रांची की ऋचा को कुरान बांटने का आदेश कोर्ट ने वापस लिया

 रांची की ऋचा को कुरान बांटने का आदेश कोर्ट ने वापस लिया
Facebook
पीबी ब्यूरो ,   Jul 17, 2019

फेसबुक पर कथित आपत्तिजनक टिप्पणी मामले में रांची की ऋचा भारती को कुरान की पांच प्रतियां बांटने का आदेश कोर्ट ने वापस ले लिया है.

कुरान की पांच प्रतियां बांटने की शर्त को लागू करने में मुश्किलों को देखते हुए और सहायक लोक अभियोजक की गुजारिश पर कोर्ट ने इस आदेश को वापस ले लिया. 

सोशल साइट पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने को लेकर 12 जुलाई को सदर अंजुमन कमेटी, पिठोरिया द्वारा थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी. इसके बाद पिठोरिया पुलिस ने ऋचा को गिरफ्तार कर जेल भेजा था. 

15 जुलाई

सोमवार, 15 जुलाई को रांची के न्यायिक दंडाधिकारी मनीष कुमार सिंह की अदालत में मामले की सुनवाई हुई. इस दौरान अदालत ने ऋचा को सशर्त जमानत दी थी. शर्त के तहत ऋचा को पांच कुरान की प्रतियां बाटंनी थी.

इसे भी पढ़ें: अब चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण 22 जुलाई को

दऱअसल ऋचा की जमानत अर्जी पर सुनवाई के दौरान अदालत ने कहा कि युवती को पांच कुरान दान करना होगा. इनमें से एक कुरान सूचक सदर अंजुमन कमेटी पिठोरिया के मंसूर खलीफा को देना होगा. अन्य चार कुरान सरकारी स्कूल, कॉलेज या विश्वविद्यालय में स्वयं जाकर दान देने को कहा गया.

इसी शर्त पर जमानत अर्जी स्वीकार की गई.  नियम व शर्तों को 15 दिनों के अदंर पूरा करने का निर्देश दिया गया है. साथ ही अदालत ने कुरान दान के दौरान युवती को सुरक्षा मुहैया कराने का निर्देश पुलिस प्रशासन को दिया है.

इसके साथ ही अदालत ने सात-सात हजार के दो निजी मुचलके पर जमानत की अर्जी स्वीकार की. शर्तों के आधार पर एक जमानतदार रिश्तेदार एवं दूसरा जमानतदार स्थानीय निवासी बना.

16 जुलाई

लेकिन जेल से बाहर आने के बाद ऋचा ने मीडिया से बातचीत में कहा था कि अदालत की यह शर्त उन्हें ठीक नहीं लग रहा. वे इस फैसले के खिलाफ हाइकोर्ट जा सकती हैं. 

इसके बाद बीजेपी के की नेता और हिन्दूवादी संगठनों के लोग भी ऋचा भारती से मिलने गए थे. अदालत की इस शर्त के बाद सोशल सोइट पर प्रतिक्रियाओं का दौर शुरू हो गया था.

मीडिया से बात

मीडिया से ऋचा ने बातें की. और कहा कि अदालत कुरान बांटने कह रही है, कल नमाज पढने के लिए कहेगी, इस्लाम कबूल  यहां कहां तक जायज है. हमने किसी धर्म का अपमान नहीं किया है. सोशल साइट पर इस तरह के हजारों पोस्ट भरे पड़े हैं. 
हमने इसे नहीं लिखा, एक ग्रुप से पोस्ट आया तो शेयर कर दिया. हमारी बस इतनी ही गलती है. 

Richa Bharti, a student was directed by a Ranchi court to distribute 5 copies of Quran as condition for bail for posting an allegedly communal post on social media.She says,"Other communities also make such posts,have they ever been asked to recite Hanuman Chalisa&visit temples?" pic.twitter.com/GQCml3Qtfj

— ANI (@ANI) July 16, 2019

ऋचा ने मीडिया से यह भी कहा कि हमें कुरान बांटने को कहा गया है लेकिन यह मौलिक अधिकारों का हनन है, हमें अपना धर्म मानने का अधिकार है. उसने सवाल खड़ा करते हुए कहा कि मुझे जैसी सजा दी गई है क्या ऐसी ही सजा उन्हें (मुस्लिम समुदाय के लोग ) दी जाती है

थाना का घेराव

इसे भी पढ़ें: टोल पर नितिन गडकरी ने कहा, अगर अच्छी सेवाएं चाहिए तो उसकी कीमत भी चुकानी पड़ेगी

इससे पहले पिठौरिया के स्थानीय लोगों ने ऋचा की गिऱफ्तारी का विरोध किया था. साथ ही थाना के सामने प्रदर्शन किया था. स्थानीय लोगों का आरोप था कि इतनी जल्दीबाजी क्या थी कि शिकायत के बाद पुलिस ने तीन ही घंटे में युवती को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. इधर जमानत के बाद जेल से बाहर आने पर ऋचा के माता-पिता ने भी कोर्ट के आदेश को ठीक नहीं माना था. ऋचा के पिता ने कहा था कि वे वकील से परामर्श लेंगे. 

17 जुलाई

इस मामले के जांच अधिकारी ने इस आदेश को लागू कराने की मुश्किलें बताई. साथ ही आदेश को हटाने की अपील की थी, जिसे अदालत ने मान लिया है.

