जानिए क्यों मिला खूंटी के दारोगा पुष्पराज को केंद्रीय गृह मंत्री पदक सम्मान

जानिए क्यों मिला खूंटी के दारोगा पुष्पराज को केंद्रीय गृह मंत्री पदक सम्मान
File Photo
पीबी ब्यूरो ,   Aug 12, 2020

झारखंड में खूंटी जिले में तैनात दारोगा पुष्पराज कुमार का नाम केंद्रीय गृहमंत्री पदक 2020 के लिए चयन किया गया है. गृह मंत्रालय ने आज देश के अलग- अलग राज्यों के पंद्रह पुलिस अधिकारियों को केस में उत्कृष्ट अनुसंधान के लिए इस पदक के लिए चुना है.

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पुलिस अधिकारियों को इस पदक से नवाजा जाता है.

26 दिसंबर 2019 को खूंटी जिले के तिरिलटोली में एक महिला की अधजली लाश सड़क किनारे मिली थी.

महिला के शरीर का उपरी हिस्सा पूरी तरह से जल गया था. साथ ही चेहरा जला होने के कारण उसकी पहचान नहीं हो रही थी.

खूंटी के एसपी आशुतोष शेखर ने इस कांड की गुत्थी सुलझाने के लिए एसडीपीओ आशीष महली के नेतृत्व में एसआईटी गठित की थी. एसआईटी में पुष्पराज भी शामिल थे.  

इसे भी पढ़ें: जीडीपी में गिरावट की नारायणमूर्ति की आंशका पर राहुल का तंज: ‘मोदी है तो मुमकिन है’

पुष्पराज ने तफ्तीश को गति दी और इस दौरान महिला की पहचान कराई तथा इस घटना को अंजाम देने वाले सभी अभियुक्तो को गिरफ्तार किया गया. 

पुलिस ने इस मामले में निर्धारित समयावधि में अभियुक्तों के खिलाफ अदालत में आरोप पत्र भी समर्पित किया. 

गौरतलब है कि महिला की पहचान रांची के अरगोड़ा थाना क्षेत्र स्थित महावीर नगर में रहने वाली विनीता तिर्की उर्फ अंजलि (33) के रूप में हुई थी.

वह मूल रूप से सिमडेगा के सलगापुर की रहने वाली थी, लेकिन कई सालों से रांची में अरगोड़ा के महावीर नगर निवासी मुंसिफ खान के साथ रह रही थी. 

हत्या के बाद उसके शव को खूंटी के तिरिलटोली में ले जाकर जला दिया गया था. 

घटना के तीन दिन बाद ही पुलिस अधीक्षक आशुतोष शेखर ने प्रेस कांफ्रेंस में इस कांड का खुलासा करते हुए बताया था जुए में हार का बदला लेने के लिए तीन लोगों ने मिलकर चलती कार में विनीता तिर्की की गला दबाकर हत्या कर दी थी. विनीता जुआ भी खेलती थी. 

इसके बाद शव को जला दिय गया. पुलिस ने हत्या में शामिल फिरदौस रसीद को उसके महिला सहयोगी के साथ गिरफ्तार किया है.

साथ ही पुलिस ने एक आल्टो कार, मृतका के जेवरात, 6 मोबाइल फोन भी बरामद किया. कार से ही सभी लोग पार्टी मनाने के नाम पर घर से निकले थे. 

एसपी ने बताया था कि कांड को खुलासे को लेकर एसआईटी ने विभिन्न स्थानों में छापेमारी कर घटना में शामिल एक महिला को सबसे पहले गिरफ्तार किया. 

गहन पूछताछ करने पर उसने मामले मे अपनी संलिप्तता स्वीकार की.

साथ ही दो अन्य युवकों के नाम भी बताए. महिला की निशानदेही में कलालटोली चर्च रोड निवासी फिरदौस रसीद को भी गिरफ्तार कर लिया गया. 

इसे भी पढ़ें: मशहूर शायर राहत इंदौरी का निधन, कोरोना वायरस से संक्रमित थे


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कृषि विधेयक किसानों के लिए मौत की सजा हैं: राहुल गांधी
कृषि विधेयक किसानों के लिए मौत की सजा हैं: राहुल गांधी
पप्पू यादव ने बनाया प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन, कहा, 30 साल के महापाप को खत्म करना है
पप्पू यादव ने बनाया प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन, कहा, 30 साल के महापाप को खत्म करना है
लवली आनंद ने राजद का दामन थामा, बोलीं, नीतीश सरकार ने धोखा दिया है
लवली आनंद ने राजद का दामन थामा, बोलीं, नीतीश सरकार ने धोखा दिया है
मत विभाजन की मांग के वक्त सांसद शिवा सीट पर थे, पर सदन का ऑर्डर में होना महत्वपूर्णः हरिवंश
मत विभाजन की मांग के वक्त सांसद शिवा सीट पर थे, पर सदन का ऑर्डर में होना महत्वपूर्णः हरिवंश
जेडीयू के दफ्तर में सीएम नीतीश से मिले गुप्तेश्वर पांडेय, 'सुशासन' की तारीफ की
जेडीयू के दफ्तर में सीएम नीतीश से मिले गुप्तेश्वर पांडेय, 'सुशासन' की तारीफ की
 मनमोहन सिंह की तरह गहराई वाले प्रधानमंत्री की कमी महसूस कर रहा है भारत: राहुल
मनमोहन सिंह की तरह गहराई वाले प्रधानमंत्री की कमी महसूस कर रहा है भारत: राहुल
झारखंडः सरना कोड की मांग पर गोलबंद होते आदिवासी संगठन, 15 अक्तूबर को राज्य व्यापी चक्का जाम करेंगे
झारखंडः सरना कोड की मांग पर गोलबंद होते आदिवासी संगठन, 15 अक्तूबर को राज्य व्यापी चक्का जाम करेंगे
पता नहीं, पीएम मोदी देश को किस दिशा में ले जाना चाहते हैं, कृषि विधेयक सबसे बड़ा प्रहारः हेमंत सोरेन
पता नहीं, पीएम मोदी देश को किस दिशा में ले जाना चाहते हैं, कृषि विधेयक सबसे बड़ा प्रहारः हेमंत सोरेन
गायक एस पी बालासुब्रमण्यम का निधन, मखमली आवाज से प्रशंसकों के दिलों पर दशकों तक राज किए
गायक एस पी बालासुब्रमण्यम का निधन, मखमली आवाज से प्रशंसकों के दिलों पर दशकों तक राज किए
बिहार विधानसभा चुनाव का बिगुल बजाः 28 अक्तूबर से तीन चरणों में मतदान, 10 नवंबर को नतीजे
बिहार विधानसभा चुनाव का बिगुल बजाः 28 अक्तूबर से तीन चरणों में मतदान, 10 नवंबर को नतीजे

Stay Connected

Facebook Google twitter