कंगना की जीत, बंगला ढहाने के मामले में हाई कोर्ट ने रद्द किया बीएमसी का आदेश

 कंगना की जीत, बंगला ढहाने के मामले में हाई कोर्ट ने रद्द किया बीएमसी का आदेश
पीबी ब्यूरो ,   Nov 27, 2020

बंगला ढहाने के मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट के एक फैसला उनके पक्ष में आया है. कोर्ट ने अभिनेत्री कंगना रनौत के बंगले का हिस्सा तोड़ने के मुंबई महानगरपालिका के आदेश को रद्द कर दिया है. 

इसके साथ ही अदालत ने कहा है कि ये कार्रवाई दुर्भावना से प्रेरित और अभिनेत्री को नुक़सान पहुँचाने के लिए की गई थी.

अदालत ने कंगना की याचिका पर अपना फ़ैसला सुनाया जिसमें उन्होंने बीएमसी के आदेश को चुनौती दी थी.

फ़ैसला सुनाते हुए दो न्यायाधीशों की खंडपीठ ने साथ ही कहा कि वो सरकारी संस्थाओं के नागरिकों के विरूद्ध ताक़त का इस्तेमाल करने को भी "सही नहीं समझते" हैं.

उन्होंने कहा कि बीएमसी ने जो कार्रवाई की उसमें "थोड़ा सा भी संदेह नहीं रह जाता" कि ये कार्रवाई अनाधिकृत थी.

इसे भी पढ़ें: शिबू और हेमंत पहुंचे पैतृक गांव नेमरा, सोबरन मांझी को श्रद्धांजलि दी, ग्रामीणों की फरियाद सुनी

बीएमसी ने नौ सितंबर को पाली हिल्स इलाके में स्थित कंगना के बंगले का एक हिस्सा गिरा दिया था.

फ़ैसला सुनाते हुए दो न्यायाधीशों की खंडपीठ ने साथ ही कहा कि वो सरकारी संस्थाओं के नागरिकों के विरूद्ध ताक़त का इस्तेमाल करने को भी "सही नहीं समझते" हैं.

कंगना ने याचिका में बीएमसी से दो करोड़ रूपए के हर्जाने की भी माँग की थी. अदालत ने इस बारे में कहा कि वो इसका हिसाब लगाने के लिए किसी को नियुक्त करेगी जो अगले साल मार्च तक इस बारे में आदेश जारी करेगा.

बीएमसी ने कंगना रनौत के बंगले के एक हिस्से को ढहाने का क़दम ऐसे वक़्त उठाया था जब वो अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या मामले में जाँच को लेकर महाराष्ट्र सरकार पर लगातार तीखे हमले बोल रही थीं.

इतना ही नहीं, कंगना और शिवसेना सांसद संजय राऊत के बीच इस विषय पर काफ़ी विवाद भी हो गया था.

ऐसे में बीएमसी के कंगना का दफ़्तर ढहाए जाने के फ़ैसले को राजनीतिक द्वेष से प्रेरित बताया गया था.

दफ़्तर गिराए जाने के बाद कंगना ने महाराष्ट्र सरकार पर बेहद आक्रामता से जुबानी हमला किया था. उन्होंने यहाँ तक कहा था कि दफ़्तर की इमारत गिराए जाने पर उन्हें ऐसा महसूस हुआ जैसे उनके साथ 'बलत्कार हुआ हो'.

कंगना ने इस मामले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भी जमकर आड़े लिया था. उन्होंने कहा था, ''आप अपनी पार्टी की प्रमुख हैं और आपकी पार्टी एक महिला के साथ ऐसा सलूक कर रही है. आप उसे रोकती क्यों नहीं?''


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

तांडव पर उठे विवादों के बीच निर्माताओं ने कहा, वेब सीरीज में बदलाव करेंगे
तांडव पर उठे विवादों के बीच निर्माताओं ने कहा, वेब सीरीज में बदलाव करेंगे
माओवादियों से ज्यादा खतरनाक है भाजपा, हम भगवा पार्टी के सामने सिर नहीं झुकाएंगे : ममता
माओवादियों से ज्यादा खतरनाक है भाजपा, हम भगवा पार्टी के सामने सिर नहीं झुकाएंगे : ममता
ऋषभ पंत के बल्ले से भारत चमका, ऑस्ट्रेलिया पर यादगार जीत से देश में खुशियों का कायनात
ऋषभ पंत के बल्ले से भारत चमका, ऑस्ट्रेलिया पर यादगार जीत से देश में खुशियों का कायनात
देश में 3 लाख 81 हजार लोगों को लगा टीका, प्रतिकूल असर के 580 मामले : स्वास्थ्य मंत्रालय
देश में 3 लाख 81 हजार लोगों को लगा टीका, प्रतिकूल असर के 580 मामले : स्वास्थ्य मंत्रालय
शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो की सेहत में सुधार, ठंड कम होने पर अस्पताल से वापस झारखंड आएंगे
शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो की सेहत में सुधार, ठंड कम होने पर अस्पताल से वापस झारखंड आएंगे
ममता बनर्जी का एलान, नंदीग्राम से लड़ेंगी चुनाव
ममता बनर्जी का एलान, नंदीग्राम से लड़ेंगी चुनाव
 ट्रैक्टर रैली पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा, यह कानून व्यवस्था का मामला, इसे पुलिस देखे
ट्रैक्टर रैली पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा, यह कानून व्यवस्था का मामला, इसे पुलिस देखे
ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन, हेमंत सोरेन 17 वें पायदान परः सर्वे
ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन, हेमंत सोरेन 17 वें पायदान परः सर्वे
 भारत मे टीकाकरण शुरूः पीएम मोदी बोले, 'मानव जब जोर लगाता है, पत्थर पानी बन जाता है'
भारत मे टीकाकरण शुरूः पीएम मोदी बोले, 'मानव जब जोर लगाता है, पत्थर पानी बन जाता है'
कानून व्यवस्था को लेकर पत्रकारों के पूछे सवाल पर जब नीतीश कुमार बमक गए
कानून व्यवस्था को लेकर पत्रकारों के पूछे सवाल पर जब नीतीश कुमार बमक गए

Stay Connected

Facebook Google twitter