झारखंडः कोरोना खतरे के बीच क्वारंटाइन के सवाल पर पलामू में हिंसक झड़प, एक की मौत

झारखंडः कोरोना खतरे के बीच क्वारंटाइन के सवाल पर पलामू में हिंसक झड़प, एक की मौत
Publicbol
पीबी ब्यूरो ,   Mar 25, 2020

कोरोना को लेकर उपजे असाधारण संकट के बीच दूसरे राज्यों तथा महानगरों से लौट रहे लोगों की जांच तथा क्वारंटाइन के सवाल पर झारखंड में टकराव की खबरें सामने आने लगी है. इसी सिलसिले में पलामू के पंडवा थाना क्षेत्र में दो गुटों के बीच हिंसक झड़प में एक व्यक्ति की मौत हो गई है. 

इस घटना में कम से कम दस लोग घायल हुए हैं. उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है. 

पलामू के पुलिस उाधीक्षक संदीप कुमार गुप्ता अभी गांव पहुंचे हुए हैं. उन्होंने बताया है कि मारपीट करने वाले लोग आपस में रिश्तेदार भी हैं. इस घटना में जहां काशी की मौत हो गई है.

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है. साथ ही प्राथमिकी दर्ज की गई है. पुलिस दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करेगी. 

जानकारी के अनुसार गांव के ही राजन साव, आशीष साव, छोटू साव, विकी साव हैदराबाद बेगंलुरू से काम कर लौटे हैं. पुलिस अधिकारी के मुताबिक लौटने पर उनकी जांच भी प्रशासन ने कराई और उन्हें घर में रहने की हिदायत दी गई थी. 

इसे भी पढ़ें: WHO ने देशों का आगाह कराया, 'लॉकडाउन' से खत्म नहीं होगा खतरा, वायरस पर हमले का वक्त

तफ्तीश में पुलिस को पता चला है कि सोमवार की शाम छोटू नामक युवक राकेश के घर तरफ घूमने गया. जिसे लेकर राकेश साव और उसके पिता काशी साव ने कहा कि बाहर से आए हो, कोरोना का खतरा है इसलिए होगा अलग रहो. सके बाद छोटू और राकेश के बीच बहस हो गई. 

कुछ लोगो ने बीच-बचाव कर दोनों को हटाय़ा गया. छोटू धमकी देते हुए घर चला गया कि बता देंगे. यह बात मझिगांव पंचायत के पूर्व मुखिया प्रदीप यादव तक पहुंची. उन्होंने दोनों पक्षों के बीच समझौता कराया. इसलके बावजूद मंगलवार को विवाद बढ़ता गया. 

विवाद की जानकारी पंडवा थाना को भी दी गई. पुलिस ने कोरोना को लेकर निर्देश के उल्लंघन नहीं करने की हिदायत भी दी. 

मंगलवार की शाम शाम लगभग सात बजे एक पक्ष ने काशी साव के परिवार और राकेश पर हमला कर दिया. इस घटना में काशी साव को ज्यादा चोट पहुंची.

घर वाले उन्हें लेकर पाटन अस्पताल पहुंचे. पाटन अस्पताल से घर आ गए, लेकिन तबीयत बिगड़ने पर फिर सदर अस्पताल लेकर गए जहां काशी साव की मौत हो गई.

अब काशी साव के बेटे ने प्राथमिकी दर्ज कराई है. इस बीच पाटन की बीडीओ ने प्रीति लता मुर्मू नें कहा है कि मृतक के परिजनों को तत्काल 50 किलो चावल दिया जा रहा है. इसके बाद जो भी सरकारी प्रावधान होगा मदद दी जाएगी. 

गांव- गांव में नाका

इधर कोराना के खतरे को लेकर झारखंड के अलग- अलग जगहों के गांवों में नाकाबंदी और गांव में बाहरी व्यक्ति के प्रवेश पर पांबदी को लेकर तख्ती लगाए जाने की तस्वीरें सामने आ रही है.

