देश में सात चरणों में होंगे लोकसभा चुनाव, पहला चरण का वोट 11 अप्रैल को

देश में सात चरणों में होंगे लोकसभा चुनाव, पहला चरण का वोट 11 अप्रैल को
पीबी ब्यूरो ,   Mar 10, 2019

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव सात चरणों में होंगे. जबकि 23 मई को मतगणना होगा. 

इसके साथ ही चुनाव आचार संहिता लागू हो गई है और अगर आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन हुआ तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी. जबकि झारखंड में चार चरणों में चुनाव कराए जाएंगे. 

पहला चरण के लिए 11 अप्रैल, दूसरा चरण के लिए 18 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे. जबकि तीसरा चरण का मतदान 23 अप्रैल को और चौथे चरण का 29 अप्रैल को होगा. 

छह मई को पांचवे चरण का मतदान होगा. 12 मई को छठे तथा सातवे चरण में 19 मई को वोट डाले जाएंगे. 

देश के तीन राज्यों उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और बिहार में सातों चरण में चुनाव होंगे.

इसे भी पढ़ें: झारखंडः 2.19 करोड़ वोटर और 29 हजार बूथ, 41 हजार सुरक्षा कर्मी होंगे तैनात

दिल्ली स्थित विज्ञान भवन में वे प्रेस काफ्रेंस में आम चुनावों की वे जानकारी दे रहे थे. उन्होंने कहा है कि भयमुक्त और निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए आयोग प्रतिबद्ध है. 

- पहला चरणः 11 अप्रैल, 20 राज्यों की 91 सीट

- दूसरा चरणः 18 अप्रैल, 13 राज्यों की 97 सीट

- तीसरा चरणः 23 अप्रैल, 14 राज्यों की 115 सीट

- चौथा चरणः 29 अप्रैल, 9 राज्यों की 71 सीट

- पांचवा चरणः 6 मई, 7 राज्यों की 51 सीट

- छठा चरणः 12 मई, 7 राज्यों की 59 सीट

- सातवां चरणः 19 मई, 8 राज्यों की 59 सीट

वीवीपैट का इस्तेमाल

इस बार पूरे देश में चुनाव में 10 लाख मतदान केंद्र होंगे. जबकि पिछले बार 9 लाख मतदान केंद्र थे. इस बार सभी मतदान केंद्रों पर वीवीपैट का इस्तेमाल किया जाएगा.

1950 टोल फ़्री नंबर पर वोटिंग लिस्ट से जुड़ी जानकारी ले सकेंगे.

इसे भी पढ़ें: झारखंडः बीजेपी लड़ेगी 13 सीटों पर, गिरिडीह की सीट आजसू को

मुख्य चुनाव आयुक्त ने बताया है कि इस बार के चुनाव में 90 करोड़ मतदाता वोट डालेंगे और इसमें नौकरीपेशा वोटरों की संख्या 1.60 करोड़ होगी. डेढ़ करोड़ वोटर 18-19 साल के आयु वर्ग के होंगे. 

चुनाव आयुक्त ने कहा है, हमारी टीम ने राज्यों का दौरा किया है और विभिन्न तैयारियों का जायजा लिया है. साथ ही चुनाव की तारीखों को तय करने के दौरान विभिन्न राज्यों के बोर्ड एग्जाम की तारीखों का भी ध्यान रखा है.

राज्यों में चुनावों के दौरान किस तरह से सुरक्षा व्यवस्था बनाई जाएगी इसको लेकर पुलिस के अधिकारियों और राज्यों के गृह सचिव, डीजीपी और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठकें की गई हैं. 

वोटिंग के 48 घंटे पहले लाउडस्पीकर पर बैन. हर संवेदनशील स्थान पर सीआरपीएफ तैनात होगी.

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि चुनाव में मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका होती जा रही है और इस बार सोशल मीडिया पर प्रचार की भी निगरानी की जाएगी. पेड न्यूज पर सख्त कार्रवाई होगी. सोशल मीडिया के लिए गाइडलाइन बनेंगी.

सोशल मीडिया

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि चुनाव में मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका होती जा रही है और इस बार सोशल मीडिया पर प्रचार की भी निगरानी की जाएगी. पेड न्यूज पर सख्त कार्रवाई होगी. सोशल मीडिया के लिए गाइडलाइन बनेंगी.

