लालू के जन्म दिन पर मिले पुत्र तेजस्वी,खत लिखा,'वो लड़ रहे हैं आज भी, बिना थके,बिना झुके'

लालू के जन्म दिन पर मिले पुत्र तेजस्वी,खत लिखा,'वो लड़ रहे हैं आज भी, बिना थके,बिना झुके'
Facebook- Tejashwi Yadav
पीबी ब्यूरो ,   Jun 11, 2020

पूर्व मुख्यमंत्री और राजद प्रमुख लालू प्रसाद के जन्म दिन पर बिहार में नेता प्रतिपक्ष और छोटे पुत्र तेजस्वी यादव ने पिता से मुलाकात की.

तेजस्वी यादव ने पिता लालू यादव से मुलाकात के साथ ही बिहार के लोगों के नाम एक खत भी साझा किया है. इसका मजमून इमोशनल है. 

उन्होंने लिखा है, ''वो लड़ रहे हैं आज भी बिना थके, बिना झुके...और मुझे गर्व है बिहार के लोगों के हक के लिए उनकी इस लड़ाई में मैं भी भागा बना हूं. इसलिए उनके जन्म दिन पर प्रण लेता हूं कि बिहार के युवाओं, गरीबों को हर हालत में न्याय दिला कर रहूंगा. पिता जी के जन्म दिन पर हम कम से कम 73000 गरीबों को खाना खिलाएंगे''. 

तेजस्वी यादव ने बिहार को लेकर और भी कई बातों की चर्चा की है. इसमें बिहार के हालात के बारे में भी बताया है. 

चारा घोटाले में सजायाफ्ता लालू यादव रांची स्थित राजेंद्र आर्यविज्ञान संस्थान में भर्ती हैं. वे कई बीमारियों की चपेट में हैं. राजद के नेता,कार्यकर्ता भी अलग- अलग जगहों पर आज उनका जन्म दिन मना रहे हैं.  इस मौके पर जरूरमंदों को भोजन कराए जा रहे हैं. इधर लालू ने अस्पताल में जन्म दिन पर केक काटा और खुशियां बांटी.  

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस विधायकों को 25 करोड़ रुपए तक की पेशकश की गई है : अशोक गहलोत

यूपीए के घटक दलों के नेता भी लालू के नाम बधाई संदेश साझा कर रहे हैं. झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी ट्वीट करके बधाई दी है.  

कल ही पटना में तेजस्वी यादव ने कहा था  ''लालू जी के जन्म दिन को वेलोग गरीब सम्मान दिवस के रूप में मनाएंगे.  हमें गरीबों, वंचितों की चिंता है, जबकि बिहार में एनडीए की सरकार को चुनाव की चिंता है.'' 

इसकब बाद बुधवार की शाम तेजस्वी यादव अपने पिता से मिलने रांची पहुंचे. आज सुबह वे रिम्स गए. और पिता से मिलकर आशीर्वाद लिया.

उधर पटना में भी लालू का जन्म दिन मनाया जा रहा है. लालू के बड़े बेटे तेजप्रताप ने भी बधाई संदेश भेजा है. 

लालू यादव की पत्नी और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने भी ट्वीट कर जन्म दिन पर बधाई दी है. उन्होंने कहा है, ''प्रभु की कृपा आप पर ( लालू) बनी रहे. साजिश करने वालों ने भगवान कृष्ण को भी जेल भेज दिया था''. 

p>31 महीने से जेल मे हैं

गौरतलब है कि लालू लगभग 31 महीनों से जेल में बंद हैं. इसी साल 27 जनवरी को राबड़ी देवी भी रिम्स में लालू से मिली थीं. साथ में उनकी बेटी मीसा भारती भी थीं, जेल जाने के बाद राबड़ी-लालू की  यह पहली मुलाकात थी.

दोनों ने रिम्स के पेइंग वार्ड के कोरीडोर में लालू के साथ बैठीं और बातचीत की. इस दौरान घर-परिवार के अलावा बिहार की राजनीति पर भी चर्चा की  

चाईबासा से जुड़े अवैध निकासी के मामले में 23 दिसंबर 2017 को लालू को दोषी करार दिया गया था. रांची स्थित सीबीआई की विशेष अदालत ने इसी दिन लालू को न्यायिक हिरासत मे भेजा था. तब से वे जेल में बंद हैं. 

बिहार चुनाव नजदीक

कुछ ही महीनों के बाद बिहार में चुनाव है. यह चुनाव राजद गठनबंधन और एनडीए के  लिए बेहद अहम है. तेजस्वी यादव राजद की कमान संभाल रहे हैं. लोकसभा चुनाव में भी वही नेतृत्व कर रहे थे. 

हालांकि लोकसभा चुनाव में राजद, कांग्रेस और गठबंधन को करारी हाल का सामना करना पड़ा था. इस झटके से उबरने के लिए विधानसभा चुनाव में राजद दमखम से लड़ने की तैयारियों में जुटा है. तमाम समीकरण बताते हैं कि इस बार सत्ता संघर्ष बहुत तीखा होने वाला है.  

