सीमा पर शहीद हुए झारखंड के दो लाल पंचतत्व में विलीन, अंतिम यात्रा में गांव वाले प्यार लुटाते रहे

 सीमा पर शहीद हुए झारखंड के दो लाल पंचतत्व में विलीन, अंतिम यात्रा में गांव वाले प्यार लुटाते रहे
पीबी ब्यूरो ,   Jun 19, 2020

सरहद पर गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ बहादुरी से लड़कर शहीद हुए झारखंड के दो लाल कुंदन ओझा और गणेश हांसदा शुक्रवार को पंचतत्व में विलीन हो गए. कुंदन ओझा का दाह संस्कार साहिबगंज स्थित गंगा नदी के मुनीलाल श्मशान घाट पर किया गया. जबकि गणेश हांसदा का अंतिम संस्कार जमशेदरपुर जिला स्थित उनके पैतृक गांव कोसाफलिया में किया गया. 

दोनों वीर सूपतों के छोटे भाइयों ने मुखाग्नि दी. जबकि सेना ने फायरिंग कर सलामी दी. शव यात्रा में भारी भीड़ जुटी. गांव के लोग पहले से ही अपने वीर सपूत का इंतजार कर रहे थे. अंतिम यात्रा में भारत माता की जय, वंदे मातरम के नारे लगते रहे. 

इससे पहले तिंरगा में लिपटा दोनों जवानों का शव गांव पहुंचा. गणेश हांसदा का शव गुरुवार की शाम रांची एयरपोर्ट पर आ गया था. 

यहां से आज सुबह सेना के अधिकारी उसे लेकर कोलाफलिया के फुटबॉल मैदान पहुंचे. 


वहां से सेना के वाहन में पार्थिव शरीर को रख कर पूरे गांव में घुमाया गया. 

इसे भी पढ़ें: भारत में एक दिन में कोविड-19 के सबसे अधिक 14,516 मामले सामने आए

सेना के ट्रक के पीछे हजारों की संख्या में लोग शहीद गणेश हांसदा अमर रहे, वंदे मातरम आदि नारा लगाते चल रहे थे. 

इसके बाद शहीद का शव उनके घर के आंगन में लेकर जवान पहुंचे और परिजन को सौंपा. 


गणेश हांसदा के माता- पिता और भाई भाभी शव देखते ही फूट- फूट कर रोने लगे. इसके बाद परंपरा का निर्वहन किया गया और गणेश हांसदा के घर से कुछ ही दूर पर उनकी ही जमीन पर सैन्य सम्मान के साथ  दाह संस्कार किया गया. 

गणेश हांसदा के पार्थिव शरीर का इंतजार उनके मित्र और आसपास के कई आदिवासी गांवों के लोग तीन दिनों से कर रहे थे. जबकि प्रशासन ने उनके घर तक पहुंचमे के लिए कच्ची सड़क का निर्माण भी अच्छी तरह से करा दिया था. 

कोसाफालिया गांव में मुख्य सड़क और सभी घरों के सामने तिरंगा लगाया गया है. श्रद्धांजलि के लिए सोशल डिस्टेंसिंग के लिहाज से चूना का गोल घेरा बनाया गया था. 

शहीद को श्रद्धांजलि देने के लिए सांसद विद्युतवरण महतो, जिला परिषद उपाध्यक्ष राजकुमार सिंह, भाजपा नेता डॉ दिनेशानंद गोस्वामी, झामुमो नेता असित मिश्रा समेत काफी संख्या में लोग पहुंचे थे. 

गणेश हांसदा का शव जब गांव पहुंचा, तो कई जन प्रतिनिधि और प्रशासनिक अधिकारियों ने भी श्रद्धांजलि दी. 

उधर साहिबगंज के शहीद कुंदन कुमार ओझा के अंतिम यात्रा में 12 किलोमीटर तक लोग भारत माता की जय के नारे लगाते रहे.

इस दौरान शहीद के अंतिम दर्शन के लिए लोग सड़क किनारे, घरों के बाहर और छतों पर जुटे रहे.

उधर,गंगा घाट पर शमशान के किनारे अंतिम यात्रा के पहुंचने से पहले सैंकड़ों लोगों की भीड़ जुट गई. लोग शमशान घाट पर बने शेड के ऊपर चढ़कर बैठे रहे.

मौके पूर्व मंत्री व वरीय भाजपा नेता हेमलाल मुर्मू, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा समेत काफी संख्या में लोग मौजूद थे. 

इसे भी पढ़ें: पुरी में रथ यात्रा पर सुप्रीम कोर्ट की रोक, कहा- इजाजत दी तो भगवान जगन्नाथ माफ नहीं करेंगे

श्मशान घाट पर इतनी भीड़ थी की सैकड़ों की संख्या में लोग पेड़ व मकान की छत पर चढ़ गए थे. भीड़ को नियंत्रित करने में पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

आईपीएल 2020 के रंग में धौनी, साथियों के साथ चेन्नई पहुंचे
आईपीएल 2020 के रंग में धौनी, साथियों के साथ चेन्नई पहुंचे
वैक्सीन पर उठते सवालों के बीच रूस का दावा, दो सालों तक छू नहीं सकेगा वायरस
वैक्सीन पर उठते सवालों के बीच रूस का दावा, दो सालों तक छू नहीं सकेगा वायरस
राजस्थान विधानसभा में बोले सचिन पायलट, मैं जब तक बैठा हूं, सरकार सुरक्षित है
राजस्थान विधानसभा में बोले सचिन पायलट, मैं जब तक बैठा हूं, सरकार सुरक्षित है
वकील प्रशांत भूषण अवमानना के मामले में दोषी करार, सजा पर सुनवाई 20 अगस्त को
वकील प्रशांत भूषण अवमानना के मामले में दोषी करार, सजा पर सुनवाई 20 अगस्त को
तेजस्वी ने नीतीश और उनके मंत्री को घेरा, कोरोना के आंकड़ों पर पूछा- कौन सच्चा कौन झूठा?
तेजस्वी ने नीतीश और उनके मंत्री को घेरा, कोरोना के आंकड़ों पर पूछा- कौन सच्चा कौन झूठा?
झारखंडः पीटीआई के ब्यूरो चीफ पीवी रामानुजम ने खुदकुशी कर ली
झारखंडः पीटीआई के ब्यूरो चीफ पीवी रामानुजम ने खुदकुशी कर ली
 जीडीपी में गिरावट की नारायणमूर्ति की आंशका पर राहुल का तंज: ‘मोदी है तो मुमकिन है’
जीडीपी में गिरावट की नारायणमूर्ति की आंशका पर राहुल का तंज: ‘मोदी है तो मुमकिन है’
जानिए क्यों मिला खूंटी के दारोगा पुष्पराज को केंद्रीय गृह मंत्री पदक सम्मान
जानिए क्यों मिला खूंटी के दारोगा पुष्पराज को केंद्रीय गृह मंत्री पदक सम्मान
अलीगढ़ः बीजेपी विधायक का आरोप, पुलिस ने पीटा, कार्यकर्ताओं ने थाना घेरा, तनाव
अलीगढ़ः बीजेपी विधायक का आरोप, पुलिस ने पीटा, कार्यकर्ताओं ने थाना घेरा, तनाव
रूस की कोरोना वैक्सीन के बारे जानकारों की अलग-अलग राय?
रूस की कोरोना वैक्सीन के बारे जानकारों की अलग-अलग राय?

Stay Connected

Facebook Google twitter