पार्टी की प्रतिबद्धता का हिस्सा है 'शहीद नमन यात्रा'-रामचंद्र सहिस

पार्टी की प्रतिबद्धता का हिस्सा है 'शहीद नमन यात्रा'-रामचंद्र सहिस
Publicbol
पीबी ब्यूरो ,   Jul 06, 2019

जुगसलाई से आजसू के विधायक और हाल ही में मंत्री बने रामचंद्र सहिस ने कहा है कि 'शहीद नमन यात्रा' पार्टी की प्रतिबद्धता का हिस्सा है. मंत्री बनने के बाद हमारे लिए यह अवसर था कि उलगुलान के महानायक बिरसा मुंडा की जन्म स्थली उलिहातू से सिदो- कान्हू की धरती भोगनाडीह तक गए. 

इसी दौरान कोयलांचल के टुंडी में झारखंड आंदोलन के प्रणेता और पढ़ो,लड़ो और बढ़ो का नारा बुलंद करने वाले बिनोद बिहारी महतो का नमन किया. इसके बाद कोल्हान के इचागढ़ में धनंजय महतो और अजीत महतो के गांव जाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी. नमन यात्रा के दौरान झारखंड के वीर सपूतों के वंशज और घर वालों से मिलकर उनका हाल जाना. 

रामचंद्र सहिस ने कहा है कि आजसू पार्टी झारखंड के वीर सपूतों और शहीदों का सम्मान करती रही है. पार्टी प्रमुख सुदेश कुमार महतो का नजरिया रहा है कि वीर सपूतों के मान- सम्मान से ही झारखंड का स्वाभिमान कायम रहेगा. इसलिए तीस जून को दिवस पर तीस जून को भोगनाडीह की धरती पर जाना मेरे लिए सौभाग्य रहा है.

इस यात्रा के दौरान बिरसा मुंडा, सिदो-कान्हू, बिनोद बिहारी महतो, धनजंय महतो, अजीत महतो, रघुनाथ महतो, गंगानारायण सिंह के परिवार वालों से मिलकर उनका सम्मान किया है. साथ ही आशीर्वाद लिया है. 

शहीद नमन यात्रा के दौरान वे गांवों की समस्या और शहीदों के वंशजों की भावना से वाकिफ हो सके हैं. पानी की समस्या से शहीद के गांव के लोग जूझ रहे हैं. हमने गांवों के लोगों को भरोसा दिलाया है कि इस समस्या के समाधान के लिए वे सकारात्मक पहल करेंगे.

इसे भी पढ़ें: पलामूः अलग-अलग सड़क हादसे में छह की मौत

मंत्री ने कहा है कि विभाग के अफसरों और इंजीनियरों से कहा है कि उलिहातू में पेयजल और सिंचाई की व्यवस्था ठीक करने के लिए गांव वालों की सहमति और बताए अनुसार योजना तैयार करें. 

मंत्री ने कहा है कि इतिहास में शहीद सिदो कान्हू को उचित स्थान नहीं दिया गया. इन वीर सपूतों के शौर्य गाथा का आंशिक तौर पर उल्लेख किया गया. मंत्री सहिस ने कहा, ''1857 स्वतंत्रता संग्राम की पहली लड़ाई मानी जाती है, लेकिन 30 जून 1855 में साहिबगंज जिले के भोगनाडीह से स्वतंत्रता संग्राम की पहली लड़ाई का बिगुल फूंका गया था. इसलिए मेरा मानना है कि इतिहास में झारखंड के इन वीर लड़ाकों को उचित स्थान मिले. इसके लिए सामूहिकता में पहल करने की जरूरत है''. 

रामचंद्र सहिस का यह भी कहा है कि नमन यात्रा का मकसद तभी साकार होगा जब शहीदों के गांव और परिवारों की स्थिति बेहतर कर सकें. हालांकि सरकार ने इस दिशा में कई महत्वपूर्ण काम किए हैं. लेकिन स्थानीय स्तर पर समस्याओं के समाधान के लिए प्रशासन में बैठे लोगों को जवाबदेह बनाना होगा. उन्होंने इसकी कोशिशें शुरू की है. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

 राबड़ी देवी का नीतीश पर पलटवार, 'लालू जी ने राजनीतिक जीवनदान दिया, उनका शुक्रगुजार रहें'
राबड़ी देवी का नीतीश पर पलटवार, 'लालू जी ने राजनीतिक जीवनदान दिया, उनका शुक्रगुजार रहें'
बिहार विधानसभा में तेजस्वी के आरोपों पर बिफर पड़े सीएम नीतीश कुमार
बिहार विधानसभा में तेजस्वी के आरोपों पर बिफर पड़े सीएम नीतीश कुमार
गढ़वाः रिश्वतखोरी में मुखिया गिरफ्तार, बिना पैसा लिए योजना देने को तैयार नहीं थे
गढ़वाः रिश्वतखोरी में मुखिया गिरफ्तार, बिना पैसा लिए योजना देने को तैयार नहीं थे
 कंगना की जीत, बंगला ढहाने के मामले में हाई कोर्ट ने रद्द किया बीएमसी का आदेश
कंगना की जीत, बंगला ढहाने के मामले में हाई कोर्ट ने रद्द किया बीएमसी का आदेश
महबूबा मुफ्ती और उनकी बेटी कथित तौर पर नजरबंद
महबूबा मुफ्ती और उनकी बेटी कथित तौर पर नजरबंद
लालू के खिलाफ झारखंड हाईकोर्ट में याचिका दायर, जेल में रहकर फोन इस्तेमाल का आरोप
लालू के खिलाफ झारखंड हाईकोर्ट में याचिका दायर, जेल में रहकर फोन इस्तेमाल का आरोप
सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव पर हेमंत सरकार इतनी मेहरबान क्यों, कोर्ट संज्ञान लेः बाबूलाल मरांडी
सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव पर हेमंत सरकार इतनी मेहरबान क्यों, कोर्ट संज्ञान लेः बाबूलाल मरांडी
बीजेपी विधायक विजय सिन्हा बिहार विधानसभा के स्पीकर चुने गए, गठबंधन का जोर काम नहीं आया
बीजेपी विधायक विजय सिन्हा बिहार विधानसभा के स्पीकर चुने गए, गठबंधन का जोर काम नहीं आया
कांग्रेस के कद्दावर नेता अहमद पटेल का निधन
कांग्रेस के कद्दावर नेता अहमद पटेल का निधन
 ट्वीट कर सुशील मोदी ने बताया, किस नंबर से लालू जेल से फोन पर एनडीए विधायकों को प्रलोभन दे रहे
ट्वीट कर सुशील मोदी ने बताया, किस नंबर से लालू जेल से फोन पर एनडीए विधायकों को प्रलोभन दे रहे

Stay Connected

Facebook Google twitter