अरोड़ा ने बताया कि इस बार 8 करोड़ 43 लाख बोटर बढ़ें हैं. वोटर टोल फ्री नंबर 1950 के जरिए मतदाता एसएमएस के 

पिछला चुनाव

साल 2014 में चुनाव आयोग ने पांच मार्च को आम चुनाव की तारीखों का एलान किया था. 2014 के लोकसभा चुनाव सात अप्रैल से 12 मई के बीच नौ चरणों में हुए थे.

आपको बता दें कि मौजूदा लोकसभा का कार्यकाल 3 जून को खत्म हो जाएगा. साल 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में बीजेपी पहली ऐसी पार्टी बनी थी जो तीन दशकों में पहली पूर्ण बहुमत पाई थी. बीजेपी को 282 सीटें मिली थीं. जबकि एनडीए को 336 सीटें मिली थीं. जबकि कांग्रेस 44 सीटों पर सिमट गई थी. 

पीएम का ट्वीट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनाव तारीखों के ऐलान के बाद ट्वीट किया, '' मैं राजनीतिक पार्टी और सभी उम्मीदवारों को 2019 लोकसभा चुनाव के लिए शुभकामनाएं देता हूं. हम अलग-अलग पार्टियों से ताल्लुक रखते हैं लेकिन हमारा उद्देश्य भारत का विकास और उन्नति है. ''


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

रांची में राष्ट्रपति ने कहा, बेटियों की सफलता काबिले तारीफ, शिक्षा का उद्देश्य हो अच्छा इंसान बनाना
रांची में राष्ट्रपति ने कहा, बेटियों की सफलता काबिले तारीफ, शिक्षा का उद्देश्य हो अच्छा इंसान बनाना
दिल्ली हिंसाः चौकसी जारी, जाफराबाद में हालात सुधर रहे, एसएन श्रीवास्तव बने नए पुलिस कमिश्नर
दिल्ली हिंसाः चौकसी जारी, जाफराबाद में हालात सुधर रहे, एसएन श्रीवास्तव बने नए पुलिस कमिश्नर
दिल्ली हिंसाः कांग्रेस ने राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपा, कहा, सरकार नाकाम रही, निर्णायक कदम उठाएं
दिल्ली हिंसाः कांग्रेस ने राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपा, कहा, सरकार नाकाम रही, निर्णायक कदम उठाएं
दिल्ली हिंसाः मरने वालों की संख्या 32 तक पहुंची, अमरीका और रूस ने जारी की एडवायजरी
दिल्ली हिंसाः मरने वालों की संख्या 32 तक पहुंची, अमरीका और रूस ने जारी की एडवायजरी
पिछली सरकार ने झारखंड को लूट का चारागाह बनाया, सब जांच कराएंगेः मंत्री बन्ना गुप्ता
पिछली सरकार ने झारखंड को लूट का चारागाह बनाया, सब जांच कराएंगेः मंत्री बन्ना गुप्ता
कांग्रेस के हाथ खून से सने हैं, सोनिया गांधी का गृह मंत्री से इस्तीफा मांगना हास्यास्पद: बीजेपी
कांग्रेस के हाथ खून से सने हैं, सोनिया गांधी का गृह मंत्री से इस्तीफा मांगना हास्यास्पद: बीजेपी
पीएम मोदी ने दिल्ली में शांति की अपील की, सोनिया ने अमित शाह से मांगा इस्तीफा
पीएम मोदी ने दिल्ली में शांति की अपील की, सोनिया ने अमित शाह से मांगा इस्तीफा
राज्य सभा चुनाव एक मौका होगा, जब झारखंड में बीजेपी-आजसू नए सिरे से करीब आ सकती है
राज्य सभा चुनाव एक मौका होगा, जब झारखंड में बीजेपी-आजसू नए सिरे से करीब आ सकती है
सिल्ली की बेटी बबीता चमकी 'खेलो इंडिया' में, तीरंदाजी में कांस्य पदक
सिल्ली की बेटी बबीता चमकी 'खेलो इंडिया' में, तीरंदाजी में कांस्य पदक
दिल्ली हिंसाः मरने वालों की संख्या 20 हुई, एनएसए ने संभाली कमान
दिल्ली हिंसाः मरने वालों की संख्या 20 हुई, एनएसए ने संभाली कमान

Stay Connected

Facebook Google twitter