लद्दाख के दुरूह इलाकों में फंसे मजदूरों को आज जहाज से ला रही है झारखंड सरकार

लद्दाख के दुरूह इलाकों में फंसे मजदूरों को आज जहाज से ला रही है झारखंड सरकार
twitter- Hemant Soren
पीबी ब्यूरो ,   May 29, 2020

लद्दाख के कारगिल और बटालिक इलाक़ों में फंसे झारखंड के 60 प्रवासी मजदूरों को राज्य सरकार एयरलिफ्ट करा रही है. अधिकतर मजदूर संतालपरगना इलाके के हैं. राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने यह जानकारी दी है. 

ये मजदूर कुछ देर बाद लेह एयरपोर्ट से उड़ान भरने वाले हैं. आज ही वेलोग रांची पहुंच जाएंगे. इसके लिए एयरलाइंस की दो कंपनियों की सेवाएं ली गई हैं.

वापस लाए जा रहे मजदूरों में अधिकतर संताल परगना इलाके के हैं. रांची पहुंचने पर सरकार बसों से उन्हें गृह जिलों तक पहुंचाएगी. इसकी अलग से तैयारी चल रही है. 

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने ट्वीट कर लद्दाख रेंज के कमिश्नर, इंडिगो और स्पाइस जेट के प्रति आभार जताया है. 


गौरतलब है कि इन प्रवासी मजदूरों को राज्य सरकार अपने ख़र्च पर झारखंड वापस बुला रही है. लॉकडाउन के बीच उपजे गंभीर संकट और प्रवासी मजदूरों की दुदर्शा के बीच यह देश में पहला मौका है, जब कोई राज्य सरकार अपने मजदूरों को एयरलिफ़्ट करा रही हो. 

इसे भी पढ़ें: बेबसी की इंतिहाः वृद्धा पेंशन को तरसता लातेहार का आदिवासी दंपती, बोले, 'जीते जी नसीब नहीं होगा'

इससे पहले राज्य के मुख्य सचिव सुखेदव सिंह और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अलग- अलग पत्र लिखकर गृह मंत्रालय से झारखंडी मजदूरों को हवाई जहाज से वापस लाने की अनुमति मांगी थी. तब हवाई उड़ानें बंद थीं. 

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन अंडमान, लद्दाख, लेह आदि इलाकों में फंसे झारखंडी मजदूरों को चार्टर्ड फ़्लाइट से वापस लाना चाहते हैं. अब विमान सेवाएं शुरू हो गई हैं. इसलिए राज्य सरकार को इस काम में सहुलियत हो रही है. 

सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि वापस आने वाले मजदूरों का खर्च सरकार उठा रही है. आने वाले दिनों में कुछ और मजदूरों को एयरलिफ़्ट कराया जाएगा. 

इससे पहले गुरुवार को नेशनल लॉ स्कूल बेंगलुरू के पूर्ववर्ती छात्रों की मदद से मुंबई में फंसे 174 प्रवासी मजदूर हवाई जहाज से रांची पहुंचे थे. एनएलएसयूआई एलमुनी ने क्राउंड फंडिंग के जरिए इतिहास रचने में यह कामयाबी हासिल की है. 

दो महीने से जारी लॉकडाउन में फंसे मजदूरों की घर वापसी को लेकर यह खबर पहली दफा सामने आई है.

भारतीय नागर विमानन सेवा के इतिहास में भी यह अनूठा संयोग है.

जबकि इन दिनों लाखों मजदूर सड़कों पर पैदल, साइकिल, ट्रक और बस पर अपने घर लौटने की जद्दोजहद कर रहे हैं. 

 एयर एशिया के विमान से 174 प्रवासी मजदूर मुंबई से रांची स्थित बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पहुंचने पर मजदूरों का स्वागत किया गया. राज्य सरकार ने बसों से उन्हें गृह जिलों में भेजा. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी का निधन, पार्टी स्तब्ध
कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी का निधन, पार्टी स्तब्ध
अलीगढ़ः बीजेपी विधायक का आरोप, पुलिस ने पीटा, कार्यकर्ताओं ने थाना घेरा, तनाव
अलीगढ़ः बीजेपी विधायक का आरोप, पुलिस ने पीटा, कार्यकर्ताओं ने थाना घेरा, तनाव
रूस की कोरोना वैक्सीन के बारे जानकारों की अलग-अलग राय?
रूस की कोरोना वैक्सीन के बारे जानकारों की अलग-अलग राय?
फेसबुक पोस्ट को लेकर बेंगलुरु में भड़की हिंसा, पुलिस फायरिंग में तीन की मौत
फेसबुक पोस्ट को लेकर बेंगलुरु में भड़की हिंसा, पुलिस फायरिंग में तीन की मौत
मशहूर शायर राहत इंदौरी का निधन, कोरोना वायरस से संक्रमित थे
मशहूर शायर राहत इंदौरी का निधन, कोरोना वायरस से संक्रमित थे
कितना भी मैं किसी का विरोध करूं, भाषा की मर्यादा कभी नहीं तोड़ताः सचिन
कितना भी मैं किसी का विरोध करूं, भाषा की मर्यादा कभी नहीं तोड़ताः सचिन
रांची के निकट ओरमांझी में ट्रक पर जा रहे 35 लाख रुपए की अफीम और डोडा बरामद
रांची के निकट ओरमांझी में ट्रक पर जा रहे 35 लाख रुपए की अफीम और डोडा बरामद
दस राज्यों में कोरोना को हरा देते हैं, तो देश भी जीत जाएगाः पीएम मोदी
दस राज्यों में कोरोना को हरा देते हैं, तो देश भी जीत जाएगाः पीएम मोदी
राजस्थानः कांग्रेस में बंवडर थमने की उम्मीद, सचिन की बात सुनने के लिए तीन सदस्यीय कमेटी
राजस्थानः कांग्रेस में बंवडर थमने की उम्मीद, सचिन की बात सुनने के लिए तीन सदस्यीय कमेटी
झारखंड में बेरोजगारी बड़ी चुनौती, हम इससे निपटेंगेः हेमंत सोरेन
झारखंड में बेरोजगारी बड़ी चुनौती, हम इससे निपटेंगेः हेमंत सोरेन

Stay Connected

Facebook Google twitter