'मन की बात' में बोले पीएम मोदी, असुविधा के लिए क्षमा, पर इसके बिना कोई रास्ता नहीं था

'मन की बात' में बोले पीएम मोदी, असुविधा के लिए क्षमा, पर इसके बिना कोई रास्ता नहीं था
Twitter-BJP ( File Photo)
पीबी ब्यूरो ,   Mar 29, 2020

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ने कहा कि कोरोना वायरस जंग है और इस जंग को हम जरूर जीतेंगे. रेडियो के जरिए 'मन की बात' में अपने विचार देश की जनता के साथ साझा किए. उन्होंने कहा, ''आपको लक्ष्मण रेखा का पालन करना ही होगा. अगर आप लॉकडाउन के नियमों को तोड़गें तो कोरोना वायरस के संक्रमण की चपेट में आना ही होगा''. 

पीएम मोदी ने 'मन की बात' में कोरोना वायरस को हराने वाले कुछ लोगों व डॉक्टरों से भी बातें की.

उन्होंने कहा कि नियम तोड़ने वाले अपने जीवन के साथ बहुत बड़ा खिलवाड़ करेंगे. पीएम मोदी ने कहा कि वो असुविधा के लिए क्षमा चाहते हैं. प्रधानमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन के कारण लोगों को दिक्कतें हो रही हैं लेकिन ये करना जरूरी था. 

पीएम ने कहा कि वो लॉकडाउन से होने वाली समस्याओं के कारण वो क्षमा मांग रहे हैं.

उन्होंने कहा ''मुझे विश्वास है कि आप मुझे जरूर क्षमा करेंगे. कुछ ऐसे फैसले लेने पड़े हैं, जिसकी वजह से आपको परेशानी हुई है. गरीब भाई-बहनों से क्षमा मांगता हूं. आपकी परेशानी समझता हूं लेकिन 130 करोड़ देशवासियों को बचाने के लिए इसके सिवा और कोई रास्ता नहीं था, इसलिए ये कठोर कदम उठाना आवश्यक था. दुनिया की हालत देखने के बाद लगा था कि यही एक रास्ता बचा है. कि वो लॉकडाउन से होने वाली समस्याओं के कारण माफ़ी वो मांग रहे हैं.

इसे भी पढ़ें: नजाकत समझें और संभलें, भारत में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 32 हुई

पीएम मोदी ने कहा, बैंकिंग सेवाओं को हमने चालू रखा है. इस लड़ाई में वो जोखिम लेकर ऑफिस जा रहे हैं. बड़ी संख्या में होम डिलिवरी की सेवा में लोग लगे हुए हैं.

लॉकडाउन के दौरान यही वो लोग हैं जो लोगों की ज़रूरतें पूरी कर रही हैं. कोरोना के संक्रमण की चपेट में या क्वारांटइन में रहने वालों के साथ छुआछूत वाला व्यवहार नहीं होना चाहिए. ऐसा होता है तो यह दुखी करने वाला होगा.

पीएम मोदी ने कहा कि यह युद्ध जैसी स्थिति है और डॉक्टर उसी रूप में ले रहे हैं. पीएम ने इस दौरान एक डॉक्टर से भी बात की और डॉक्टर ने अनुभव भी साझा किया.


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

राहुल गांधी की बात कांग्रेस के मुख्यमंत्री भी नहीं सुनतेः रविशंकर प्रसाद
राहुल गांधी की बात कांग्रेस के मुख्यमंत्री भी नहीं सुनतेः रविशंकर प्रसाद
कोरोना तेरे कारणः 124 वर्षों में पहली बार रद्द की गई बोस्टन मैराथन
कोरोना तेरे कारणः 124 वर्षों में पहली बार रद्द की गई बोस्टन मैराथन
मोदी सरकार 2.0 के एक साल पूरे: देश के नाम चिट्ठी में पीएम बोले- हमें अपने पैरों पर खड़ा होना होगा
मोदी सरकार 2.0 के एक साल पूरे: देश के नाम चिट्ठी में पीएम बोले- हमें अपने पैरों पर खड़ा होना होगा
झारखंडः 3 लाख 58 हजार लोग अब तक वापस लौटे, प्रवासी मजदूरों का डेटाबेस तैयार करा रही सरकार
झारखंडः 3 लाख 58 हजार लोग अब तक वापस लौटे, प्रवासी मजदूरों का डेटाबेस तैयार करा रही सरकार
ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में दी मंदिर-मस्जिद खोलने की इजाजत
ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में दी मंदिर-मस्जिद खोलने की इजाजत
छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का निधन
छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का निधन
चीन के साथ ताजा सीमा विवाद को लेकर नरेंद्र मोदी का मूड अच्छा नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप
चीन के साथ ताजा सीमा विवाद को लेकर नरेंद्र मोदी का मूड अच्छा नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप
लॉकडाउन के बाद गेंदबाजों के लिए लय हासिल करना मुश्किल होगा : ब्रेट ली
लॉकडाउन के बाद गेंदबाजों के लिए लय हासिल करना मुश्किल होगा : ब्रेट ली
शिक्षा मंत्री पहले अपने काम और कद को समझें, बाहर कुछ कहते हैं अंदर कुछः चंद्रप्रकाश चौधरी
शिक्षा मंत्री पहले अपने काम और कद को समझें, बाहर कुछ कहते हैं अंदर कुछः चंद्रप्रकाश चौधरी
रांचीः क्वारंटाइन में रहने के बाद गांधीनगर अस्पताल के डॉक्टर, नर्स ने फिर संभाला मोर्चा
रांचीः क्वारंटाइन में रहने के बाद गांधीनगर अस्पताल के डॉक्टर, नर्स ने फिर संभाला मोर्चा

Stay Connected

Facebook Google twitter