सउदी में बंधक बनाए गए रांची के मुफीज हुए मुक्त, बकरीद पर लौटे घर

सउदी में बंधक बनाए गए रांची के मुफीज हुए मुक्त, बकरीद पर लौटे घर
(बाएं में हैं मुफीज )
पीबी ब्यूरो ,   Aug 12, 2019

रांची के रहने वाले एक युवक मोहम्मद मुफीज को मुक्त करा लिया गया है. आज वे घर लौट रहे हैं. तीन महीने से सउदी अरब के रियाद में उन्हें बंधक बना कर रखा गया था.

मुफीज की बहन इशरत परवीन ने झारखंड सरकार के मुख्यमंत्री रघुवर दास से अपने भाई को मुक्त कराने की गुहार लगाई थी. उन्होंने बताया था कि जिस कंपनी में उसके भाई काम करते हैं उसने झूठे मुकदमे में डालकर बंधक बना रखा है. 

इसके बाद मुख्यमंत्री ने आला अधिकारियों को इस मामले में पहल करने को कहा था. इसके बाद नई दिल्ली स्थित झारखंड भवन के स्थानिक आयुक्त एमआर मीणा और मुख्यमंत्री के आप्त सचिव केपी बलियान ने विदेश मंत्रालय भारत सरकार और शुदी अरब में भारतीय दूतावास से संपक्र स्थापित कर पूरी स्थिति की जानकारी दी. कार्रवाई होती रही.

आखिरकार तीन महीने बाद मुफीज अपने वतन लौट सके. इससे पहले उन्हें दोषमु्क्त कराया गया. साथ ही इमरजेंसी पासपोर्ट सेत अन्य कागजात तैयार कराए गए, ताकि वो बारत लौट सके. आज तड़के मुफीज दिल्ली पहुंच चुके हैं. वहां से रांची के लिए रवाना हो गए हैं. 

खबरों के मुताबिक अप्रैल 2017 में मुफीज काम के लिए सुदी अरब गए थे. वहां एक कंपनी के साथ एक साल के अनुबंध पर काम शुरू किया. 2018 में जब उसने कंपनी से भारत वापस बेजने को कहा, तो इससे इनकार करते हुए और एक साल का अनबंध बढ़ा दिया गया.

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस से बीजेपी में शामिल हुए प्रदीप प्रसाद को क्या बगोदर से चुनाव लड़ाया जाएगा

इस साल अप्रैल में जब उन्होंने कंपनी (नियोक्ता) से कहा कि अब वो घर लौटना चाहता है. एक साल के बदले उससे दो साल काम कराया जा चुका है. इसके बाद उसे चोरी के झूठे मुकदमे में डाल दिया गया. 

मुफीज ने घर वालों को पूरी कहानी बताई. इसके बाद उनकी बहन ने सरकार से गुहाई लगाई. इस बीच मुख्यमंत्री ने भारतीय दूतावास रियाद और विदेश मंत्रालय के अधिकारियों का आभार जताया है. इधर मुफीज के इंतजार में उनके घर वाले भी पल- पल की खबरों पर नजर लगाए हुए हैं.

उन्हें इसकी खुशी है कि मुफीज बकरीद के मौके पर घर लौट रहे हैं. इससे पहले मुफीज ने दिल्ली में अधिकारियों से शुक्रिया कहा. साथ ही बताया कि किस तरह से कंपनी वाले परेशान कर रहे थे. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

निर्वाचन आयोग ने खुद को कलंकित किया, इसे भंग किया जाए, इसके सदस्यों की जांच हो: आनंद शर्मा
निर्वाचन आयोग ने खुद को कलंकित किया, इसे भंग किया जाए, इसके सदस्यों की जांच हो: आनंद शर्मा
ममता बनर्जी 5 मई को लेंगी मुख्यमंत्री पद की शपथ, लगातार तीसरा मौका
ममता बनर्जी 5 मई को लेंगी मुख्यमंत्री पद की शपथ, लगातार तीसरा मौका
हल्के लक्षण होने पर सीटी-स्कैन कराने का कोई लाभ नहीं- डॉ. रणदीप गुलेरिया
हल्के लक्षण होने पर सीटी-स्कैन कराने का कोई लाभ नहीं- डॉ. रणदीप गुलेरिया
शराब नहीं मिलने पर सैनिटाइजर पीने से दो की मौत, दो अन्य बीमार
शराब नहीं मिलने पर सैनिटाइजर पीने से दो की मौत, दो अन्य बीमार
अस्पतालों में बेड का इंतजार करना अधिक मौत की वजह हो सकती है-रणदीप गुलेरिया
अस्पतालों में बेड का इंतजार करना अधिक मौत की वजह हो सकती है-रणदीप गुलेरिया
गुजरात के भरूच में एक अस्पताल में आग लगने से 14 कोरोना मरीज समेत 16 की मौत
गुजरात के भरूच में एक अस्पताल में आग लगने से 14 कोरोना मरीज समेत 16 की मौत
भाजपा पश्चिम बंगाल में आराम से और पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाएगीः भूपेंद्र यादव
भाजपा पश्चिम बंगाल में आराम से और पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाएगीः भूपेंद्र यादव
वैक्सीन को लेकर हेमंत सरकार केंद्र पर दोष मत मढ़े,  राज्य के पास 6.44 लाख टीका उपलब्धः दीपक प्रकाश
वैक्सीन को लेकर हेमंत सरकार केंद्र पर दोष मत मढ़े, राज्य के पास 6.44 लाख टीका उपलब्धः दीपक प्रकाश
अमेरिका से चिकित्सा एवं राहत सामग्री की पहली खेप भारत पहुंची, कहा- कोविड से मिलकर लड़ेंगे
अमेरिका से चिकित्सा एवं राहत सामग्री की पहली खेप भारत पहुंची, कहा- कोविड से मिलकर लड़ेंगे
हेमंत सोरेन ने लगवाया कोरोना का टीका, बोले-अफवाहों पर ना दें ध्यान, वैक्सीन है जरूरी
हेमंत सोरेन ने लगवाया कोरोना का टीका, बोले-अफवाहों पर ना दें ध्यान, वैक्सीन है जरूरी

Stay Connected

Facebook Google twitter