जेएमएम विधायक सीता सोरेन के समर्थन में आईं बेटियां, कहा,'मम्मी के पत्र पर पार्टी में खामोशी का तात्पर्य क्या है'

जेएमएम विधायक सीता सोरेन के समर्थन में आईं बेटियां, कहा,'मम्मी के पत्र पर पार्टी में खामोशी का तात्पर्य क्या है'
Photo- Facebook (जेएमएम विधायक सीता सोरेन अपनी बेटी के साथ)
पीबी ब्यूरो ,   Sep 11, 2020

झारखंड में सत्तारूढ़ झारखंड मुक्ति मोर्चा की विधायक और पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष शिबू सोरेन की बड़ी बहू सीता सोरेन के समर्थन में उनकी दोनों बेटियां आगे आई हैं. और ट्वीट कर सीता सोरेन द्वारा लिखे गए पत्र पर कार्रवाई नहीं होने पर सवाल खड़े किए हैं. 

गुरुवार को सीता सोरेन ने पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष शिबू सोरेन को लिखे पत्र में विनोद पांडेय पर उनके खिलाफ साजिश रचने का आरोप लगाया है.

इसके साथ ही उन्होंने पार्टी अध्यक्ष से इस मामले में संज्ञान लेने का आग्रह किया है. सीता सोरेन दुमका जिले में जामा से विधायक हैं. साथ ही मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की बड़ी भाभी है. 

इस पत्र के अगले ही दिन सीता सोरेन की बेटी जयश्री सोरेन ने एक ट्वीट किया है. उन्होंने लिखा है, ''मुझे यह देखकर बहुत दुख हो रहा है. मेरी मम्मी पार्टी की सीनियर विधायक हैं. उन्होंने जो पत्र लिखा है, उसके 18 घंटे हो गए, पर उस मामले में कोई संज्ञान नहीं लिया गया है. इस खामोशी का तात्पर्य क्या है.''

राजश्री की बहन विजयश्री सोरेन ने इस ट्वीट को रीट्वीट किया है. इसके साथ ही उन्होंने लिखा है, ''मौन की व्याख्या अलग-अलग तरीकों से की जा सकती है, जो कभी-कभी सद्भाव की तुलना में अधिक नुकसान पहुंचाता है. यथाशीघ्र सख्त कार्रवाई होनी चाहिए''. 

इसे भी पढ़ें: बिहारः बीजेपी की नब्ज टटोलने पहुंचे जेपी नड्डा की नीतीश कुमार से हुई मंत्रणा, चुनावी सरगर्मी तेज

विधायक की दोनों बेटियों के इन ट्वीट को लेकर अलग ही झामुमो की राजनीति में हलचल है. यह संभवतः पहला मौका होगा, जब सीता सोरेन की बेटियों ने उनके सवालों पर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की है. 

हालांकि इस मामले में पार्टी की तरफ से कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है. खबरों के मुताबिक समय रहते सब कुछ संभालने की कोशिशें जरूर की जा रही हैं. 
 
गौरतलब है कि सीता सोरेन ने यह पत्र अपने पति दिवंगत दुर्गा सोरेन की 52वीं जयंती के मौके पर शिबू सोरेन के नाम लिखकर सोशल माडिया (ट्विटर और फेसबुक) पर साझा किया है. 

सीता सोरेन ने यह भी लिखा है, ''यह पार्टी गुरुजी शिबू सोरेन  और उनके पति स्वर्गीय दुर्गा सोरेन के खून-पसीने से सींची गई है. लेकिन झामुमो को चंद लोग अपनी जेबी संस्था बनाने की मंशा से काम कर रहे हैं.''  

उन्होंने पत्र के जरिए आरोप लगाया है कि पार्टी महासचिव विनोद पांडेय उन कार्यकर्ताओं को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा देते हैं जिनसे वह मुलाकात करती हैं.

सीता सोरेन ने एक कार्यक्रम को लेकर पार्टी की गतिविधियों की भी चर्चा की है. उन्होंने पत्र के जरिए बताया है, ''पिछले दिनों चतरा के आम्रपाली परियोजना के विस्थापितों के निमंत्रण पर वे सीसीएल के खिलाफ बैठक में शामिल होने गई थीं. उसी दौरान विनोद पांडेय के इशारे पर वहां के जिला अध्यक्ष पंकज कुमार प्रजापति ने सभी पार्टी के कार्यकर्ताओं को हमसे मुलाकात नहीं करने का फरमान सुनाया. इसके बाद हमसे मिलने वाले सभी कार्यकर्ताओं को साजिश के तहत विनोद पांडेय के आदेश पर वहां के जिलाध्यक्ष ने निष्कासित कर दिया. यह कार्रवाई बेहद अनुचित है''.

