'महाभारत' में इंद्र का किरदार निभाने वाले अभिनेता के पास दवा और खाने का पैसा भी नहीं

 'महाभारत' में इंद्र का किरदार निभाने वाले अभिनेता के पास दवा और खाने का पैसा भी नहीं
Courtesy- Filmy Beat
पीबी ब्यूरो ,   May 23, 2020

टीवी धारावाहिक 'महाभारत' समेत कई हिंदी और पंजाबी फिल्‍मों में काम कर चुके अभिनेता सतीश कौल इन दिनों मुफलिसी में हैं. उनके पास दवा और खाने तक का पैसा नहीं है. लॉकडाउन ने उनकी आर्थिक स्थिति को और बिगाड़ दिया है.

सतीश कौल ने टीवी सीरियल महाभारत में देवराज इंद्र का किरदार निभाया है. 

73 वर्ष के कौल ने प्‍यार तो होना ही था, आंटी नंबर 1, कर्मा, जंजीर, खेल,राम लखन,खूनी महल, इल्जाम जैसी फिल्‍मों के साथ 'विक्रम और बेताल' सरीखे शो में भी काम किया है. कौल 2011 के करीब मुंबई से पंजाब शिफ्ट हो गए थे.

उनके जीवन में एक दौर ऐसा था कि जब फिल्मों में काम के लिए वक्त नहीं बचता था. आज उनके पास दवा लेने के साथ दो वक्त के खाने के लिए पैसे नहीं है.

सतीश कौलने पीटीआई को बताया, ''मैं लुधियाना में एक किराए के छोटे से मकान में रह रहा हूं. मैं पहले ओल्‍ड एज में था. लेकिन, अब अपनी एक परिचित सत्‍या देवी के साथ रह रहा हूं. लॉकडाउन से स्थितियां बिगड़ी हैं. मुझे दवा, ग्रॉसरी और अन्‍य बुनियादी चीजों के लिए दिक्‍कतों का सामना करना पड़ रहा है.''

इसे भी पढ़ें: रेड जोन से बाहर निकली रांची अब ऑरेंज जोन में, कोरोना के 112 मरीजों में से 95 ठीक हुए

वे आगे कहते हैं, ''मैं इंडस्ट्री के लोगों से अपील करता हूं कि मेरी सहायता की जाए. मुझे एक एक्टर के तौर पर इतना प्यार मिला है. अब एक इंसान के तौर पर मुझे जरूरत है. अब लोग मुझे भूल गए हैं तो कई बात नहीं. मैं हमेशा दर्शकों का आभारी रहूंगा. 

सतीश कौल का कहना था, ''एक्टिंग को लेकर मेरी भूख अभी बाकी है. काश मेरे पास रहने के लिए जगह होती तो मैं वहां पर रह पाता. उम्मीद करता हूं कि कोई ना कोई फिल्ममेकर मुझे रोल देना चाहेगा. मैं किसी भी तरह के रोल में काम पसंद करूंगा''. 

उन्होंने बताया, ''2015 में मुझे हिप बोन में फ्रैक्‍चर हो गया. मुझे बाद में जो थोड़ा बहुत काम मिलता था, वह भी इसके चलते रुक गया. करीब ढाई साल के लिए मैं अस्‍पताल में भर्ती रहा. फिर मुझे मजबूरन ओल्‍ड एज होम जाना पड़ा. यहां मैंने दो साल गुजारे.''

इससे पहले सतीश कौल लुधियाना में एक्टिंग स्कूल खोलने में अपनी कमाई लगा दी थी. एक्टिंग स्कूल नहीं चल पाया. उनके सारे पैसे डूब गए.


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

मशहूर संगीतकार 42 साल के वाजिद खान नहीं रहे, साजिद-वाजिद की जोड़ी हुई अधूरी
मशहूर संगीतकार 42 साल के वाजिद खान नहीं रहे, साजिद-वाजिद की जोड़ी हुई अधूरी
मानसून ने केरल में दी दस्तक, अब मौसम बारिश वाला
मानसून ने केरल में दी दस्तक, अब मौसम बारिश वाला
राहुल गांधी की बात कांग्रेस के मुख्यमंत्री भी नहीं सुनतेः रविशंकर प्रसाद
राहुल गांधी की बात कांग्रेस के मुख्यमंत्री भी नहीं सुनतेः रविशंकर प्रसाद
कोरोना तेरे कारणः 124 वर्षों में पहली बार रद्द की गई बोस्टन मैराथन
कोरोना तेरे कारणः 124 वर्षों में पहली बार रद्द की गई बोस्टन मैराथन
मोदी सरकार 2.0 के एक साल पूरे: देश के नाम चिट्ठी में पीएम बोले- हमें अपने पैरों पर खड़ा होना होगा
मोदी सरकार 2.0 के एक साल पूरे: देश के नाम चिट्ठी में पीएम बोले- हमें अपने पैरों पर खड़ा होना होगा
झारखंडः 3 लाख 58 हजार लोग अब तक वापस लौटे, प्रवासी मजदूरों का डेटाबेस तैयार करा रही सरकार
झारखंडः 3 लाख 58 हजार लोग अब तक वापस लौटे, प्रवासी मजदूरों का डेटाबेस तैयार करा रही सरकार
ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में दी मंदिर-मस्जिद खोलने की इजाजत
ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में दी मंदिर-मस्जिद खोलने की इजाजत
छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का निधन
छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का निधन
बेबसी की इंतिहाः वृद्धा पेंशन को तरसता लातेहार का आदिवासी दंपती, बोले, 'जीते जी नसीब नहीं होगा'
बेबसी की इंतिहाः वृद्धा पेंशन को तरसता लातेहार का आदिवासी दंपती, बोले, 'जीते जी नसीब नहीं होगा'
चीन के साथ ताजा सीमा विवाद को लेकर नरेंद्र मोदी का मूड अच्छा नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप
चीन के साथ ताजा सीमा विवाद को लेकर नरेंद्र मोदी का मूड अच्छा नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप

Stay Connected

Facebook Google twitter