रांचीः सांसद रामटहल चौधरी के समर्थकों का बीजेपी कार्यालय पर विरोध प्रदर्शन

रांचीः सांसद रामटहल चौधरी के समर्थकों का बीजेपी कार्यालय पर विरोध प्रदर्शन
पीबी ब्यूरो ,   Mar 24, 2019

रांची से बीजेपी के सांसद रामटहल चौधरी के समर्थकों ने रविवार को हरमू रोड स्थित पार्टी के प्रदेश कार्यालय के सामने विरोध- प्रदर्शन किया. बड़ी संख्या में बीजेपी कार्यालय के पास पहुंचे कार्यकर्ताओं सांसद के समर्थन में नारेबाजी की.

रांची सांसद के समर्थक और बीजेपी कार्यकर्ता इस बात पर नाराज हैं कि रांची से प्रबल दावेदार रामटहल चौधरी का टिकट क्यों रोक कर रखा गया है. 

समर्थकों का यह भी दावा है कि झारखंड में एक जमीनी नेता को चुनाव लड़ने से रोका जा रहा है. हर हाल में रामटहल चौधरी को टिकट देना होगा. बीजेपी कार्यकर्ताओं ने आशंका जताई है कि रामटहल चौधरी की राह में जानबूझ कर रोड़ा लगाया जा रहा है. 

इससे पहले रामटहल चौधरी ने बूटी में बीजेपी के कार्यकर्ताओं और समर्थकों के साथ बैठक कर मौजूदा परिस्थितियों पर चर्चा की. इस बैठक मे रांची के अलग- अलग इलाके से कार्यकर्ता जुटे थे.

बूटी में बैठक करते रामटहल चौधरी

सांसद ने कहा है कि उन्होंने कहा कि रांची की सीट को अपनी मेहनत और काम से एक नंबर का बनाकर रखा है. लेकिन न जाने क्यों रांची से उनकी दावेदारी को रोक कर रखा गया है. उन्होंने यह भी कहा कि जरूर किसी ने तिकड़म लगा रखा है जिससे यह स्थिति उत्पन्न हुई है. 

इसे भी पढ़ें: गोलबंदी की हुंकार, चार सीटों पर चुनाव लड़ेगी झारखंड जनतांत्रिक महासभा

गौरतलब है कि शनिवार की देर शाम दिल्ली में बीजेपी ने झारखंड से दस उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की थी. खूंटी से पार्टी ने कड़िया मुंडा का टिकट काट दिया है. जबकि रांची, कोडरमा और चतरा पर फैसला लेना बाकी है. रामटहल चौधरी रांची से पांच बार चुनाव जीते हैं. पिछले चुनाव में उन्होंने कांग्रेस के सुबोधकांत सहाय को लगभग दो लाख वोटों से हराया था. 

टिकट नहीं मिला, तो क्या करेंगे, इस सवाल पर बीजेपी सांसद का कहना है, ''यह आगे की बात है. इस पर अभी कोई जवाब नहीं दिया जा सकता. केंद्रीय नेतृत्व पर हमें भरोसा है. कार्यकर्ता और समर्थक भी हमारे पक्ष में हैं. और क्षेत्र की जनता भी चाहती है कि हमें चुनाव लड़ाया जाए''. 

बीजेपी के अंदरखाने इसकी चर्चा जोरों पर है कि उम्र को लेकर रामटहल चौधरी का टिकट काटा जा सकता है. चौधरी, 78 साल के हैं. उधर कड़िया मुंडा 83 साल के हैं.  

इस बीच बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ ने कहा है कि 75 साल से अधिक उम्र के उम्मीदवारों को पार्टी नीति के तहत चुनाव के मैदान में नहीं उतार रही है. रामटहल चौधरी भी उसी घेरे में आते हैं. पार्टी में इन नेताओं को अब दूसरी जिम्मेदारी दी जाएगी. चुनाव के अलावा संगठन के काम भी महत्वपूर्ण होते हैं. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

राहुल गांधी की बात कांग्रेस के मुख्यमंत्री भी नहीं सुनतेः रविशंकर प्रसाद
राहुल गांधी की बात कांग्रेस के मुख्यमंत्री भी नहीं सुनतेः रविशंकर प्रसाद
कोरोना तेरे कारणः 124 वर्षों में पहली बार रद्द की गई बोस्टन मैराथन
कोरोना तेरे कारणः 124 वर्षों में पहली बार रद्द की गई बोस्टन मैराथन
मोदी सरकार 2.0 के एक साल पूरे: देश के नाम चिट्ठी में पीएम बोले- हमें अपने पैरों पर खड़ा होना होगा
मोदी सरकार 2.0 के एक साल पूरे: देश के नाम चिट्ठी में पीएम बोले- हमें अपने पैरों पर खड़ा होना होगा
झारखंडः 3 लाख 58 हजार लोग अब तक वापस लौटे, प्रवासी मजदूरों का डेटाबेस तैयार करा रही सरकार
झारखंडः 3 लाख 58 हजार लोग अब तक वापस लौटे, प्रवासी मजदूरों का डेटाबेस तैयार करा रही सरकार
ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में दी मंदिर-मस्जिद खोलने की इजाजत
ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में दी मंदिर-मस्जिद खोलने की इजाजत
छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का निधन
छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का निधन
चीन के साथ ताजा सीमा विवाद को लेकर नरेंद्र मोदी का मूड अच्छा नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप
चीन के साथ ताजा सीमा विवाद को लेकर नरेंद्र मोदी का मूड अच्छा नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप
लॉकडाउन के बाद गेंदबाजों के लिए लय हासिल करना मुश्किल होगा : ब्रेट ली
लॉकडाउन के बाद गेंदबाजों के लिए लय हासिल करना मुश्किल होगा : ब्रेट ली
शिक्षा मंत्री पहले अपने काम और कद को समझें, बाहर कुछ कहते हैं अंदर कुछः चंद्रप्रकाश चौधरी
शिक्षा मंत्री पहले अपने काम और कद को समझें, बाहर कुछ कहते हैं अंदर कुछः चंद्रप्रकाश चौधरी
रांचीः क्वारंटाइन में रहने के बाद गांधीनगर अस्पताल के डॉक्टर, नर्स ने फिर संभाला मोर्चा
रांचीः क्वारंटाइन में रहने के बाद गांधीनगर अस्पताल के डॉक्टर, नर्स ने फिर संभाला मोर्चा

Stay Connected

Facebook Google twitter