राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवादः कोर्ट ने मुस्लिम पक्षकारों को लिखित नोट दाखिल करने की अनुमति दी

राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवादः कोर्ट ने मुस्लिम पक्षकारों को लिखित नोट दाखिल करने की अनुमति दी
पीबी ब्यूरो ,   Oct 21, 2019

उच्चतम न्यायालय ने दशकों पुराने राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले में उत्तर प्रदेश सुन्नी वक्फ बोर्ड समेत मुस्लिम पक्षकारों को अपने लिखित नोट दाखिल करने की सोमवार को अनुमति दी दी.

इस मामले में मुस्लिम पक्षकारों ने कहा है कि फैसले का देश की भविष्य की राज्यव्यवस्था पर ‘‘प्रभाव’’ पड़ेगा.

भाषा के मुताबिक मुस्लिम पक्षकारों के एक वकील ने प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अगुवाई वाली तीन सदस्यीय पीठ के समक्ष कहा कि उन्हें ‘मोल्डिंग ऑफ रिलीफ’ (राहत में बदलाव) पर उनके लिखित नोट रिकॉर्ड में लाने की अनुमति दी जाए ताकि पांच सदस्यीय संविधान पीठ इस पर गौर कर सके. संविधान पीठ ने राजनीतिक रूप से संवेदनशील इस मामले की 40 दिन सुनवाई करने के बाद 16 अक्टूबर को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है.

मामले में मुस्लिम पक्षकारों के एक वकील ने कहा कि विभिन्न पक्षों और शीर्ष अदालत की रजिस्ट्री ने मुस्लिम पक्षकारों द्वारा सीलबंद लिफाफे में अपने लिखित नोट दाखिल कराने पर आपत्ति जताई है.

उन्होंने कहा, ‘‘हमने रविवार को सभी पक्षकारों को अपने लिखित नोट भेज दिए.’’

इसे भी पढ़ें: धनबाद में बैठकर चंदवा के वनरक्षी के पैसे उड़ाए, तीन गिरफ्तार

उन्होंने न्यायालय ने अनुरोध किया कि वह उनके नोट को रिकॉर्ड में रखने का रजिस्ट्री को आदेश दे.

पीठ में न्यायमूर्ति एस ए बोबडे और न्यायमूर्ति एस ए नजीर भी शामिल हैं. पीठ ने कहा कि सीलबंद लिफाफे में जमा कराए गए लिखित नोट के बारे में मीडिया के कुछ वर्गों ने पहले ही खबर दे दी है. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

बीजेपी पीडीपी से हाथ मिला सकती है तो शिवसेना, एनसीपी-कांग्रेस के साथ क्यों नहीं : संजय राउत
बीजेपी पीडीपी से हाथ मिला सकती है तो शिवसेना, एनसीपी-कांग्रेस के साथ क्यों नहीं : संजय राउत
सोनिया गांधी, राहुल और प्रियंका की एसपीजी सुरक्षा वापस
सोनिया गांधी, राहुल और प्रियंका की एसपीजी सुरक्षा वापस
बीजेपी को सुदेश की रजामंदी का इंतजार, आजसू 16 से कम पर नहीं तैयार
बीजेपी को सुदेश की रजामंदी का इंतजार, आजसू 16 से कम पर नहीं तैयार
जनता के सामने बीजेपी का विकल्प है कांग्रेस-जेएमएम गठबंधनः आरपीएन सिंह
जनता के सामने बीजेपी का विकल्प है कांग्रेस-जेएमएम गठबंधनः आरपीएन सिंह
झारखंड़ में विपक्ष ने खोला मोर्चा, 43 सीटों पर लड़ेगा जेेएमएम, कांग्रेस के हिस्से 31 और राजद को 7 सीटें
झारखंड़ में विपक्ष ने खोला मोर्चा, 43 सीटों पर लड़ेगा जेेएमएम, कांग्रेस के हिस्से 31 और राजद को 7 सीटें
झारखंडः ये विधानसभा चुनाव है और नतीजे बताते हैं बीजेपी में शामिल होने से पसीने गुलाब नहीं होते
झारखंडः ये विधानसभा चुनाव है और नतीजे बताते हैं बीजेपी में शामिल होने से पसीने गुलाब नहीं होते
अयोध्या विवादः फैसले से पहले अलर्ट, 80 प्रमुख स्टेशनों पर सुरक्षा बढ़ाई गई
अयोध्या विवादः फैसले से पहले अलर्ट, 80 प्रमुख स्टेशनों पर सुरक्षा बढ़ाई गई
बेहतरीन अभिनेता संजीव कुमार पर लिखी जा रही जीवनी अगले साल प्रकाशित होगी
बेहतरीन अभिनेता संजीव कुमार पर लिखी जा रही जीवनी अगले साल प्रकाशित होगी
बीजेपी छोड़ जेएमएम में शामिल हुए समीर मोहंती, क्या बहरागोड़ा में कुणाल षाड़ंगी की नींद उड़ाएंगे
बीजेपी छोड़ जेएमएम में शामिल हुए समीर मोहंती, क्या बहरागोड़ा में कुणाल षाड़ंगी की नींद उड़ाएंगे
तमाम गतिरोध और अटकलों के बीच शिवसेना सांसद संजय राउत ने एनसीपी प्रमुख शरद पवार से की मुलाकात
तमाम गतिरोध और अटकलों के बीच शिवसेना सांसद संजय राउत ने एनसीपी प्रमुख शरद पवार से की मुलाकात

Stay Connected

Facebook Google twitter