इधर कुरान बांटने के आदेश के ख़िलाफ़ रांची बार एसोसिएशन से जुड़े वकीलों ने बुधवार से न्यायिक दंडाधिकारी मनीष कुमार सिंह की कोर्ट में 48 घंटे तक न्यायिक कार्यों में भाग नहीं लेने का निर्णय लिया. एसोसिएशन के सचिव कुंदन प्रकाश ने मीडिया से बातचीत में यह भी कहा कि वेलोग न्यायिक दंडाधिकारी के तबादले की मांग कर रहे हैं. 

बुधवार को किसी भी अधिवक्ता ने मनीष कुमार की अदालत में हाजिरी नहीं लगाई और सिविल कोर्ट परिसर में विरोध प्रदर्शन भी किया.

बीजेपी खुश 

इधर बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल नाथ शाहदेव ने कोर्ट द्वारा कुरान बांटने का आदेश वापस लिए जाने पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि इस मामले में समाज में तेजी से फैल रही भ्रम की स्थिति खत्म हो सकेगी. आदेश वापस लेने से आम लोगों का न्यायालय पर भरोसा बढ़ेगा. 

इससे पहले प्रतुल शाहदेव, बीजेपी के संदीप वर्मा समेत कई लोग और हिन्दूवादी संगठनों के प्रतिनिधि ऋचा भारती के घर पर मिलने पहुंचे थे और उनकी माता- पिता से भी बातें की थी. 

ज़मानत पर जेल से बाहर आने के तीसरे दिन यानी बुधवार को भी उनके घर पर मीडिया और विभिन्न हिंदू संगठनों से जुड़े लोगों की भीड़ जुटी रही.

सनातन हिंदू समाज से जुड़े लोगों ने उनके घर जाकर गीता की पांच प्रतियां दीं और कहा कि क़ुरान बाँटने से बेहतर है कि रिचा श्रीमद भागवत गीता बांटें

इस बीच कोर्ट से कुरान बांटने के आदेश वापस लिए जाने के बाद हिंदूवादी संगठनों के लोग ऋचा के घर पहुंचकर उन्हें बधाईयां दी.  

इस बीच दिन में रांची के सामाजिक कार्यकर्ता नदीम ख़ान, मोहम्मद जाहिद तनवीर अहमद, साजिद उमर, अरशाद कुरैशी ने गुरुवार, 18 जुलाई को सामाजिक समरसता और सदभावना को लेकर रांची में गीता की प्रतियां बांटने की घोषणा की. लेकिन शाम में इस निर्णय को स्थागित कर दिया गया. 

 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

स्पाइसजेट का पायलट कोरोना वायरस से संक्रमित, चालक दल हुए होम क्वारंटाइन
स्पाइसजेट का पायलट कोरोना वायरस से संक्रमित, चालक दल हुए होम क्वारंटाइन
'मन की बात' में बोले पीएम मोदी, असुविधा के लिए क्षमा, पर इसके बिना कोई रास्ता नहीं था
'मन की बात' में बोले पीएम मोदी, असुविधा के लिए क्षमा, पर इसके बिना कोई रास्ता नहीं था
भारत में पांव पसारने लगा कोरोना वायरस, मरने वालों की संख्या 25, संक्रमितों की तादाद करीब 1000
भारत में पांव पसारने लगा कोरोना वायरस, मरने वालों की संख्या 25, संक्रमितों की तादाद करीब 1000
झारखंडः मदद में उतरी बीजेपी, गरीब और मजदूरों के बीच 'मोदी आहार' का वितरण शुरू
झारखंडः मदद में उतरी बीजेपी, गरीब और मजदूरों के बीच 'मोदी आहार' का वितरण शुरू
बचके रहिए, भारत में कोरोना वायरस के बढ़ने का सिलिसिला तेज, मरने वालों का आंकड़ा 19
बचके रहिए, भारत में कोरोना वायरस के बढ़ने का सिलिसिला तेज, मरने वालों का आंकड़ा 19
लॉक डाउन में नहीं आई बारात, दो सगी बहनों का ऑनलाइन निकाह
लॉक डाउन में नहीं आई बारात, दो सगी बहनों का ऑनलाइन निकाह
पहले देश, स्थिति सामान्य होने दें, फिर आईपीएल पर बात कर सकते हैं : रोहित
पहले देश, स्थिति सामान्य होने दें, फिर आईपीएल पर बात कर सकते हैं : रोहित
कोरोनाः नया टेस्ट विकसित, संक्रमण की पुष्टि सिर्फ ढाई घंटे में हो सकेगी
कोरोनाः नया टेस्ट विकसित, संक्रमण की पुष्टि सिर्फ ढाई घंटे में हो सकेगी
भारत में कोरोना वायरस के बढ़ने का सिलिसिला जारी, मरने वालों का आंकड़ा 17 पर पहुंचा
भारत में कोरोना वायरस के बढ़ने का सिलिसिला जारी, मरने वालों का आंकड़ा 17 पर पहुंचा
झारखंडः 137 सैंपल लिए गए, फिलहाल कोई पॉजिटिव नहीं, जिलों में भी खुला वार रूम
झारखंडः 137 सैंपल लिए गए, फिलहाल कोई पॉजिटिव नहीं, जिलों में भी खुला वार रूम

Stay Connected

Facebook Google twitter