रांचीः लॉ की छात्रा के साथ गैंग रेप के 11 अभियुक्तों को उम्र कैद की सजा, तीन महीने में ही आया फैसला

रांचीः लॉ की छात्रा के साथ गैंग रेप के 11 अभियुक्तों को उम्र कैद की सजा, तीन महीने में ही आया फैसला
Publicbol-File Phot0 (पिछले साल 29 नवंबर को गिरफ्तार किए गए थे अभियुक्त)
पीबी ब्यूरो ,   Mar 02, 2020

झारखंड की राजधानी रांची में कानून की पढ़ाई कर रही एक आदिवासी छात्रा के साथ गैंग रेप के मामले मे अदालत ने 11 अभियुक्तों को उम्र कैद की सजा सुनाई है. इससे पहले 26 फरवरी को उन्हें दोषी करार दिया गया था. 

रांची के न्यायायुक्त नवनीत कुमार की अदालत ने आरोपियों को यह सजा सुनाई है.

लोक अभियोजक एके सिंह ने बताया है कि यह  सजा वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सुनाई गई. सभी अभियुक्त रांची स्थित बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा में बंद हैं. उन्होंने अदालत से अभियुक्तों को सख्त सजा देने की अपीव की थी. 

झारखंड में ऐसा पहली बार हुआ है, जब दुष्कर्म के किसी मामले में कोर्ट ने महज तीन महीने के अंदर ही ट्रायल पूरा कर लिया हो. 

इस मामले की सुनवाई लगातार 46 दिनों तक चली. कुल 21 गवाह पेश किए गए थे. अभियुक्तों की तरफ़ से किसी ने गवाही नहीं दी.

इसे भी पढ़ें: क्यों पीएम मोदी सोशल मीडिया पर अपने सभी अकाउंट्स बंद करने जा रहे

वहीं, एक आरोपी नाबालिग है, जिसके खिलाफ जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड में सुनवाई चल चल रही है.

जिन 11 आरोपियों को सजा सुनाई गई है, उनमें कुलदीप उरांव, सुनील उरांव, संदीप तिर्की, अजय मुंडा, राजन उरांव, नवीन उरांव, बसंत कच्छप, रवि उरांव, रोहित उरांव, सुनील मुंडा, ऋषि उरांव शामिल है.

 तीन महीने में आया फैसला

यह घटना बीते साल 26 नवंबर की है. पीड़िता छात्रा ने 27 जनवरी को रांची के कांके थाना में मामला दर्ज कराया था. 

इसके बाद 29 फरवरी को रांची पुलिस ने 12 आरोपियों को गिरफ्तार किया था. उनके पास से घटना में इस्तेमाल पिस्टल और अन्य सामान भी पुलिस ने बरामद किया था. 

25 वर्षीय पीड़ित छात्रा रांची के नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ स्टडी एंड रिसर्च इन लॉ (एनयूएसआरएल) में सेकेंड ईयर की है.

जुटाए सभी साक्ष्य 

इन सभी पर कांके थाना के कांड संख्या 216/19 में आईपीसी की धारा 376D,120B के अलावा अनुसूचित जाति-जनजाति निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया था.

आईपीसी की ये धाराएं किसी महिला के साथ बलात्कार और साजिश के तहत मामले को अंजाम देना की ओर इंगित करती हैं. 

आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने जांच में तेजी दिखाते हुए इस मामले में 24 दिनों के अंदर कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर दी. जबकि अभियोजन की मजबूती के लिए सभी साक्ष्य जुटाए. 

कोर्ट में अभियोजन पक्ष की ओर से 21 गवाह पेश किए गए. वहीं, बचाव पक्ष की ओर एक भी गवाह नहीं आया. सुनवाई के दौरान कोर्ट के समक्ष अभियोजन पक्ष की ओर से डीएनए टेस्ट, मेडिकल रिपोर्ट सीसीटीवी फुटेज, कॉल रिकॉर्ड समेत अन्य साक्ष्य भी पेश किये गए.  

