शक्ति परीक्षण से पहले कमलनाथ का इस्तीफा, बोले, बीजेपी ने लोकतंत्र की हत्या की

शक्ति परीक्षण से पहले कमलनाथ का इस्तीफा, बोले, बीजेपी ने लोकतंत्र की हत्या की
पीबी ब्यूरो ,   Mar 20, 2020

मध्य प्रदेश की राजनीति शुक्रवार को नए मोड़ पर पहुंची, जब कमलनाथ ने शक्ति परीक्षण से पहले इस्तीफा की घोषणा की. कमलनाथ करीब पंद्रह महीने तक सरकार की बागडोर संभाल रहे थे. 

कमलनाथ ने बीजेपी पर उनके ख़िलाफ़ साजिश करने का आरोप लगाया और कहा कि "हमारे 22 विधायकों को प्रलोभन दे कर उन्हें बंधक बनाया गया है. करोड़ों रूपये खर्च कर प्रलोभन का खेल खेला गया है. भाजपा ने ऐसा कर लोकतांत्रिक मूल्यों की हत्या की है."

उन्होंने कहा, "मुझे जनता ने पांच साल का जनादेश दिया था. इससे पहले बीजेपी को प्रदेश में 15 साल दिए गए थे काम करने के लिए."

कमलनाथ ने दावा किया कि 15 महीनों के दौरान उनकी सरकार ने जो विकास कार्य किए उनसे 15 साल शासन करने वाली भाजपा घबरा गई थी, इसलिए उसने सरकार गिराने की साजिश की. उन्होंने कहा कि ऐसा करके पार्टी ने मध्य प्रदेश के लोगों के साथ विश्वासघात किया है.<

 इन 15 महीनों में मेरा क्या कसूर था. बीजेपी ने लोकतंत्र की हत्या की है. कांग्रेस मंत्री मंत्री पीसी शर्मा ने विधायकों की कथित ख़रीद फोख्त को लेकर चल रही चर्चा के बारे में कहा कि वो 'हॉर्स ट्रेडिंग' नहीं बल्कि 'एलिफ़ेंट ट्रेडिंग' कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें: रांचीः खान विभाग के रिटायर अफसर के घर छापा, 28.14 लाख रुपए बरामद

हाल में भाजपा में शामिल हो चुके ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक 22 विधायकों के इस्तीफे के बाद कमलनाथ सरकार अल्पमत में आ गई थी.

कांग्रेस ने इन बागी विधायकों को मनाने की काफी कोशिशें की गईं, लेकिन ये असफल रहीं. 

मध्य प्रदेश में जारी सियासी उठापटक के बीच सुप्रीम कोर्ट ने 20 मार्च को विधानसभा का सत्र बुलाकर कमलनाथ सरकार को फ्लोर टेस्ट कराने का आदेश दिया था.

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की याचिका पर सुनवाई करते हुए यह आदेश दिया गया था.  


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

चाईबासाः नैहर में थी आदिवासी महिला, पति बीमार पड़े, तो साइकिल से नाप ली 50 किमी दूरी
चाईबासाः नैहर में थी आदिवासी महिला, पति बीमार पड़े, तो साइकिल से नाप ली 50 किमी दूरी
अच्छी पहलः ओडिशा ने 500 एमबीबीएस छात्रों को कोरोना मरीजों के इलाज के लिए प्रशिक्षित किया
अच्छी पहलः ओडिशा ने 500 एमबीबीएस छात्रों को कोरोना मरीजों के इलाज के लिए प्रशिक्षित किया
कोरोना रोका जा सके, इसके लिए छत्तीसगढ़ के जेलों से छोड़े गए 584 कैदी
कोरोना रोका जा सके, इसके लिए छत्तीसगढ़ के जेलों से छोड़े गए 584 कैदी
कोरोना का कहर, देश में संक्रमण के 2,902 मामले, मरने वालों की संख्या 68 हुई
कोरोना का कहर, देश में संक्रमण के 2,902 मामले, मरने वालों की संख्या 68 हुई
2 दिन में तबलीगी जमात के 647 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले जबकि 24 घंटों में 12 मरीजों की मौत
2 दिन में तबलीगी जमात के 647 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले जबकि 24 घंटों में 12 मरीजों की मौत
नर्सों से अभद्रता करने वाले तबलीगी जमात के लोगों पर लगेगा रासुका, छोड़ेंगे नहींः योगी आदित्यनाथ
नर्सों से अभद्रता करने वाले तबलीगी जमात के लोगों पर लगेगा रासुका, छोड़ेंगे नहींः योगी आदित्यनाथ
पीएम मोदी ने राज्यों से कहा, अगले कुछ हफ्तों में टेस्टिंग, ट्रेसिंग और क्वारंटाइन पर रहे जोर
पीएम मोदी ने राज्यों से कहा, अगले कुछ हफ्तों में टेस्टिंग, ट्रेसिंग और क्वारंटाइन पर रहे जोर
 धार्मिक स्थानों पर जमा होकर अव्यवस्था पैदा करने का यह वक्त नहीं है : ए आर रहमान
धार्मिक स्थानों पर जमा होकर अव्यवस्था पैदा करने का यह वक्त नहीं है : ए आर रहमान
देश में पांव पसारता कोरोना, संक्रमण के 1965 मामले, मरने वालों की संख्या 50
देश में पांव पसारता कोरोना, संक्रमण के 1965 मामले, मरने वालों की संख्या 50
कोरोना के बीच क्यों सुर्खियों में हैं डॉक्टर सुधीर डेहरिया
कोरोना के बीच क्यों सुर्खियों में हैं डॉक्टर सुधीर डेहरिया

Stay Connected

Facebook Google twitter