रघुवर दास के पीएस अंजन के बंग्ला का ताला तोड़ कर सामान बाहर किया गया, खाली नहीं कर रहे थे

रघुवर दास के पीएस अंजन के बंग्ला का ताला तोड़ कर सामान बाहर किया गया, खाली नहीं कर रहे थे
SAMACHARWALA
पीबी ब्यूरो ,   May 31, 2020

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास के आप्त सचिव रहे अंजन सरकार के सरकारी आवास का ताला तोड़ कर सारा सामान बाहर कर दिया गया है. मजिस्ट्रेट और पुलिस फोर्स की मौजूदगी में यह कार्रवाई की गई. 

29 मई को भवन निर्माण विभाग के भवन प्रमंडल रांची-1 के कार्यपालक अभियंता ने इस बाबत रांची के सदर अनुमंडल अधिकारी को पत्र भेजा था. इस पत्र के जरिए आवास खाली कराने के लिए मजिस्ट्रेट और फोर्स देने का अनुरोध किया गया था.

आज दोपहर बाद मजिस्ट्रेट और पुलिस फोर्स की मौजूदगी में घर का सारा सामान बाहर निकाल दिया गया. सामान निकालने के लिए आधे दर्जन से अधिक मजदूर लगाए गए थे. 

यह आवास राजधानी रांची स्थित मेयर्स रोड में है. आवास का नंबर ई-2 है. यह आवास वर्तमान मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के आप्त सचिव विमल घोष को आवंटित किया गया है. 

कार्यपालक अभियंता ने सदर एसडीओ को बताया था कि अंजन सरकार पूर्व में उनके नाम पर आवंटित सरकारी आवास खाली नहीं कर रहे हैं, जबकि इसके लिए उन्हें 6 मई और 18 मई को दो बार पत्र लिखकर अनुरोध किया गया था. 

इसे भी पढ़ें: धनबाद नगर निगमः 200 करोड़ का प्राक्कलन घोटाला, एसीबी करेगी जांच, मेयर चंद्रशेखर अग्रवाल भी घेरे में

पिछले 29 मई को ही रघुवर दास ने सरकार की इस कार्रवाई का विरोध किया था. उन्होंने ट्वीट करके कहा, ''कोरोना महामारी में लॉकडाउन के कारण असम में फंसे मेरे पीएस अंजन सरकार का आवास खाली कराया जाना विद्वेषपूर्ण कार्रवाई है. वे नियमानुसार वहां रह रहा थे.महामारी के समय इस तरह की कार्रवाई को किसी प्रकार भी उचित नहीं ठहराया जा सकता है. यह महामारी अधिनियम के भी खिलाफ है''.

इधर आवास का ताला तोड़ कर सामान बाहर रखे जाने के बाद बीजेपी ने इस कार्रवाई का विरोध किया है.

पार्टी के उपाध्यक्ष आदित्य प्रसाद साहु ने बयान जारी कर कहा है कि लॉकडाउन में घर का सारा सामन  निकाल कर बाहर फेंकना अमानवीय कृत्य है. सरकारे आती जाती रहती हैं, लेकिन  लोकतंत्र की मर्यादा बनी रहनी चाहिए. प्रशासनिक पदाधिकारियों को भी इस तरह की कार्रवाई से बचना चाहिए. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कांग्रेस के 'दिशाहीन' होने की धारणा को दूर करने के लिए पूर्णकालिक अध्‍यक्ष चुनना ही होगा: शशि थरूर
कांग्रेस के 'दिशाहीन' होने की धारणा को दूर करने के लिए पूर्णकालिक अध्‍यक्ष चुनना ही होगा: शशि थरूर
कोविड-19 : देश में मरने वालों का आंकड़ा 43 हजार पार, 15 लाख लोग ठीक भी हुए
कोविड-19 : देश में मरने वालों का आंकड़ा 43 हजार पार, 15 लाख लोग ठीक भी हुए
झारखंड आंदोलनकारी और सोशल एक्टिविस्ट बशीर अहमद नहीं रहे, शोक की लहर
झारखंड आंदोलनकारी और सोशल एक्टिविस्ट बशीर अहमद नहीं रहे, शोक की लहर
बीजेपी के नेता पहुंचे राजभवन, बताया, स्पीकर सरकार के इशारे पर बाबूलाल को नेता प्रतिपक्ष नहीं बना रहे
बीजेपी के नेता पहुंचे राजभवन, बताया, स्पीकर सरकार के इशारे पर बाबूलाल को नेता प्रतिपक्ष नहीं बना रहे
नई शिक्षा नीति पूरी तरह से लागू होगी, अब 'क्या सोचना है' नहीं 'कैसे सोचना है ' पर जोरः पीएम मोदी
नई शिक्षा नीति पूरी तरह से लागू होगी, अब 'क्या सोचना है' नहीं 'कैसे सोचना है ' पर जोरः पीएम मोदी
कोरोनाः तोड़े सारे रिकॉर्ड, देश में 24 घंटों में मिले 62 हजार से अधिक मरीज
कोरोनाः तोड़े सारे रिकॉर्ड, देश में 24 घंटों में मिले 62 हजार से अधिक मरीज
सुशांत केसः सीबीआई ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ दर्ज की एफआईआर
सुशांत केसः सीबीआई ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ दर्ज की एफआईआर
जम्मू-कश्मीरः मनोज सिन्हा बने नए उपराज्यपाल, जीसी मुर्मू ने इस्तीफा दिया
जम्मू-कश्मीरः मनोज सिन्हा बने नए उपराज्यपाल, जीसी मुर्मू ने इस्तीफा दिया
झारखंड में भी गूंज, अवधपुरी आए रघुनंदन ...
झारखंड में भी गूंज, अवधपुरी आए रघुनंदन ...
राम न्याय हैं, वे कभी अन्याय में प्रकट नहीं हो सकतेः राहुल गांधी
राम न्याय हैं, वे कभी अन्याय में प्रकट नहीं हो सकतेः राहुल गांधी

Stay Connected

Facebook Google twitter