इसे भी पढ़ें: शिवसेना के मुखपत्र 'सामना' की 'संपादक' बनीं मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की पत्नी रश्मि ठाकरे

कैसे और कहां हुई घटना  

गैंग रेप के आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद रांची के ग्रामीण एसपी ऋषभ झा ने 29 नवंबर को प्रेस कांफ्रेस कर बताया था कि 26 फरवरी, मंगलवार की शाम छात्रा अपने पुरुष मित्र के साथ बिड़ला इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (बीआईटी) मेसरा से रिंग रोड होते हुए स्कूटी से हॉस्टल जा रही थी. 

इसी दौरान कांके इलाके में रिंग रोड पर एक बस स्टॉप पर बैठकर अपने दोस्त से बात करने लगी. इसी दौरान नशे में धुत कार से छह लोग पहुंचे. छात्रा पर कमेंट की. इसे छात्रा और उसके दोस्त ने अनसुना कर दिया.

कुछ देर बाद कार सवार फिर लौटे और अश्लील टिप्पणी करने लगे. छात्रा के दोस्त ने इसका विरोध किया तो आरोपियों ने उसकी पिटाई कर दी जिससे वह बेहोश हो गया.

इसके बाद छात्रा को अगवा कर संग्रामपुर गांव के ईंट-भट्ठे पर ले गए, जहां अपने दोस्तों को बुलाकर गैंग रेप किया. पुलिस ने इस मामले में जांच के लिए विशेष दल का गठन किया था. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

मशहूर संगीतकार 42 साल के वाजिद खान नहीं रहे, साजिद-वाजिद की जोड़ी हुई अधूरी
मशहूर संगीतकार 42 साल के वाजिद खान नहीं रहे, साजिद-वाजिद की जोड़ी हुई अधूरी
मानसून ने केरल में दी दस्तक, अब मौसम बारिश वाला
मानसून ने केरल में दी दस्तक, अब मौसम बारिश वाला
राहुल गांधी की बात कांग्रेस के मुख्यमंत्री भी नहीं सुनतेः रविशंकर प्रसाद
राहुल गांधी की बात कांग्रेस के मुख्यमंत्री भी नहीं सुनतेः रविशंकर प्रसाद
कोरोना तेरे कारणः 124 वर्षों में पहली बार रद्द की गई बोस्टन मैराथन
कोरोना तेरे कारणः 124 वर्षों में पहली बार रद्द की गई बोस्टन मैराथन
मोदी सरकार 2.0 के एक साल पूरे: देश के नाम चिट्ठी में पीएम बोले- हमें अपने पैरों पर खड़ा होना होगा
मोदी सरकार 2.0 के एक साल पूरे: देश के नाम चिट्ठी में पीएम बोले- हमें अपने पैरों पर खड़ा होना होगा
झारखंडः 3 लाख 58 हजार लोग अब तक वापस लौटे, प्रवासी मजदूरों का डेटाबेस तैयार करा रही सरकार
झारखंडः 3 लाख 58 हजार लोग अब तक वापस लौटे, प्रवासी मजदूरों का डेटाबेस तैयार करा रही सरकार
ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में दी मंदिर-मस्जिद खोलने की इजाजत
ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में दी मंदिर-मस्जिद खोलने की इजाजत
छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का निधन
छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का निधन
बेबसी की इंतिहाः वृद्धा पेंशन को तरसता लातेहार का आदिवासी दंपती, बोले, 'जीते जी नसीब नहीं होगा'
बेबसी की इंतिहाः वृद्धा पेंशन को तरसता लातेहार का आदिवासी दंपती, बोले, 'जीते जी नसीब नहीं होगा'
चीन के साथ ताजा सीमा विवाद को लेकर नरेंद्र मोदी का मूड अच्छा नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप
चीन के साथ ताजा सीमा विवाद को लेकर नरेंद्र मोदी का मूड अच्छा नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप

Stay Connected

Facebook Google twitter