साहिबगंजः गंगा उफान पर, संकट गहराया, दियारा के बाद शहरी इलाकों में भी घुसा बाढ़ का पानी

साहिबगंजः गंगा उफान पर, संकट गहराया, दियारा के बाद शहरी इलाकों में भी घुसा बाढ़ का पानी
Publicbol
पीबी ब्यूरो ,   Sep 30, 2019

झारखंड में साहिबगंज के कई इलाके जलमग्न हो गए हैं. गंगा उफान पर है. दियारा इलाके में दर्जनों कच्चे घर धवस्त हो गए हैं. घरों के सामान गंगा में बह जा रहे हैं. लोग किसी तरह बचा सामान समेट कर सुरक्षित स्थानों की ओर जाते दिख रहे हैं. कई इलाकों में फसे लोगों को नाव के सहारे सुरक्षित स्थानों पर लाया जा रहा है

साथ ही शहरी इलाकों में भी बाढ़ का पानी घुस गया है. लिहाजा बचार और राहत के काम तेज किए गए हैं. इस बीच उपायुक्त राजीव रंजन ने अधिकारियों और एनडीआरएप की टीम के साथ बाढ़ से प्रभावित इलाकों का जायजा लिया और पीड़ित परिवारों से बातें की. 

जिला प्रशासन ने मुश्किलों से घिरे दियारा क्षेत्र से लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने को कहा है. जिला प्रशासन साहिबगंज, तालझारी ,राजमहल, उधवा के अंचल अधिकारियों को बाढ़ राहत शिविरों  प्रत्येक बुनियादी सुविधा उपलब्ध कराने को कहा है. स्वास्थ्य विभाग की टीमें भी तैयार की जा रही हैं. जिला प्रशासन ने हेल्पलइन नंबर भी जारी किए हैं. बाढ़ा प्रभावित परिवारों को राहत के सामान मुहैया कराए जा रहे हैं.  

एनडीआरएफ की टीमें कल से ही अलग- अलग इलाकों में लोगों को बचाने में जुटी है. शहर के हरिपुर, मठिया,भरतिया कालोनी सहित अन्य मुहल्ले में गंगा नदी के बाढ़ का पानी घुस गया है. शहरी और ग्रामीण इलाके में कम से कम 50 हजार की आबादी बाढ़ से मुश्किलों में घिरी है. राजमहल - मंगलहट - महाराजपुर मुख्य मार्ग (एनएच 80) पर 3 से 4 फीट बाढ़ का पानी बह रहा है. एहतियातन इस सड़क पर आवाजाही रोक दी गई है.

इसे भी पढ़ें: जेल में बंद झरिया विधायक संजीव की पत्नी रागिनी ने संभाला मैदान, पूर्णिमा भी टक्कर के लिए तैयार

उधर राजमहल क्षेत्र के सैदपुर, मोकिमपुर, घाटजवनी पंचायत पूरी तरह बाढ़ से प्रभावित हो गए हैं. सोमवार को राजमहल विधायक अनंत कुमार ओझा, प्रखंड विकास पदाधिकारी अजय रजक,जिला परिषद प्रतिनिधि राजेश मंडल,बीस सूत्री सदस्य सुदर्शन पासवान, मुखिया प्रतिनिधि दुर्गा मंडल ने इन क्षेत्रों का जायजा लिया.

डेड़गामा के उषा बेबा, माला बेबा, शंकर रविदास, राधा बेबा, फेकू मंडल, मलहाईटोला के झंल्लू मंडल, कन्हैयास्थान में रघुनाथ मंडल, शंकर मिश्रा, सुबोल मंडल, ओपीन मंडल, बासु मंडल, धीरेंद्र मंडल, सिकंदर मंडल, लखन मंडल, जोगन मंडल, दुर्गा मंडल के कच्चे मकान पूरी तरह धवस्त हो जाने की खबरें मिल रही है. इनके घरों के सारे सामान भी बरबाद हो गए हैं. वहीं घर टूट जाने से पीड़ित परिवार को रो-रो कर बुरा हाल है. 

उधर उधवा में भी गंगा का बढ़ता पानी संकट का सबब बना है. उधवा मुखिया संघ अध्यक्ष व पश्चिमी उधवा पंचायत के मुखिया मतीउर रहमान  ने बाढ़ग्रस्त इलाकों का भ्रमण कर लोगों का हाल- चाल जाना. इस दौरान उन्होंने बाढ़ पीड़ित परिवारों के बीच राहत के सामान बांटे. मुखिया का कहना है कि प्रशासन इस इलाके में मुकम्मल मदद करने में वइपल साबित हो रहा है.  


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

चाईबासाः नैहर में थी आदिवासी महिला, पति बीमार पड़े, तो साइकिल से नाप ली 50 किमी दूरी
चाईबासाः नैहर में थी आदिवासी महिला, पति बीमार पड़े, तो साइकिल से नाप ली 50 किमी दूरी
अच्छी पहलः ओडिशा ने 500 एमबीबीएस छात्रों को कोरोना मरीजों के इलाज के लिए प्रशिक्षित किया
अच्छी पहलः ओडिशा ने 500 एमबीबीएस छात्रों को कोरोना मरीजों के इलाज के लिए प्रशिक्षित किया
कोरोना रोका जा सके, इसके लिए छत्तीसगढ़ के जेलों से छोड़े गए 584 कैदी
कोरोना रोका जा सके, इसके लिए छत्तीसगढ़ के जेलों से छोड़े गए 584 कैदी
कोरोना का कहर, देश में संक्रमण के 2,902 मामले, मरने वालों की संख्या 68 हुई
कोरोना का कहर, देश में संक्रमण के 2,902 मामले, मरने वालों की संख्या 68 हुई
2 दिन में तबलीगी जमात के 647 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले जबकि 24 घंटों में 12 मरीजों की मौत
2 दिन में तबलीगी जमात के 647 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले जबकि 24 घंटों में 12 मरीजों की मौत
नर्सों से अभद्रता करने वाले तबलीगी जमात के लोगों पर लगेगा रासुका, छोड़ेंगे नहींः योगी आदित्यनाथ
नर्सों से अभद्रता करने वाले तबलीगी जमात के लोगों पर लगेगा रासुका, छोड़ेंगे नहींः योगी आदित्यनाथ
पीएम मोदी ने राज्यों से कहा, अगले कुछ हफ्तों में टेस्टिंग, ट्रेसिंग और क्वारंटाइन पर रहे जोर
पीएम मोदी ने राज्यों से कहा, अगले कुछ हफ्तों में टेस्टिंग, ट्रेसिंग और क्वारंटाइन पर रहे जोर
 धार्मिक स्थानों पर जमा होकर अव्यवस्था पैदा करने का यह वक्त नहीं है : ए आर रहमान
धार्मिक स्थानों पर जमा होकर अव्यवस्था पैदा करने का यह वक्त नहीं है : ए आर रहमान
देश में पांव पसारता कोरोना, संक्रमण के 1965 मामले, मरने वालों की संख्या 50
देश में पांव पसारता कोरोना, संक्रमण के 1965 मामले, मरने वालों की संख्या 50
कोरोना के बीच क्यों सुर्खियों में हैं डॉक्टर सुधीर डेहरिया
कोरोना के बीच क्यों सुर्खियों में हैं डॉक्टर सुधीर डेहरिया

Stay Connected

Facebook Google twitter