वाराणसी से चुनाव लड़ रहे तेज बहादुर बोले, लोग पहचानें, असली चौकीदार कौन?

वाराणसी से चुनाव लड़ रहे तेज बहादुर बोले, लोग पहचानें, असली चौकीदार कौन?
Facebook
पीबी ब्यूरो ,   Apr 30, 2019

वाराणसी लोकसभा क्षेत्र से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ रहे सपा-बसपा गठबंधन के उम्मीदवार तेज बहादुर यादव ने कहा है कि लोगों को पहचानना चाहिए कि असली चौकीदार कौन है. 

सपा से उम्मीदवार बनाए जाने के बाद तेज बहादुर यादव ने अपनी जीत का भरोसा जताया है. समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में तेजबहादुर यादव ने कहा, "हमारे मुद्दे जवान, किसान और नौजवानों के लिए नौकरियां हैं. लोगों को पहचानना चाहिए कि देश का असली चौकीदार कौन है. मुझे जीत का भरोसा है." 

गौरतलब है कि तेज बहादुर यादव बीएसएफ में थे. और बीएसएफ में रहते हुए उन्होंने खराब खाने की शिकायत की थी, जिसके बाद उन पर कार्रवाई की गई और उन्हें बर्खास्त कर दिया गया था. तेज बहादुर उस वक्त काफी चर्चा में रहे. और एक बार फिर वे सुर्खियों में हैं जब समाजवादी पार्टी ने उन्हें प्रधानमंत्री के खिलाफ चुनाव लड़ने के लिए मैदान में उतारा है. 

नरेंद्र मोदी वाराणसी से चुनाव लड़ने के लिए नामांकन दाखिल कर चुके हैं. पिछले चुनाव में नरेंद्र मोदी ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी अरविंद केजरीवाल को वाराणसी सीट से  3 लाख 71 हजार 784 वोटों के भारी अंतर से हराया था. जबकि कांग्रेस प्रत्याशी अजय राय 75,614 वोटों के साथ तीसरे स्थान पर रहे थे. कांग्रेस ने फिर अजय राय को अपना उम्मीदवार बनाया है. 

समाजवादी पार्टी ने हाल ही में शालिनी यादव को वाराणसी से उम्मीदवार बनाया था. मगर सोमवार को समाजवादी पार्टी ने शालिनी यादव का टिकट काटकर तेज बहादुर यादव को अपना उम्मीदवार बनाया. 

इसे भी पढ़ें: राहुल गांधी की नागरिकता को लेकर केंद्र ने जारी किया नोटिस


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

पंचतत्व में विलीन हुए बेरमो विधायक और मजदूरों के नेता राजेंद्र बाबू
पंचतत्व में विलीन हुए बेरमो विधायक और मजदूरों के नेता राजेंद्र बाबू
लॉकडाउन विफल रहा, अब आगे की रणनीति बताएं पीएम मोदीः राहुल गांधी
लॉकडाउन विफल रहा, अब आगे की रणनीति बताएं पीएम मोदीः राहुल गांधी
 अब उत्तर प्रदेश का मजदूर दुनिया में जहां भी होगा सरकार उसके साथ खड़ी रहेगी : योगी आदित्यनाथ
अब उत्तर प्रदेश का मजदूर दुनिया में जहां भी होगा सरकार उसके साथ खड़ी रहेगी : योगी आदित्यनाथ
कोरोना का कहरः दुनिया के टॉप 10 देशों में भारत भी शामिल
कोरोना का कहरः दुनिया के टॉप 10 देशों में भारत भी शामिल
चाईबासा के प्रवासी आदिवासी की मौत, लाश पड़ी है वर्धा अस्पताल में, गम में डूबे हैं 15 मजदूर साथी
चाईबासा के प्रवासी आदिवासी की मौत, लाश पड़ी है वर्धा अस्पताल में, गम में डूबे हैं 15 मजदूर साथी
'अचानक लॉकडाउन लागू करना गलत था, हम इसे तुरंत समाप्त नहीं कर सकते'
'अचानक लॉकडाउन लागू करना गलत था, हम इसे तुरंत समाप्त नहीं कर सकते'
देश में 4 करोड़ प्रवासी मजदूर, अब तक 75 लाख घर लौटें हैं :गृह मंत्रालय
देश में 4 करोड़ प्रवासी मजदूर, अब तक 75 लाख घर लौटें हैं :गृह मंत्रालय
लॉकडाउन में किसानों की क्या मदद की गई और कर्जमाफी से क्यों मुंह मोड़ रही सरकारः सुदेश
लॉकडाउन में किसानों की क्या मदद की गई और कर्जमाफी से क्यों मुंह मोड़ रही सरकारः सुदेश
बोकारोः गांव की महिलाओं ने एक महिला को बेरहमी से पीटा, बाल काटे, खींचकर कपड़े खोले, 11 गिरफ्तार
बोकारोः गांव की महिलाओं ने एक महिला को बेरहमी से पीटा, बाल काटे, खींचकर कपड़े खोले, 11 गिरफ्तार
70 हजार भाड़ा देकर मुंबई से लौटे 7 मजदूर, बाबूलाल बोले, 'हेमंत जी, अफसर आपको सच बताते नहीं'
70 हजार भाड़ा देकर मुंबई से लौटे 7 मजदूर, बाबूलाल बोले, 'हेमंत जी, अफसर आपको सच बताते नहीं'

Stay Connected

Facebook Google twitter