लॉकडाउनः रेलवे ने अब तक 932 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई, 11 लाख प्रवासी वापस हुए

लॉकडाउनः रेलवे ने अब तक 932 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई, 11 लाख प्रवासी वापस हुए
Publicbol (File Photo)
पीबी ब्यूरो ,   May 15, 2020

भारतीय रेलवे ने एक मई से अब तक 932 श्रमिक विशेष ट्रेनों का परिचालन किया, जिनसे लॉकडाउन के कारण देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे 11 लाख प्रवासी कामगारों को उनके गृह राज्य पहुंचाया गया है। अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी.

शुक्रवार को रेलवे ने ऐसी 145 ट्रेनों का परिचालन किया.

उन्होंने बताया कि इनमें से, सबसे अधिक ट्रेनें उत्तर प्रदेश और फिर बिहार गईं.

एक अधिकारी ने बताया कि अब तक चलाई गईं 932 ट्रेनों में से 215 ट्रेनें रास्ते में हैं जबकि 717 ट्रेनें विभिन्न स्टेशनों पर पहुंच चुकी हैं. 67 और ट्रेनें चलने वाली हैं.

ये 932 ट्रेनें आंध्र प्रदेश, बिहार, छत्तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, झारखंड, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, मणिपुर, मिजोरम, ओडिशा, राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना, त्रिपुरा, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों में गईं.

इसे भी पढ़ें: यूपीः सड़क हादसे में 24 प्रवासी मजदूरों की मौत, मरने वालों में झारखंड के 12 लोग शामिल

अब तक, उत्तर प्रदेश ने 487 ट्रेनों के लिए मंजूरी दी है, उसके बाद बिहार ने 254 और मध्य प्रदेश ने 79 ट्रेनों के लिए मंजूरी दी है.

झारखंड ने 48, राजस्थान ने 22 और पश्चिम बंगाल ने नौ ट्रेनों के लिए मंजूरी दी है. रेलवे ने कहा कि ट्रेनों में सवार होने से पहले यात्रियों की समुचित जांच की जा रही है. यात्रा के दौरान यात्रियों को नि:शुल्क भोजन और पानी दिया जाता है.

सोमवार से, इन श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में 1,200 की जगह 1,700 यात्रियों को ले जाया जा रहा है, ताकि ज्यादा से ज्यादा श्रमिकों को उनके घर तक पहुंचाया जा सके.

सोमवार को केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान में कहा गया था कि फंसे हुए श्रमिकों को शीघ्र उनके घर पहुंचाने के लिए रेलवे अब हर दिन 100 श्रमिक विशेष ट्रेनें चलाएगा.

रेलवे ने अब तक इन विशेष ट्रेनों पर होने वाले खर्च का ऐलान नहीं किया है लेकिन अधिकारियों ने संकेत दिया है कि प्रति सेवा पर रेलवे करीब 80 लाख रुपये खर्च कर रहा है.

केंद्र ने पूर्व में कहा था कि रेलवे की ट्रेनों का खर्च केंद्र और राज्यों द्वारा 85:15 के अनुपात में वहन किया जाएगा.

(भाषा से इनपुट) 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

ट्रैक्टर परेडः बैरिकेड तोड़ किसान हुए दिल्ली में दाखिल पुलिस ने दागे आंसू गैस के गोले
ट्रैक्टर परेडः बैरिकेड तोड़ किसान हुए दिल्ली में दाखिल पुलिस ने दागे आंसू गैस के गोले
सरायरेला की छुटनी देवी को ‘पद्मश्री’पुरस्कार, डायन प्रथा के खिलाफ लड़ रही हैं लंबी लड़ाई
सरायरेला की छुटनी देवी को ‘पद्मश्री’पुरस्कार, डायन प्रथा के खिलाफ लड़ रही हैं लंबी लड़ाई
राहुल का बड़ा आरोप, प्रधानमंत्री के जरिए अर्नब को मिली थी बालाकोट एयर स्ट्राइक की जानकारी
राहुल का बड़ा आरोप, प्रधानमंत्री के जरिए अर्नब को मिली थी बालाकोट एयर स्ट्राइक की जानकारी
बागमुंडी में सुदेश की रैली, कहा, कोलाकाता से शासन करने वालों ने जंगल महल का दर्द नहीं जाना
बागमुंडी में सुदेश की रैली, कहा, कोलाकाता से शासन करने वालों ने जंगल महल का दर्द नहीं जाना
टीआरपी स्कैम में गिरफ्तार पार्थो दासगुप्ता का दावा- अर्नब गोस्वामी ने मुझे 40 लाख रुपये दिए
टीआरपी स्कैम में गिरफ्तार पार्थो दासगुप्ता का दावा- अर्नब गोस्वामी ने मुझे 40 लाख रुपये दिए
लालू का हाल जानने के लिए फोन नहीं करेंगे नीतीश, बोले- '2018 याद है ना'
लालू का हाल जानने के लिए फोन नहीं करेंगे नीतीश, बोले- '2018 याद है ना'
 नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा ही असम को भ्रष्टाचार और उग्रवाद मुक्त बना सकती है: अमित शाह
नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा ही असम को भ्रष्टाचार और उग्रवाद मुक्त बना सकती है: अमित शाह
झारखंडः 2019 में पुलिस के साथ मुठभेड़ में 26 और साल 2020 में 14 नक्सली मारे गए
झारखंडः 2019 में पुलिस के साथ मुठभेड़ में 26 और साल 2020 में 14 नक्सली मारे गए
गंगा ना  रायण जी, चंद्रप्रकाश चौधरी, रामचंद सहिस
गंगा ना रायण जी, चंद्रप्रकाश चौधरी, रामचंद सहिस
अर्नब गोस्वामी की व्हाट्सएप बातचीत लीक पर सोनिया ने कहा,'राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता किया गया'
अर्नब गोस्वामी की व्हाट्सएप बातचीत लीक पर सोनिया ने कहा,'राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता किया गया'

Stay Connected

Facebook Google twitter