रेल मंत्री पीयूष गोयल ने हेमंत से कहा,'जितनी ट्रेनें चाहेंगे, रेलवे देगा,पर आप अनुमति तो दें'

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने हेमंत से कहा,'जितनी ट्रेनें चाहेंगे, रेलवे देगा,पर आप अनुमति तो दें'
पीबी ब्यूरो ,   May 14, 2020

रेल मंत्री पीयुष गोयल ने कहा है कि झारखंड के प्रवासी मजदूरों की वापसी के लिए राज्य सरकार जितनी और जहां से भी ट्रेनें चाहेगी, रेलवे देगा. रेलवे रोज ट्रेन चलाने के लिए भी तैयार है. 

रेल मंत्री ने एक ट्वीट करके कहा है, ''देश के विभिन्न हिस्सों में रह रहे झारखंड के हमारे कामगारों ने देश के निर्माण और अर्थ व्यवस्था में अमूल्य योगदान दिया है. उन्हें घर पहुंचाने के लिए हम सहर्ष तैयार हैं. आप हमें इसकी अनुमति दें. देश के किसी भी स्थिति से झारखंड के लिए रोजोना ट्रेन चलाई जा सकती है''. 

पीयुष गोयल के इस ट्वीट के बाद झारखंड में बीजेपी विधायक दल के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने भी एक ट्वीट किया है. उन्होंने हेमंत सोरेन से कहा है, ''जब रेल मंत्री पीयूष गोयल झारखंड को ट्रेनें देने के लिए तैयार हैं, तो देर किस बात की हो रही.'' 

इस बीच रेल मंत्री और बाबूलाल मरांडी के ट्वीट को झारखंड मुक्ति मोर्चा ने दूसरे ढंग से लिया है. पार्टी ने भी एक ट्वीट किया है. इसमें कहा है कि ''अथाह निवेदन के बाद झारखंड के लिए रोजाना छह से सात ट्रेनें भेजे जाने की अनुमति मिली है. वैसे भी रेल मंत्री के अनुसार यहां आने वाली ट्रेनें बीजेपी के नेताओं द्वारा लाई जा रही हैं''. 

It pains me that several states such as West Bengal, Rajasthan, Chhattisgarh and Jharkhand, are not giving enough permissions for 'shramik special trains' to enter their states: Union Railways Minister Piyush Goyal pic.twitter.com/xWYoaTTT8W

— ANI (@ANI) May 14, 2020

इसे भी पढ़ें: 'बेबसी की इंतिहा उस मजदूर से पूछिए, जो पेट पर कपड़ा बांधे चला जा रहा'

गौरतलब है कि अब तक 6 लाख 85 हजार प्रवासी मजदूरों ने झारखंड लौटने के लिए अपना निबंधन कराया है. अब तक करीब 50 हजार लोग लौट चुके हैं. 

बुधवार की रात हेमंत सोरेन ने ट्वीट कर यह जानकारी दी थी. साथ ही उन्होंने कहा है कि दूसरे राज्यों में फंसे हर एक झारखंडी को वापस लाने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है. हेमंत सोरेन ने विपक्ष से भी आग्रह किया है कि वे केंद्र सरकार से अधिक ट्रेनें चलाने के लिए पत्रचार करें. 

जबकि प्रमुख विपक्षी दल बीजेपी पहले से कहती रही है कि झारखंड को ट्रेनें देने के लिए केंद्र सरकार और रेल मंत्रालय बेहद गंभीर है. 

इधर गुरुवार को तेलांगना से एक स्पेशल ट्रेन 1602 प्रवासी मजदूरों को लेकर कोडरमा पहुंची है. कोडरमा से सभी मजदूरों को उनके गृह जिलों में भेजा जा रहा है.

इधर बेंगलुरू से एक स्पेशल ट्रेन प्रवासी मजदूरों के लेकर रांची पहुंची है. रांची से मजदूरों को उनके गृह जिलों में भेज दिया गया है. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

मनोज तिवारी हटाए गए, आदेश गुप्ता को दिल्ली बीजेपी की कमान
मनोज तिवारी हटाए गए, आदेश गुप्ता को दिल्ली बीजेपी की कमान
भारत निश्चित ही अपनी आर्थिक वृद्धि फिर से हासिल करेगा, सुधारों से मिलेगी मदद: पीएम मोदी
भारत निश्चित ही अपनी आर्थिक वृद्धि फिर से हासिल करेगा, सुधारों से मिलेगी मदद: पीएम मोदी
सुर्ख़ियों में 12 साल की बच्ची निहारिका: बचाए पैसे से तीन मजदूरों को वापस झारखंड भेजा
सुर्ख़ियों में 12 साल की बच्ची निहारिका: बचाए पैसे से तीन मजदूरों को वापस झारखंड भेजा
झारखंड के लिए 2 समेत राज्य सभा की 18 सीटों पर 19 जून को होगा चुनाव, सरगर्मी तेज
झारखंड के लिए 2 समेत राज्य सभा की 18 सीटों पर 19 जून को होगा चुनाव, सरगर्मी तेज
जल संसाधन विभाग में पिछले तीन साल के सभी टेंडरों की जांच होगी, हेमंत ने दिए आदेश
जल संसाधन विभाग में पिछले तीन साल के सभी टेंडरों की जांच होगी, हेमंत ने दिए आदेश
मशहूर संगीतकार 42 साल के वाजिद खान नहीं रहे, साजिद-वाजिद की जोड़ी हुई अधूरी
मशहूर संगीतकार 42 साल के वाजिद खान नहीं रहे, साजिद-वाजिद की जोड़ी हुई अधूरी
मानसून ने केरल में दी दस्तक, अब मौसम बारिश वाला
मानसून ने केरल में दी दस्तक, अब मौसम बारिश वाला
क्या लॉकडाउन की परवाह नहीं करतीं कांग्रेस विधायक अंबा, केरेडारी की सभा में भीड़ से उठते सवाल
क्या लॉकडाउन की परवाह नहीं करतीं कांग्रेस विधायक अंबा, केरेडारी की सभा में भीड़ से उठते सवाल
चक्रधरपुरः सर्च ऑपरेशन के दौरान नक्सली हमले में एसडीपीओ का बॉडीगार्ड शहीद, एक एसपीओ की भी मौत
चक्रधरपुरः सर्च ऑपरेशन के दौरान नक्सली हमले में एसडीपीओ का बॉडीगार्ड शहीद, एक एसपीओ की भी मौत
राहुल गांधी की बात कांग्रेस के मुख्यमंत्री भी नहीं सुनतेः रविशंकर प्रसाद
राहुल गांधी की बात कांग्रेस के मुख्यमंत्री भी नहीं सुनतेः रविशंकर प्रसाद

Stay Connected

Facebook Google twitter