रांची के वरिष्ठ पत्रकार सतीश वर्मा का निधन

रांची के वरिष्ठ पत्रकार सतीश वर्मा का निधन
पीबी ब्यूरो ,   Feb 08, 2020

रांची के वरिष्ठ पत्रकार सतीश वर्मा का निधन हो गया है. वे कैंसर से जूझ रहे थे. शुक्रवार की रात उनकी तबीयत ज्यादा बिगड़ने पर रिम्स ले जाया गया, जहां उन्होंने अंतिम सांस ली.

उनका अंतिम संस्कार हरमू मुक्ति धाम में आज शाम किया जाएगा.  55 वर्षीय सतीश अभी रांची में दैनिक भास्कर में राजनीतिक संपादक के पद पर कार्यरत थे.

सतीश वर्मा अपने पीछे पत्नी, दो संतान (एक पुत्र, एक पुत्री) समेत भरा पूरा परिवार छोड़ गए हैं. उनकी बेटी आइआइटी मुंबई में पढ़ती हैं. 

उनके निधन पर पत्रकारिता जगत में शोक की लहर है. कई पत्रकारों ने रांची स्थित उनके आवास पर पहुंच कर श्रद्धांजलि दी. रांची प्रेस क्लब ने भी शोक प्रकट किया है. साथ ही फेसबुक पर कई पत्रकारों ने उनके साथ काम के अनुभवों को साझा किया है. 

अपनी मेहनत और लगन के बल पर उन्होंने छाया पत्रकार से कैरियर की शुरुआत कर रिपोर्टिंग और पत्रकारिता में एक जगह बनाई.

इसे भी पढ़ें: धनबादः कनकनी कोलियरी में गैस रिसाव, संकट में लोग, हालात काबू में करने की कोशिशें तेज

इससे पहले वे आज, देशप्राण, हिन्दुस्तान अखबार में काम कर चुके हैं. सीबीआइ, कोर्ट, प्रशासन और अपराध बीट पर भी उन्होंने लंबे दिनों तक काम किया.

दैनिक भास्कर समेत वरिष्ठ पत्रकार और राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश, हरिनायारण सिंह, दीपक अंबष्ठ, रजत कुमार गुप्ता, विजय नारायण सिंह, योगेश किसलय, किसलय, गिरिजा शंकर ओझा, फैसल अनुराग, प्रभात मजुमदार समेत कई लोगों ने पत्रकार के निधन पर शोक प्रकट किया है. 

इधर राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, विधानसभा अध्यक्ष रवींद्र नाथ महतो, आजसू पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष सुदेश कुमार महतो ने भी संवेदना प्रकट की है. शोक संदेश में उन्होंने कहा है कि सतीश वर्मा एक सुलझे पत्रकार के साथ नेक इंसान भी थे.  


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

जामिया-न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी हिंसा: आरोप पत्र दाखिल, शरजील इमाम पर उकसाने का आरोप
जामिया-न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी हिंसा: आरोप पत्र दाखिल, शरजील इमाम पर उकसाने का आरोप
नीतीश कुमार ने बेटे की तरह रखा, लेकिन उनसे भारी वैचारिक मतभेद हैं- प्रशांत किशोर
नीतीश कुमार ने बेटे की तरह रखा, लेकिन उनसे भारी वैचारिक मतभेद हैं- प्रशांत किशोर
5 से 18 अप्रैल तक रांची में सेना भर्ती रैली का आयोजन
5 से 18 अप्रैल तक रांची में सेना भर्ती रैली का आयोजन
'साल 2014 से ही प्रयास कर रहा था, पर बाबूलाल ठहरे जिद्दी, अब जाकर माने'
'साल 2014 से ही प्रयास कर रहा था, पर बाबूलाल ठहरे जिद्दी, अब जाकर माने'
सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला, महिलाओं को सेना में मिले स्थायी कमीशन और कमांड पोस्टिंग
सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला, महिलाओं को सेना में मिले स्थायी कमीशन और कमांड पोस्टिंग
बेतला नेशनल पार्क : बाघिन को जंगली भैंसों ने घेर कर मार डाला, जांच-पड़ताल जारी
बेतला नेशनल पार्क : बाघिन को जंगली भैंसों ने घेर कर मार डाला, जांच-पड़ताल जारी
बाबूलाल मरांडी के कार्यकाल में 'मेनहर्ट' को लेकर हुई गड़बड़ी की भी जांच होगीः जेएमएम
बाबूलाल मरांडी के कार्यकाल में 'मेनहर्ट' को लेकर हुई गड़बड़ी की भी जांच होगीः जेएमएम
वाराणसी दौरे पर पीएम मोदी, कहा, देश सिर्फ सरकार से नहीं हर नागरिक के संस्कार से बनता है
वाराणसी दौरे पर पीएम मोदी, कहा, देश सिर्फ सरकार से नहीं हर नागरिक के संस्कार से बनता है
जामिया लाइब्रेरी में पुलिस की बर्बरता पर जारी वीडियो पर उठते सवाल
जामिया लाइब्रेरी में पुलिस की बर्बरता पर जारी वीडियो पर उठते सवाल
रांची में चमकीं राजस्थान की भावना जाट, राष्ट्रीय रिकॉर्ड के साथ ओलिंपिक का टिकट मिला
रांची में चमकीं राजस्थान की भावना जाट, राष्ट्रीय रिकॉर्ड के साथ ओलिंपिक का टिकट मिला

Stay Connected

Facebook Google twitter