गांव के लोगों की नजर बाहर से लौट रहे युवाओं और मजदूरो पर भी है. कई जगहों से ग्रामीणों के बीच बहस की खबरें मिल रही हैं. गुमला ब्लॉक के कुलबीरा गांव में करीब 40, कोयनजारा गांव में 10 व चटकपुर में 3 मजदूर दूसरे राज्यों से लौटे हैं. 

इसे भी पढ़ें: संकट की इस घड़ी में दुनिया को रास्ता दिखा सकता है भारत : डब्ल्यूएचओ

ग्रामीणों ने इन लोगों से इलाज कराने के संबंध में पूछा, तो वे लोग लड़ाई पर उतारू हो गए. इन तीनों गांवों में मारपीट की नौबत के बाद बीच- बचाव भी किया जा रहा है.

चैनपुर ब्लॉक के मालम नवाटोली गांव में 5 मजदूर दूसरे राज्य से वापस लौटे हैं. ये अस्पताल जाना चाहते हैं, लेकिन गाड़ी की व्यवस्था नहीं हो रही है. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

लाल किले से पीएम मोदी के भाषण की ये 10 बड़ी और अहम बातें जानिए
लाल किले से पीएम मोदी के भाषण की ये 10 बड़ी और अहम बातें जानिए
आईपीएल 2020 के रंग में धौनी, साथियों के साथ चेन्नई पहुंचे
आईपीएल 2020 के रंग में धौनी, साथियों के साथ चेन्नई पहुंचे
शहरी क्षेत्रो में 'सीएम श्रमिक योजना', हेमंत बोले, निबंधन के 15 दिनों में रोजगार अन्यथा बेरोजगारी भत्ता
शहरी क्षेत्रो में 'सीएम श्रमिक योजना', हेमंत बोले, निबंधन के 15 दिनों में रोजगार अन्यथा बेरोजगारी भत्ता
वैक्सीन पर उठते सवालों के बीच रूस का दावा, दो सालों तक छू नहीं सकेगा वायरस
वैक्सीन पर उठते सवालों के बीच रूस का दावा, दो सालों तक छू नहीं सकेगा वायरस
राजस्थान विधानसभा में बोले सचिन पायलट, मैं जब तक बैठा हूं, सरकार सुरक्षित है
राजस्थान विधानसभा में बोले सचिन पायलट, मैं जब तक बैठा हूं, सरकार सुरक्षित है
वकील प्रशांत भूषण अवमानना के मामले में दोषी करार, सजा पर सुनवाई 20 अगस्त को
वकील प्रशांत भूषण अवमानना के मामले में दोषी करार, सजा पर सुनवाई 20 अगस्त को
हेमंत बोले, झारखंड की स्थानीय नीति सवालों के घेरे में, हम देख रहे हैं कि क्या बदलाव किया जाए
हेमंत बोले, झारखंड की स्थानीय नीति सवालों के घेरे में, हम देख रहे हैं कि क्या बदलाव किया जाए
तेजस्वी ने नीतीश और उनके मंत्री को घेरा, कोरोना के आंकड़ों पर पूछा- कौन सच्चा कौन झूठा?
तेजस्वी ने नीतीश और उनके मंत्री को घेरा, कोरोना के आंकड़ों पर पूछा- कौन सच्चा कौन झूठा?
झारखंडः पीटीआई के ब्यूरो चीफ पीवी रामानुजम ने खुदकुशी कर ली
झारखंडः पीटीआई के ब्यूरो चीफ पीवी रामानुजम ने खुदकुशी कर ली
 जीडीपी में गिरावट की नारायणमूर्ति की आंशका पर राहुल का तंज: ‘मोदी है तो मुमकिन है’
जीडीपी में गिरावट की नारायणमूर्ति की आंशका पर राहुल का तंज: ‘मोदी है तो मुमकिन है’

Stay Connected

Facebook Google twitter