तबरेज मॉब लिचिंगः आरोपियों के खिलाफ 302 में हत्या का चलेगा मुकदमा, पूरक चार्जशीट दाखिल

 तबरेज मॉब लिचिंगः आरोपियों के खिलाफ 302 में हत्या का चलेगा मुकदमा, पूरक चार्जशीट दाखिल
पीबी ब्यूरो ,   Sep 18, 2019

झारखंड में सरायकेला के तबरेज अंसारी की कथित मॉब लिंचिंग के मामले में झारखंड पुलिस ने यू टर्न लिया है. इस मामले में गिरफ्तार किए गए आरोपियों के खिलाफ अब आईपीसी की धारा 302 के तहत हत्या का मकदमा चलेगा. झारखंड पुलिस मुख्यालय ने इस बाबत एक बयान जारी किया है. 

इससे पहले इस मामले में सरायकेला पुलिस ने पोस्टमार्टम और बिसरा रिपोर्ट के आधार पर 11 आरोपियों के खिलाफ हत्या की धारा को बदलते हुए आईपीसी की धारा 304 के तहत गैर इरादत हत्या का मामला चलाने के लिए चार्जशीट दाखिल की थी. 

गौरतलब है कि इस घटना के कुछ ही घंटों बाद 11 आरोपियों को गिरफ्तार किया था. जबकि दो अन्य लोगों ने हाल ही में कोर्ट में सरेंडर किया है. यानी कुल तेरह लोग जेल में बंद हैं. 

इसके बाद तबरेज अंसारी की पत्नी शाइस्ता परवीन और अन्य परिजनों ने पुलिस की इस कार्रवाई पर आपत्ति जताई थी. दो दिनों पहले ही तबरेज अंसारी की पत्नी ने जिले के उपायुक्त और पुलिस अधीक्षक से मिलकर पूरी रिपोर्ट की मांग की थी. साथ ही धरने पर बैठने की चेतावनी दी थी. इसके साथ ही कई सामाजिक संगठनों ने भी पुलिस की चार्जशीट के विरोध में आवाज उठाने लगे. 

पुलिस महकमा ने बताया 

इसे भी पढ़ें: समर्थन अब और नहीं, जन संघर्ष समिति गुमला, मनिका और विशुनपुर सीट से लड़ेगी चुनावः जेरोम जेराल्ड

इस बीच झारखंड पुलिस की ओर से बुधवार को जारी बयान में बताया गया है कि सरायकेला-खरसावां जिले के धतकीडीह गांव में ग्रामीणों द्वारा चोरी के आरोप में पकड़ में आये तबरेज अंसारी की पिटाई मामले में संबंधित थाने में आईपीसी की धारा 147, 149, 342, 342, 323, 302 ओर 295ए के तहत मामला दर्ज किया गया था. 

पुलिस ने इस कांड में चल रहे अनुसंधान के दौरान आये तथ्यों और संकलित साक्ष्यों के आधार पर दो अन्य आरोपियों- विक्रम मंडल और अतुल महली के विरूद्ध बुधवार 18सितंबर को इन्हीं सब धाराओं के तहत आरोप पत्र समर्पित किया है. 

जबकि इस कांड में पूर्व के आरोप पत्र में 11 आरोपी- भीमसेन मंडल, कमल महतो, सुनामो प्रधान, प्रेम चंद्र महली उर्फ मंगला महली, सुमंत महतो, मदन नायक, चामु नायक, महेश महली, कुशल महली, सत्यनारायण नायक और प्रकाश मंडल उर्फ पप्पू मंडल के विरूद्ध भी नए सिरे से भादवि की धारा 302 के तहत पूरक आरोप पत्र समर्पित कर दिया गया है.

पोस्टमार्टम रिपोर्ट से बदली धारा 

पुलिस महकमा ने बताया है कि पूर्व में समर्पित आरोप पत्र के समय पुलिस को प्राप्त पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृत्यु का कारण हार्ट अटैक बताया गया था. इस मामले में बिसरा जांच के लिए सुरक्षित रखा गया था.

एफएसएल से बिसरा जांच प्रतिवेदन प्राप्त होने पर चिकित्सकों के द्वारा तबरेज अंसारी की मौत का कारण हार्ट अटैक बताया गया था, परंतु पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हृदय गति रुकने का कारण स्पष्ट नहीं था. 

लिहाजा न्यायहित एवं कांड के सफल आयोजन के लिए पुलिस ने उच्च चिकित्सा संस्थान एमजीएम के विशेषज्ञ चिकित्सकों के बोर्ड से मृतक की मृत्यु के स्पष्ट कारण की मांग की.