इसे भी पढ़ें: लॉकडाउन में सिर्फ ट्यूशन फीस लेंगे झारखंड के निजी स्कूलः मंत्री जगरनाथ महतो

लिहाजा इन दिनों तेजस्वी यादव सरकार और एनडीए पर लगातार व जमकर निशाना साध रहे हैं.

बिहार के चुनाव में इस बार प्रवासी मजदूर जो कोरोना संकट के दौरान दूसरे राज्यों से लौटे हैं उनकी भूमिका भी अहम होने जा रही है. लिहाजा सियासत का केंद्र बिंदु लॉकडाउन बना है. 

जाहिर है लालू प्रसाद जेल से ही अपने विरोधियों पर निशाना साधते रहे हैं और ट्वीटर के माध्यम से बिहार की नीतीश सरकार पर जमकर हमला बोलते रहते हैं. कोरोना महामारी और लॉकडाउन के दौरान कई प्रवासी मजदूरों की सड़क हादसों में मौत हो गई है. इसे लेकर ट्वीट के जरिए लालू ने भावुक अंदाज में कई बातें लिखी है.

वर्चुअल रैली 

उधर बीजेपी और जदयू साथ मिलकर चुनाव लड़ने के लिए तैयारियां तेज कर दी है. कोरोना और लॉकडाउन से उपजे गंभीर संकट के बीच अमित शाह की बिहार में हुई वर्चुअल रैली ने सियासत गर्म कर दिया है. 

बीजेपी नरेंद्र मोदी सरकार के  एक साल के कामकाज को भी भुनाने में अभी से और तेजी से जुट गई है. 

नीतीश का वर्चुअल सम्मेलन

बीजेपी की वर्चुअल रैली के बाद जदयू ने भी वर्चुअल कार्यकर्ता सम्मेलन किया.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस सम्मेलन के जरिए कार्यकर्ताओं से कहा कि हमें पिछले दो चुनावों में जीत सरकार के पांच वर्षों के कामकाज के आधार पर मिली है. अगली जीत भी इसी आधार पर मिलेगी. 

उन्होंने जदयू कार्यकर्ताओं को बिहार विधानसभा चुनाव में जीत के लिए 90 प्लस 10 का मंत्र दिया.

उनका कहना था कि सभी जदयू नेता व कार्यकर्ता सरकार के कामकाज को लोगों तक तथ्यों के साथ पहुंचाने में अपना 90 फीसदी समय लगाएं. 10 प्रतिशत समय विपक्ष के अनाप-शनाप बातों के जवाब देने पर खर्च कीजिए. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कांग्रेस के 'दिशाहीन' होने की धारणा को दूर करने के लिए पूर्णकालिक अध्‍यक्ष चुनना ही होगा: शशि थरूर
कांग्रेस के 'दिशाहीन' होने की धारणा को दूर करने के लिए पूर्णकालिक अध्‍यक्ष चुनना ही होगा: शशि थरूर
कोविड-19 : देश में मरने वालों का आंकड़ा 43 हजार पार, 15 लाख लोग ठीक भी हुए
कोविड-19 : देश में मरने वालों का आंकड़ा 43 हजार पार, 15 लाख लोग ठीक भी हुए
झारखंड आंदोलनकारी और सोशल एक्टिविस्ट बशीर अहमद नहीं रहे, शोक की लहर
झारखंड आंदोलनकारी और सोशल एक्टिविस्ट बशीर अहमद नहीं रहे, शोक की लहर
बीजेपी के नेता पहुंचे राजभवन, बताया, स्पीकर सरकार के इशारे पर बाबूलाल को नेता प्रतिपक्ष नहीं बना रहे
बीजेपी के नेता पहुंचे राजभवन, बताया, स्पीकर सरकार के इशारे पर बाबूलाल को नेता प्रतिपक्ष नहीं बना रहे
नई शिक्षा नीति पूरी तरह से लागू होगी, अब 'क्या सोचना है' नहीं 'कैसे सोचना है ' पर जोरः पीएम मोदी
नई शिक्षा नीति पूरी तरह से लागू होगी, अब 'क्या सोचना है' नहीं 'कैसे सोचना है ' पर जोरः पीएम मोदी
कोरोनाः तोड़े सारे रिकॉर्ड, देश में 24 घंटों में मिले 62 हजार से अधिक मरीज
कोरोनाः तोड़े सारे रिकॉर्ड, देश में 24 घंटों में मिले 62 हजार से अधिक मरीज
सुशांत केसः सीबीआई ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ दर्ज की एफआईआर
सुशांत केसः सीबीआई ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ दर्ज की एफआईआर
जम्मू-कश्मीरः मनोज सिन्हा बने नए उपराज्यपाल, जीसी मुर्मू ने इस्तीफा दिया
जम्मू-कश्मीरः मनोज सिन्हा बने नए उपराज्यपाल, जीसी मुर्मू ने इस्तीफा दिया
झारखंड में भी गूंज, अवधपुरी आए रघुनंदन ...
झारखंड में भी गूंज, अवधपुरी आए रघुनंदन ...
राम न्याय हैं, वे कभी अन्याय में प्रकट नहीं हो सकतेः राहुल गांधी
राम न्याय हैं, वे कभी अन्याय में प्रकट नहीं हो सकतेः राहुल गांधी

Stay Connected

Facebook Google twitter