'छिड़ी है बड़ी लड़ाई, वे लोहरदगा मांग रहे थे, हमने कहा, आंदोलनकारियों की धरती छोड़ नहीं सकते'

'छिड़ी है बड़ी लड़ाई, वे लोहरदगा मांग रहे थे, हमने कहा, आंदोलनकारियों की धरती छोड़ नहीं सकते'
पीबी ब्यूरो ,   Nov 26, 2019

'आजसू पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष सुदेश कुमार महतो ने कहा है कि आजसू पार्टी के लिए इस राज्य के विषय, विचार और मुद्दे ही अहम हैं. चुनाव राज्य का हो रहा है, तो हम गांव की स्वराज की बात करेंगे. लोहरदगा वीरों और आंदोलनकारियों की धरती है. लोहरदगा की धरती ने ही आजसू पार्टी को सींचा है. बच्चा-बच्चा इससे वाकिफ है. इसलिए हमारे और आपके विचार मिलते हैं. इसी धरती के पुत्र हैं आंदोलनकारी कमल किशोर भगत. और चुनाव लड़ी हैं उनकी पत्नी नीरू शांति भगत. इसलिए यह धरती इस चुनाव में फैसला आंदोलनकारी की पत्नी के पत्र में सुनाएगी. 

वे आज लोहरदगा के किस्को में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि आंदोलनकारी कमलकिशोर भगत की पत्नी नीरूशांति भगत को वोट देकर जीत दिलायें, वे बहू बेटी के तौर पर आपकी सेवा करेगी.

सुदेश कुमार महतो ने कहा, ''हम आलोचना और निंदा की राजनीति में विश्वास नहीं करते. लेकिन जब दिल की और राज्य की जनता की जमीर की बात सामने आती है, तो किसी से भी ठन जाती है. लोहरदगा को ही लेकर हमारी लड़ाई ठनी है. वे लोहरदगा छोड़ने को कह रहे थे। हमने कहा, यह हो नहीं सकता. आड़ पर बैठकर हम तमाशा नहीं देख सकते. लड़ाई के मैदान में शहीद होना पसंद है''. 

आजसू प्रमुख ने यह भी कहा, ''यह झारखंड राज्य के लिए चुनाव है। इस चुनाव में विषय और मुद्दे भी राज्य के होंगे. झारखंड के मान सम्मान और स्वाभिमान की बात होगी. 370, राष्ट्रवाद, मंदिर की बात करने वालों से हमारे गांवों के लोग पूछ रहे हैं कि स्कूल भी तो मंदिर हैं, उस क्यों बंद कर दिए. हमारी प्रतिबद्धता है कि गांव की सरकार बनी, तो झारखंड में जितने स्कूल बंद किए गए हैं, उन्हें पहले दिन खोले जायेंगे. मदरसों में पढ़ने वाले बच्चे भी दोपहर के भोजन के हकदार हैं, इसलिए उनके लिए भी थाली सजाएंगे''

इसे भी पढ़ें: कोडरमाः एक ही परिवार के तीन मासूम बच्चे समेत पांच लोगों की हत्या

उन्होंने कहा कि किस्को और लोहदगा की जनता उन्हें खारिज करें, जो अचानक दल बदल कर वोट मांग रहे हैं. पंद्रह साल तक जिन्हें कोसते थे, उनके साथ गले लग गए हैं. जबकि कांग्रेस से चुनाव लड़ने वाले 'साहब' लालू राज में आंदोलनकारियों पर लाठियां बरसाते थे. तब वे पुलिस अधिकारी थे. झारखंड में अब जनसाधारण राज करेगा. वह शासन का हकदार होगा. अफसर आम आदमी के दरवाजे पर जाएंगे. अब दारोगा राज नहीं जनता का राज चलेगा.

आजसू प्रमुख ने कहा कि पारा शिक्षक, मदरसों के टीचर दिहाड़ी मजदूर से कम पर सेवा देते हैं. 25 पैसे थाली पर  पर रसोईया दीदी चूल्हा फूंकती है. गांव की सरकार बनेगी, तो ये तस्वीर बदल कर दिखा देंगे. हमें पता है कि पारा शिक्षक, सहिया, रसोईया, सेविका सब गांव के लोग हैं. और सत्ता में उन्हें आखिरी कतार का हिस्सा बना कर रखा गया है. 

सुदेश कुमार महतो ने कहा कि झारखंड वह जमीन है, जहां चौपाल और गांव के फैसले का कद्र होता है. लोगों के लिए वही सबसे ज्यादा अहम होते हैं. लेकि्न सत्ता और सिस्टम ने  उस अहमियत को हाशिये पर ला खड़ा किया है. महात्मा गांधी के विचारों और अवधारणा की सच्ची छवि स्वराज में ही देखी जा सकती है, तो उस अवधारण को हम झारखंड में कायम करेंगे. इसके लिए उन्होंने लोगों से गांव की सरकार बनाने की अपील की. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

मशहूर संगीतकार 42 साल के वाजिद खान नहीं रहे, साजिद-वाजिद की जोड़ी हुई अधूरी
मशहूर संगीतकार 42 साल के वाजिद खान नहीं रहे, साजिद-वाजिद की जोड़ी हुई अधूरी
मानसून ने केरल में दी दस्तक, अब मौसम बारिश वाला
मानसून ने केरल में दी दस्तक, अब मौसम बारिश वाला
राहुल गांधी की बात कांग्रेस के मुख्यमंत्री भी नहीं सुनतेः रविशंकर प्रसाद
राहुल गांधी की बात कांग्रेस के मुख्यमंत्री भी नहीं सुनतेः रविशंकर प्रसाद
कोरोना तेरे कारणः 124 वर्षों में पहली बार रद्द की गई बोस्टन मैराथन
कोरोना तेरे कारणः 124 वर्षों में पहली बार रद्द की गई बोस्टन मैराथन
मोदी सरकार 2.0 के एक साल पूरे: देश के नाम चिट्ठी में पीएम बोले- हमें अपने पैरों पर खड़ा होना होगा
मोदी सरकार 2.0 के एक साल पूरे: देश के नाम चिट्ठी में पीएम बोले- हमें अपने पैरों पर खड़ा होना होगा
झारखंडः 3 लाख 58 हजार लोग अब तक वापस लौटे, प्रवासी मजदूरों का डेटाबेस तैयार करा रही सरकार
झारखंडः 3 लाख 58 हजार लोग अब तक वापस लौटे, प्रवासी मजदूरों का डेटाबेस तैयार करा रही सरकार
ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में दी मंदिर-मस्जिद खोलने की इजाजत
ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में दी मंदिर-मस्जिद खोलने की इजाजत
छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का निधन
छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का निधन
बेबसी की इंतिहाः वृद्धा पेंशन को तरसता लातेहार का आदिवासी दंपती, बोले, 'जीते जी नसीब नहीं होगा'
बेबसी की इंतिहाः वृद्धा पेंशन को तरसता लातेहार का आदिवासी दंपती, बोले, 'जीते जी नसीब नहीं होगा'
चीन के साथ ताजा सीमा विवाद को लेकर नरेंद्र मोदी का मूड अच्छा नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप
चीन के साथ ताजा सीमा विवाद को लेकर नरेंद्र मोदी का मूड अच्छा नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप

Stay Connected

Facebook Google twitter