एमजीएम अस्पताल के विशेषज्ञ चिकित्सकों के बोर्ड ने बताया कि तबरेज अंसारी की मृत्यु का कारण कार्डियक अरेस्ट है, जो संभवतः उसकी गंभीर चोटों से शुरू हुई थी.

विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा मृतक तबरेज अंसारी की मृत्यु का कारण गंभीर चोट, हड्डी टूटने और कार्डिक अरेस्ट बताया गया.

साथ ही इस घटना के संबंध में वायरल वीडिया की सत्यता की भी जांच रिपोर्ट पुलिस को प्राप्त हो गयी है, जिसमें बताया गया है कि वायरल वीडियो में कोई छेड़छाड़ नहीं पाया गया.

इसलिए पूरक अनुसंधान में संकलित अतिरिक्त साक्ष्य के आधार पर पूर्व में आरोप पत्रित अभियुक्तों के विरूद्ध भी धारा 302 के तहत पूरक आरोप पत्र समर्पित किया गया है.

जून की घटना

गौरतलब है कि बीते 17 जून की रात सरायकेला जिले के धातकीडाह गांव में चोर बताकर तबरेज अंसारी की पिटाई की गई थी. पुलिस ने चोरी के आरोप में युवक को गिरफ्तार कर 19 जून को जेल भेज दिया था.

जबकि 22 जून को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. 24 साल के तबरेज खरसावां थाना क्षेत्र के कदमाडीहा गांव के रहने वाले थे. 

इससे पहले तबरेज की पिटाई को लेकर एक वीडियों भी सोशल साइट पर वायरल हुआ था. वीडियो में दिख रहा है कि तबरेज अंसारी को बिजली के खंभे में बांध कर पीटा जा रहा है.

इसे भी पढ़ें: बसपा के छह विधायकों के पालाबदल पर मायावती ने कहा, गैर भरोसेमंद और धोखेबाज है कांग्रेस

 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

रांची में राष्ट्रपति ने कहा, बेटियों की सफलता काबिले तारीफ, शिक्षा का उद्देश्य हो अच्छा इंसान बनाना
रांची में राष्ट्रपति ने कहा, बेटियों की सफलता काबिले तारीफ, शिक्षा का उद्देश्य हो अच्छा इंसान बनाना
दिल्ली हिंसाः चौकसी जारी, जाफराबाद में हालात सुधर रहे, एसएन श्रीवास्तव बने नए पुलिस कमिश्नर
दिल्ली हिंसाः चौकसी जारी, जाफराबाद में हालात सुधर रहे, एसएन श्रीवास्तव बने नए पुलिस कमिश्नर
दिल्ली हिंसाः कांग्रेस ने राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपा, कहा, सरकार नाकाम रही, निर्णायक कदम उठाएं
दिल्ली हिंसाः कांग्रेस ने राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपा, कहा, सरकार नाकाम रही, निर्णायक कदम उठाएं
दिल्ली हिंसाः मरने वालों की संख्या 32 तक पहुंची, अमरीका और रूस ने जारी की एडवायजरी
दिल्ली हिंसाः मरने वालों की संख्या 32 तक पहुंची, अमरीका और रूस ने जारी की एडवायजरी
पिछली सरकार ने झारखंड को लूट का चारागाह बनाया, सब जांच कराएंगेः मंत्री बन्ना गुप्ता
पिछली सरकार ने झारखंड को लूट का चारागाह बनाया, सब जांच कराएंगेः मंत्री बन्ना गुप्ता
कांग्रेस के हाथ खून से सने हैं, सोनिया गांधी का गृह मंत्री से इस्तीफा मांगना हास्यास्पद: बीजेपी
कांग्रेस के हाथ खून से सने हैं, सोनिया गांधी का गृह मंत्री से इस्तीफा मांगना हास्यास्पद: बीजेपी
पीएम मोदी ने दिल्ली में शांति की अपील की, सोनिया ने अमित शाह से मांगा इस्तीफा
पीएम मोदी ने दिल्ली में शांति की अपील की, सोनिया ने अमित शाह से मांगा इस्तीफा
राज्य सभा चुनाव एक मौका होगा, जब झारखंड में बीजेपी-आजसू नए सिरे से करीब आ सकती है
राज्य सभा चुनाव एक मौका होगा, जब झारखंड में बीजेपी-आजसू नए सिरे से करीब आ सकती है
सिल्ली की बेटी बबीता चमकी 'खेलो इंडिया' में, तीरंदाजी में कांस्य पदक
सिल्ली की बेटी बबीता चमकी 'खेलो इंडिया' में, तीरंदाजी में कांस्य पदक
दिल्ली हिंसाः मरने वालों की संख्या 20 हुई, एनएसए ने संभाली कमान
दिल्ली हिंसाः मरने वालों की संख्या 20 हुई, एनएसए ने संभाली कमान

Stay Connected

Facebook Google twitter