विधायक सीता सोरेन ने पत्र के हवाले बताया है, ''मेरे खिलाफ भी विनोद पांडेय ने केंद्रीय कार्यालय के नाम कुछ लिखवा कर रखा है.जबकि वे भी पार्टी में महासचिव हैं''.

आज विधायक सीता सोरेन ने फिर एक ट्वीट किया है. इसमें उन्होंने लिखा है, ''उसूलों पर अगर आंच आए, तो टकराना जरूरी है. अगर जिंदा हो, तो जिंदा आना जरूरी है, दुआ करो कि सलामत रहे मेरी जिंदगी, ये इक चिराग कई आंधियों पर भारी है''. 

गौरतलब है कि सीता सोरेन झारखंड में युवाओं के रोजगार और भर्तियों को लेकर भी लगातार मुखर हैं. इसके अलावा दुमका में सड़कों की हालत तथा बालू पत्थरों की तस्करी के खिलाफ भी उन्होंने कई ट्वीट पहले ही किए हैं. साथ ही इस मामलों में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का ध्यान भी आकृष्ट कराती रही हैं. 

सीता सोरेन के पत्र पर महासचिव विनोद पांडेय ने मीडिया से कहा है कि उन्हें इसकी जानकारी नहीं है. यदि पत्र पार्टी के अध्यक्ष को प्रेषित किया गया है तो वही फैसला करेंगे. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

देश में कोविड-19 से मरने वालों का आंकड़ा 90 हजार पार, अभी करीब 10 लाख लोगों का इलाज जारी
देश में कोविड-19 से मरने वालों का आंकड़ा 90 हजार पार, अभी करीब 10 लाख लोगों का इलाज जारी
कृषि सुधार 21 वीं सदी के भारत की जरूरत, किसानों को आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास जारी रहेंगे: मोदी
कृषि सुधार 21 वीं सदी के भारत की जरूरत, किसानों को आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास जारी रहेंगे: मोदी
कोडरमाः स्टेशन पर कंफर्म टिकट लेकर इंतजार करते रह गए यात्री, नही रुकी ट्रेन, खब हुआ हुज्जत
कोडरमाः स्टेशन पर कंफर्म टिकट लेकर इंतजार करते रह गए यात्री, नही रुकी ट्रेन, खब हुआ हुज्जत
राज्यसभा में विपक्ष ने जिस तरीके से हंगामा किया उससे संसदीय गरिमा को चोट पहुंची हैः राजनाथ सिंह
राज्यसभा में विपक्ष ने जिस तरीके से हंगामा किया उससे संसदीय गरिमा को चोट पहुंची हैः राजनाथ सिंह
बिहार चुनावः चिराग पासवान ने कार्यकर्ताओ को लिखा, एनडीए में अभी नही हुई है सीट बंटवारे पर बात
बिहार चुनावः चिराग पासवान ने कार्यकर्ताओ को लिखा, एनडीए में अभी नही हुई है सीट बंटवारे पर बात
विपक्ष के भारी हंगामे के बीच कृषि सुधार से जुड़े दो बिल राज्यसभा में ध्वनि मत से पारित
विपक्ष के भारी हंगामे के बीच कृषि सुधार से जुड़े दो बिल राज्यसभा में ध्वनि मत से पारित
नीतीश कुमार एक थाना या ब्लॉक का नाम बता दें, जहां बिना 'चढ़ावा' काम होता होः तेजस्वी यादव
नीतीश कुमार एक थाना या ब्लॉक का नाम बता दें, जहां बिना 'चढ़ावा' काम होता होः तेजस्वी यादव
अभिनेत्री पायल घोष ने फिल्मकार अनुराग कश्यप पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया
अभिनेत्री पायल घोष ने फिल्मकार अनुराग कश्यप पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया
कृषि विधेयक किसानों के रक्षा कवच, विरोध करने वाले दे रहे बिचौलियों का साथ: पीएम मोदी
कृषि विधेयक किसानों के रक्षा कवच, विरोध करने वाले दे रहे बिचौलियों का साथ: पीएम मोदी
नक्सलियों और अपराधियों के आगे पस्त हेमंत सरकार निहत्थे सहायक पुलिसकर्मियों पर लाठियां चला रहीः रघुवर दास
नक्सलियों और अपराधियों के आगे पस्त हेमंत सरकार निहत्थे सहायक पुलिसकर्मियों पर लाठियां चला रहीः रघुवर दास

Stay Connected

Facebook Google twitter