बोतल से फिर निकला फोन टैपिंग का जिन्नः क्या वाकई में अर्जुन मुंडा की भी जासूसी कराते थे रघुवर?

बोतल से फिर निकला फोन टैपिंग का जिन्नः क्या वाकई में अर्जुन मुंडा की भी जासूसी कराते थे रघुवर?
पीबी ब्यूरो ,   May 21, 2020

झारखंड में रघुवर दास की सरकार में कथित तौर पर कुछ नेताओं की फोन टैपिंग का मामला नए सिरे से सियासत में खदबदाहट पैदा करने लगा है.

दरअसल पूर्व आईपीएस अधिकारी तथा जमशेदपुर से पूर्व सांसद डॉ अजय कुमार के एक ट्वीट ने अचानक से इसे हवा दे दिया है. 

डॉ अजय ने कहा है, ''झारखंड में रघुवर दास की सरकार बीजेपी के कद्दावर नेता और केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, पूर्व मंत्री सरयू राय और बीजेपी के नेता अमरप्रीत सिंह काले समेत 400 लोगों की जासूसी कराती थी. जांच रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है. रघुवर दास के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज किया जाना जरूरी है''. 

डॉ अजय कुमार का कहना है कि इस मामले में एसआईटी जांच होनी चाहिए. सत्ता पक्ष के नेताओं के अलावा कुछ विपक्षी नेताओं की भी जासूसी कराई जाती थी. 

इसे भी पढ़ें: जिन स्कूलों में छात्र पढ़ रहे हैं उन्हीं में होंगी सीबीएसई की बाकी परीक्षाएं, रिजल्ट भी जल्दी

हाल ही में सरयू राय ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को पत्र लिखकर इस मामले में एसआईटी जांच पर जोर दिया है.

गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव के समय भी यह मामला सतह पर आया था. सरयू राय ने तब भी आरोप लगाया था कि प्रत्यक्ष- परोक्ष तौर पर उनकी जासूसी कराई जाती थी. 

इसी सिलिसले में पिछले 18 मई को एक अखबार की खबर पर सरयू राय का ट्वीट भी सुर्खियों में हैं, जिसमें उन्होंने कहा है, ''मैंने आज तक एक बार भी सरकार में शीर्ष पद पर बैठे किसी व्यक्ति पर वह आरोप नहीं लगाया है, जो गलत साबित हुआ हो. मेरे आरोप की जांच के बाद मुकदमा होने पर कोई जेल जाता है तो अपनी करनी से जाता है, मेरे कारण नहीं.'' 

हालांकि अर्जुन मुंडा ने एक इस मामले में कुछ भी कहने या इस तरह की कोई जानकारी रहने से साफ मना किया है. 

जबकि रघुवर दास का भी इस विवाद पर कभी कोई बयान नहीं आया है. वैसे डॉ अजय कुमार ने भी जांच रिपोर्ट का खुलासा नहीं किया है. आरोप जरूर लगाया है. 

जारी है जांच

खबरोंके मुताबिक राज्य सरकार के पूर्व मंत्री और वर्तमान में जमशेदपुर पूर्वी के विधायक सरयू राय के फोन टैपिंग के आरोपों की सीआईडी जांच चल रही है. 

सीआईडी की अबतक की जांच में यह तथ्य सामने आया है कि पूर्व एडीजी अनुराग गुप्ता के कार्यकाल में 372 मोबाइल नंबरों की टैपिंग हुई थी.

सीआईडी के तकनीकी सेल के द्वारा तक फोन टैप किया जाता था. हालांकि अबतक की जांच में यह बात सामने आई है कि किसी भी राजनीतिज्ञ या अधिकारी का मोबाइल नंबर टैप नहीं किया गया था. वैसे सीआईडी काफी संजीदगी से पूरे मामले की जांच कर रही है. 

डीजीपी को चिट्ठी

इसे भी पढ़ें: झारखंड में भाड़े की टैक्सी पर यात्रा की छूट, पर ये शर्तें भी जरूरी हैं

इससे पहले सरयू राय ने एक मई को राज्य के डीजीपी एमवी राव को पत्र लिखा था. पत्र लिख के सरयू राय ने पूर्ववर्ती सरकार में अपनी जासूसी का आरोप लगाया था. सरयू राय की शिकायत के बाद ही सीआईडी में फोन टैपिंग की जांच शुरू की गईं है.

हालांकि सीआईडी में अब तक कि जांच में सरयू राय के फोन टैपिंग की जांच की पुष्टि नहीं हुई है. जल्द ही सीआइडी अपनी जांच रिपोर्ट सरकार को सौपेगी.

सरयू राय के आरोपों पर स्पेशल ब्रांच में भी जांच की जा रही है. एक रिपोर्ट में समानांतर स्पेशल ब्रांच के दफ्तर चलने की जानकारी सरकार को दी गई है.

गौरतलब है कि सरयू राय ने एसआईटी बनाकर जांच करने की मांग भी मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से की है. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

मध्यप्रदेशः शिवराज कैबिनेट का पहला विस्तार, सिंधिया के साथ कांग्रेस छोड़कर आए 12 नेता भी मंत्री बने
मध्यप्रदेशः शिवराज कैबिनेट का पहला विस्तार, सिंधिया के साथ कांग्रेस छोड़कर आए 12 नेता भी मंत्री बने
चीनी एप्स पर बैन सरकार का डिजिटल स्ट्राइकः रविशंकर प्रसाद
चीनी एप्स पर बैन सरकार का डिजिटल स्ट्राइकः रविशंकर प्रसाद
कोरोनिल पर अब विवाद नहीं, पंतजलि के एक ट्रायल से मेडिकल साइंस में तूफान मचा हैः रामदेव
कोरोनिल पर अब विवाद नहीं, पंतजलि के एक ट्रायल से मेडिकल साइंस में तूफान मचा हैः रामदेव
अहम घोषणाः पीएम गरीब कल्याण योजना नवंबर तक जारी रहेगी
अहम घोषणाः पीएम गरीब कल्याण योजना नवंबर तक जारी रहेगी
टिकटॉक की सफाईः यूजर्स का डेटा चीन सहित किसी भी बाहरी देश से साझा नहीं किया
टिकटॉक की सफाईः यूजर्स का डेटा चीन सहित किसी भी बाहरी देश से साझा नहीं किया
रांचीः दिग्गज तीरंदाज दीपिका और अतनु दास परिणय सूत्र में बंधे
रांचीः दिग्गज तीरंदाज दीपिका और अतनु दास परिणय सूत्र में बंधे
कोई खालिस्तान नहीं चाहताः अमरिंदर सिंह
कोई खालिस्तान नहीं चाहताः अमरिंदर सिंह
झारखंड में गठबंधन का वास्ता दिया जेएमएम ने, बिहार चुनाव में राजद से 12 सीटें मांगी
झारखंड में गठबंधन का वास्ता दिया जेएमएम ने, बिहार चुनाव में राजद से 12 सीटें मांगी
रिवर्स माइग्रेशन शुरू, बिहार और यूपी के मजदूर महानगरों की तरफ फिर जाने लगे : चेयरमैन रेलवे बोर्ड
रिवर्स माइग्रेशन शुरू, बिहार और यूपी के मजदूर महानगरों की तरफ फिर जाने लगे : चेयरमैन रेलवे बोर्ड
मन की बात में बोले पीएम मोदी, हम आंख में आंख डालकर जवाब देना जानते हैं
मन की बात में बोले पीएम मोदी, हम आंख में आंख डालकर जवाब देना जानते हैं

Stay Connected

Facebook Google twitter