फोन पर उठे विवाद और सियासी बवाल के बीच लालू को रिम्स के केली बंगले से वार्ड में भेजा गया

फोन पर उठे विवाद और सियासी बवाल के बीच लालू को रिम्स के केली बंगले से वार्ड में भेजा गया
पीबी ब्यूरो ,   Nov 26, 2020

चारा घोटाले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव को रिम्स के केली बंगले से वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया है. अब वे पेइंग वार्ड में रहेंगे. 

जेल में रहकर फोन का इस्तेमाल करने के आरोप को लेकर उठे विवाद के बीच यह कार्रवाई की गई है. 

रिम्स प्रबंधन ने जेल अधिकारियों को पत्र भेजकर लालू प्रसाद को पेइंग वार्ड के 11 नंबर कमरे में शिफ्ट करने को कहा. लालू का इलाज कर रहे डॉक्टरों ने तय किया कि लालू प्रसाद को फिर से पेइंग वार्ड में शिफ्ट किया जा सकता है. 

कोरोना के खतरे की बात पर लालू को पिछले 18 अगस्त को पेइंग वार्ड से केली बंगले में लाया गया था. यह बंगला रिम्स के निदेशक के लिए है. उस समय बंगला खाली था. 

इससे पहले रांची के उपायुक्त छवि रंजन ने जेल आईजी से मिले निर्देश के बाद जेल अधीक्षक से रिपोर्ट मांगी है. जेल अधीक्षक से उपायुक्त ने पूछा है कि  जेल मैनुअल का क्यों नहीं पालन हो रहा है. लालू प्रसाद यादव तक मोबाइल कैसे पहुंचा? 24 घंटे के अंदर अधीक्षक से रिपोर्ट देने को कहा गया है. 

इसे भी पढ़ें: झारखंडः पूर्व मंत्री अकलू राम महतो का निधन

उधर गृह सचिव ने इसी प्रकरण पर बैठक कर जानकारी ली और जिला प्रशासन से रिपोर्ट देने को कहा है. 

हाईकोर्ट में याचिका

चारा घोटाले में सजायाफ्ता राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के खिलाफ जेल में रहते मोबाइल से बात करने और बिहार में सरकार गिराने का प्रयास करने का आरोप लगाते हुए भाजपा ने आज ही झारखंड हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की है.

भाजपा नेता अनुरंजन अशोक की ओर से दाखिल जनहित याचिका में कहा गया है कि लालू प्रसाद जेल में रहते मोबाइल फोन का इस्तेमाल कर सरकार को अस्थिर करने का प्रयास कर रहे हैं. यह जेल मैनुअल का उल्लंघन है.

जनहित याचिका के जरिए इसकी जांच कराने का आग्रह हाईकोर्ट से किया गया है कि जेल प्रशासन और सरकार उन्हें यह सुविधा किस नियम के तहत उपलब्ध करा रही है 

बीजेपी विधायक को फोन

गौरतलब है कि बीजेपी के वरिष्ठ नेता और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने मंगलवार की रात ट्वीट करके कहा था कि लालू यादव फोन कर एनडीए के विधायकों को मंत्री बनाने का प्रलोभन दे रहे हैं.

मोदी ने एक फोन नंबर भी जारी किया था. और दावा किया कि उन्होंने उसी नंबर पर  जब फोन किया, तो लालू ने उसे उठाया. 

बुधवार को सुशील कुमार मोदी ने ट्वीट पर वह कथित ऑडियो भी जारी किया. बिहार में बीजेपी के विधायक ललन पासवान भी मीडिया के सामने आए. उन्होंने कहा कि जब लालू ने फोन किया था तब वे सुशील कुमार मोदी के आवास पर ही थे. 

भाजपा के इस आरोप से बिहार से लेकर झारखंड में सियासत गर्माई है और लालू के साथ हेमंत सोरन की सरकार पर आरोप लगाए जा रहे हैं. 

बुधवार की हो झारखंड में भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने लालू पर आपराधिक मामला दर्ज किए जाने की मांग की. उधर बिहार भाजपा के अध्यक्ष संजय जायसवाल ने लालू को तिहाड जेल स्थानांतरित करने की मांग की. 

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस के कद्दावर नेता अहमद पटेल का निधन

इसके साथ ही भाजपा नेताओं ने हेमंत सोरेन की सरकार से सवाल पूछे कि एक सजायाफ्ता को इस तरह की छूट क्यों दी जा रही है. 

इस बीच आज विधयाक ललन पासवान ने पटना में लालू यादव के खिलाफ निगरानी थाना में केस दर्ज कराया है. 

