कोडरमाः 'रगंदारी मांग' की बार-बार धमकियां, व्यवसायी परिवार कलेक्ट्रेट में बैठा धरने पर

कोडरमाः  'रगंदारी मांग' की बार-बार धमकियां, व्यवसायी परिवार कलेक्ट्रेट में बैठा धरने पर
Publicbol
पीबी ब्यूरो ,   Apr 01, 2019

झारखंड में कोडरमा जिले के व्यवसायी रोहित मेहता बार- बार रगंदारी मांग की धमकियों से परेशान होकर पत्नी और बच्चों के साथ समाहरणालय पहुंचे और धरना पर बैठ गए. 

रोहित मेहता डोमचांच के रहने वाले हैं. यह जगह जिला मुख्यालय से 50 किलोमीटर दूर है. रविवार की रात डोमचांच स्थित उनके घर पर कथित अपराधियों ने हमले की कोशिश की. सीसी टीवी तोड़ डाले तथा कुत्ते को मारकर घायल कर दिया. इस बीच कफन के शक्ल में एक कपड़ा में लिपटा धमकी भरा पत्र घर के अंदर फेंक कर  चले गए. 

रोहिता मेहता पत्थर व्यवयासी हैं. पत्र के जरिए उनसे दस लाख रुपए की मांग की गई है. रोहित मेहता के मुताबिक दो साल के अंदर यह छठी मतर्बा है जब उनके घर पर हमले की कोशिश के साथ रंगदारी की मांग से जुड़े पत्र डाले गए हैं.

स्थानीय पुलिस को हर बार घटना की जानकारी दी जाती रही है. लेकिन कहीं से कोई राहत नहीं मिलती. रातों में नींद नहीं आती. बच्चे जब- तब डर से स्कूल नहीं जाते. 

जान जब मुश्किलों में है, तो लगा पूरे परिवार के साथ जिला समाहरणालय में धरने पर बैठा जाए. ताकि पुलिस और प्रशासन का ध्यान दिलाया जा सके.

इसे भी पढ़ें: झारखंड में उत्कल दिवसः संस्कृति, परंपरा को जीवंत बनाती मातृभाषा

रोहित मेहता की बेटी रानी नवीं कक्षा की छात्रा हैं. वो बताती हैं, ''बोर्ड की परीक्षा है. हमलोग बेहद डरे रहते हैं. न जाने कब क्या हो जाए. मेरा छोटा भाई अलग दहशत में है. पापा ने किसी का कुछ नहीं बिगाड़ा है, जो उन्हें इस तरह से परेशान किया जा रहा है''.  

Publicbol

इस बीच कोडरमा के एसपी ने समाहरणालय में धरने पर बैठे रोहिता मेहता उनके परिवार के सदस्यों से बातें की और भरोसा दिलाया है कि पुलिस जल्दी ही इस मामले का खुलासा करते हुए बदमाशों को गिरफ्तार करेगी. एसपी ने डोमचांच थाने को इस बाबत आवश्यक निर्देश भी दिए हैं. पुलिस सीसी टीवी के फुटेज खंगालने में जुटी है. फुटेज में दो लोगों के चेहरे कैद हुए हैं. 

कफन में लिपटा

रोहित मेहता के परिवार को यह ज्यदा खटकता है कि हर बार की तरह इस बार भी कफन वाले कपड़े के टुकड़े में पत्र को लपेट कर घर में डाला गया. तथा 10 लाख रुपये रंगदारी की मांग की गई है. नहीं देने पर जान मारने की धमकी दी गई है.

रविवार का रात अपराधियों ने रात्रि में उनके घर के आसपास इलाके में दरबानी करने वाले चौकीदार के साथ मारपीट भी की है. चौकीदार ने पुलिस के समक्ष बयान दर्ज करते हुए कहा है कि तीन लोग चेहरे ढके हुए थे, जिन्होंने उनके साथ मारपीट की. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कांग्रेस के 'दिशाहीन' होने की धारणा को दूर करने के लिए पूर्णकालिक अध्‍यक्ष चुनना ही होगा: शशि थरूर
कांग्रेस के 'दिशाहीन' होने की धारणा को दूर करने के लिए पूर्णकालिक अध्‍यक्ष चुनना ही होगा: शशि थरूर
कोविड-19 : देश में मरने वालों का आंकड़ा 43 हजार पार, 15 लाख लोग ठीक भी हुए
कोविड-19 : देश में मरने वालों का आंकड़ा 43 हजार पार, 15 लाख लोग ठीक भी हुए
झारखंड आंदोलनकारी और सोशल एक्टिविस्ट बशीर अहमद नहीं रहे, शोक की लहर
झारखंड आंदोलनकारी और सोशल एक्टिविस्ट बशीर अहमद नहीं रहे, शोक की लहर
बीजेपी के नेता पहुंचे राजभवन, बताया, स्पीकर सरकार के इशारे पर बाबूलाल को नेता प्रतिपक्ष नहीं बना रहे
बीजेपी के नेता पहुंचे राजभवन, बताया, स्पीकर सरकार के इशारे पर बाबूलाल को नेता प्रतिपक्ष नहीं बना रहे
नई शिक्षा नीति पूरी तरह से लागू होगी, अब 'क्या सोचना है' नहीं 'कैसे सोचना है ' पर जोरः पीएम मोदी
नई शिक्षा नीति पूरी तरह से लागू होगी, अब 'क्या सोचना है' नहीं 'कैसे सोचना है ' पर जोरः पीएम मोदी
कोरोनाः तोड़े सारे रिकॉर्ड, देश में 24 घंटों में मिले 62 हजार से अधिक मरीज
कोरोनाः तोड़े सारे रिकॉर्ड, देश में 24 घंटों में मिले 62 हजार से अधिक मरीज
सुशांत केसः सीबीआई ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ दर्ज की एफआईआर
सुशांत केसः सीबीआई ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ दर्ज की एफआईआर
जम्मू-कश्मीरः मनोज सिन्हा बने नए उपराज्यपाल, जीसी मुर्मू ने इस्तीफा दिया
जम्मू-कश्मीरः मनोज सिन्हा बने नए उपराज्यपाल, जीसी मुर्मू ने इस्तीफा दिया
झारखंड में भी गूंज, अवधपुरी आए रघुनंदन ...
झारखंड में भी गूंज, अवधपुरी आए रघुनंदन ...
राम न्याय हैं, वे कभी अन्याय में प्रकट नहीं हो सकतेः राहुल गांधी
राम न्याय हैं, वे कभी अन्याय में प्रकट नहीं हो सकतेः राहुल गांधी

Stay Connected

Facebook Google twitter