानकारी आज सरकार की ओर से सुप्रीम कोर्ट को दी गई.

सीबीएसई ने 12वीं छात्रों को दो विकल्प देने का भी निर्णय किया है। पहला यह कि वे अपना रिजल्ट इंटरनल असेसमेंट के आधार पर लें, दूसरा कि कोरोना के हालात सामान्य होने के बाद परीक्षा देने का विकल्प भी चुन सकते हैं. 

लेकिन इंटरनल असेसमेंट और एग्जाम दोनों में से एक विकल्प को चुनना होगा. सरकार ने बताया कि इंटरनल असेसमेंट के आधार पर सीबीएसई 12वीं का रिजल्ट 15 जुलाई तक जारी कर दिया जाएगा.

शुक्रवार को एक बार फिर मामले की सुनवाई होनी है जिससे परीक्षाओं और रिजल्ट को लेकर स्थिति और स्पष्ट हो जाएगी.

वहीँ सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से कहा वह छात्रों को दसवीं और बारहवीं की परीक्षा और आंतरिक मूल्यांकन के विकल्प देने पर विचार करे. इस पर अदालत ने सीबीएसई बोर्ड से जवाब मांगा है। मामले पर कल यानी 26 जून को फिर से सुनवाई होगी।

इसे भी पढ़ें: ध्यान रहे, 12 अगस्त तक नहीं चलेंगी रेग्युलर ट्रेनें, अगर बुकिंग है तो पूरा पैसा रिफंड होगा

सीबीएसई और सरकार की तरफ से सॉलिस्टर जनरल तुषार मेहता ने सुप्रीम कोर्ट को यह जानकारी दी.

सरकार की ओर से यह भी बताया गया कि आईसीएसई बोर्ड भी परीक्षाएं परीक्षाएं रद्द करेगा लेकिन छात्रों को बाद में परीक्षा देने के विकल्प पर विचार नहीं कर रहा है. 

सीबीएसई की शेष परीक्षाएं रद्द करने को लेकर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई तीन जजों की बेंच एएम खानविलकर, दिनेश महेश्वरी और संजीव खन्ना के समक्ष हुई. 

इसी के साथ ही करीब पिछले दो महीने से सीबीएसई 10वीं, 12वीं की शेष परीक्षाओं को लेकर छात्रों और अभिवावकों में चल रही उहापोह की स्‍थिति समाप्त हो गई.

सीबीएसई की ओर से उच्चतम न्यायालय को बताया गया कि छात्रों को उनकी प्रीवियस परीक्षाओं के आधार पर मार्किंग की जाएगी.


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

आईपीएल 2020 के रंग में धौनी, साथियों के साथ चेन्नई पहुंचे
आईपीएल 2020 के रंग में धौनी, साथियों के साथ चेन्नई पहुंचे
वैक्सीन पर उठते सवालों के बीच रूस का दावा, दो सालों तक छू नहीं सकेगा वायरस
वैक्सीन पर उठते सवालों के बीच रूस का दावा, दो सालों तक छू नहीं सकेगा वायरस
राजस्थान विधानसभा में बोले सचिन पायलट, मैं जब तक बैठा हूं, सरकार सुरक्षित है
राजस्थान विधानसभा में बोले सचिन पायलट, मैं जब तक बैठा हूं, सरकार सुरक्षित है
वकील प्रशांत भूषण अवमानना के मामले में दोषी करार, सजा पर सुनवाई 20 अगस्त को
वकील प्रशांत भूषण अवमानना के मामले में दोषी करार, सजा पर सुनवाई 20 अगस्त को
तेजस्वी ने नीतीश और उनके मंत्री को घेरा, कोरोना के आंकड़ों पर पूछा- कौन सच्चा कौन झूठा?
तेजस्वी ने नीतीश और उनके मंत्री को घेरा, कोरोना के आंकड़ों पर पूछा- कौन सच्चा कौन झूठा?
झारखंडः पीटीआई के ब्यूरो चीफ पीवी रामानुजम ने खुदकुशी कर ली
झारखंडः पीटीआई के ब्यूरो चीफ पीवी रामानुजम ने खुदकुशी कर ली
 जीडीपी में गिरावट की नारायणमूर्ति की आंशका पर राहुल का तंज: ‘मोदी है तो मुमकिन है’
जीडीपी में गिरावट की नारायणमूर्ति की आंशका पर राहुल का तंज: ‘मोदी है तो मुमकिन है’
जानिए क्यों मिला खूंटी के दारोगा पुष्पराज को केंद्रीय गृह मंत्री पदक सम्मान
जानिए क्यों मिला खूंटी के दारोगा पुष्पराज को केंद्रीय गृह मंत्री पदक सम्मान
अलीगढ़ः बीजेपी विधायक का आरोप, पुलिस ने पीटा, कार्यकर्ताओं ने थाना घेरा, तनाव
अलीगढ़ः बीजेपी विधायक का आरोप, पुलिस ने पीटा, कार्यकर्ताओं ने थाना घेरा, तनाव
रूस की कोरोना वैक्सीन के बारे जानकारों की अलग-अलग राय?
रूस की कोरोना वैक्सीन के बारे जानकारों की अलग-अलग राय?

Stay Connected

Facebook Google twitter