रिपोर्ट नहीं दिए जाने पर हाईकोर्ट नाराज 

चारा घोटाले के सजायाफ्ता लालू प्रसाद के रिम्स में इलाज के दौरान पिछले तीन माह में उनसे मिलने वाले लोगों की सूची और जेल मैनुअल के पालन पर रिपोर्ट नहीं दिए जाने पर झारखंड हाईकोर्ट ने पहल् ही नाराजगी जाहिर की है.

चारा घोटाले के दुमका कोषागार से अवैध निकासी के मामले में जमानत के लिए लालू ने  झारखंड हाईकोर्ट में याचिका दायर की है.  

बीते छह नवंबर को इसी मामले में सुनवाई करते हुए कोर्ट ने नाराजगी जाहिर की. इस मामले में सुनवाई की अगली तिथि 27 नवंबर तय है.

जस्टिस अपरेश कुमारसिंह की अदालत ने राज्य के कारा महानिरीक्षक और बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा के अधीक्षक को शो कॉज करते हुए यह बताने को कहा है कि अदालत के आदेश के बाद भी यह जानकारी क्यों नहीं दी गयी.

पहले भी लगे थे आरोप

दरअसल इससे पहले भी ये आरोप  लगते रहे हैं कि वे केली बंगले से बिहार में चुनावी गतिविधयों को संचालित करते रहे हैं. 

चुनाव के दौरान राजद में टिकट के दावेदारों की इस बंगले के पास भीड़ भी लगती रही थी.

भाजपा ने बिहार चुनाव के दौरान झारखंड में हेमंत सोरोन की सरकार पर भी सवाल उठाए थे कि लालू को राजद नेताओं से मिलने के अलावा फोन पर बात करने के लिए ही केली बंगले में शिफ्ट किया गया है. 

हालांकि सरकार ने इन आरोपों को सख्ती से खारिज किया था. 

चारा घोटाले के मामलों में सजायाफ्ता लालू यादव  23 दिसंबर 2017 से जेल में हैं. जेल जाने के बाद वे कई बीमारी की चपेट में हैं. लिहाजा जेल से इलाज के लिए उन्हें रिम्स में भेजा गया. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

तांडव पर उठे विवादों के बीच निर्माताओं ने कहा, वेब सीरीज में बदलाव करेंगे
तांडव पर उठे विवादों के बीच निर्माताओं ने कहा, वेब सीरीज में बदलाव करेंगे
माओवादियों से ज्यादा खतरनाक है भाजपा, हम भगवा पार्टी के सामने सिर नहीं झुकाएंगे : ममता
माओवादियों से ज्यादा खतरनाक है भाजपा, हम भगवा पार्टी के सामने सिर नहीं झुकाएंगे : ममता
ऋषभ पंत के बल्ले से भारत चमका, ऑस्ट्रेलिया पर यादगार जीत से देश में खुशियों का कायनात
ऋषभ पंत के बल्ले से भारत चमका, ऑस्ट्रेलिया पर यादगार जीत से देश में खुशियों का कायनात
देश में 3 लाख 81 हजार लोगों को लगा टीका, प्रतिकूल असर के 580 मामले : स्वास्थ्य मंत्रालय
देश में 3 लाख 81 हजार लोगों को लगा टीका, प्रतिकूल असर के 580 मामले : स्वास्थ्य मंत्रालय
शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो की सेहत में सुधार, ठंड कम होने पर अस्पताल से वापस झारखंड आएंगे
शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो की सेहत में सुधार, ठंड कम होने पर अस्पताल से वापस झारखंड आएंगे
ममता बनर्जी का एलान, नंदीग्राम से लड़ेंगी चुनाव
ममता बनर्जी का एलान, नंदीग्राम से लड़ेंगी चुनाव
 ट्रैक्टर रैली पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा, यह कानून व्यवस्था का मामला, इसे पुलिस देखे
ट्रैक्टर रैली पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा, यह कानून व्यवस्था का मामला, इसे पुलिस देखे
ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन, हेमंत सोरेन 17 वें पायदान परः सर्वे
ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन, हेमंत सोरेन 17 वें पायदान परः सर्वे
 भारत मे टीकाकरण शुरूः पीएम मोदी बोले, 'मानव जब जोर लगाता है, पत्थर पानी बन जाता है'
भारत मे टीकाकरण शुरूः पीएम मोदी बोले, 'मानव जब जोर लगाता है, पत्थर पानी बन जाता है'
कानून व्यवस्था को लेकर पत्रकारों के पूछे सवाल पर जब नीतीश कुमार बमक गए
कानून व्यवस्था को लेकर पत्रकारों के पूछे सवाल पर जब नीतीश कुमार बमक गए

Stay Connected

Facebook Google twitter