झारखंडः कोरोना के खात्मे के लिए गांवों में देवी-देवता की पूजा, मंदिरों में हवन और पाठ

झारखंडः कोरोना के खात्मे के लिए गांवों में देवी-देवता की पूजा, मंदिरों में हवन और पाठ
Photo- Neelu Choubey
पीबी ब्यूरो ,   Mar 21, 2020

कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे के बीच झारखंड के गांवों-कस्बों में देवी-देवता की पूजा अर्चना की खबरें सामने आने लगी हैं. साथ ही मंदिरों में पाठ और हवन भी किया जा रहा है.

जबकि कई गांवों में हांक लगाई जा रही है कि 22 मार्च को प्रधानमंत्री की अपील के तहत सुबह से शाम तक घरों से नहीं निकलें. हांक लगाने के साथ ढोल पीटे जा रहे हैं. 

गढ़वा जिले के नैनाबार गांव में ग्रामीण परंपरागत तौर पर देवी-देवता से इस आपदा से बचाने की विनती कर रहे हैं.  

कांडी पंचायत के मुखिया विनोद प्रसाद की अगुवाई में गांव के लोगों ने ग्राम देवता से अरज लगाई है कि इस संकट से उबारने में मदद करें. ग्रामीण बताते हैं कि गांव के देवीधाम के समक्ष एक बकरा चरा कर छोड़ा गया. देवी की खुशी के लिए ढोल-बाजे बजाए गए. 

वहीं, ब्रह्म बाबा,शंकर भगवान, गोरया-डीहवार सहित गांव के सभी देवताओं का आह्वान करते हुए वायरस से बचाने के लिए प्रार्थना की गई है. 

इसे भी पढ़ें: चाईबासाः ढाई साल से नक्सलियों के कब्जे में यौन शोषण का शिकार होती रही बच्ची, पुलिस ने मुक्त कराया

इस मौके पर गांव के जानकी साह, मनोज प्रसाद, नारद प्रसाद, सुरेंद्र प्रसाद, शैलेंद्र प्रसाद, रामसुंदर राम, बासुदेव बैगा, रामप्रसाद विश्वकर्मा सहित कई ग्रामीण उपस्थित थे.

विनोद प्रसाद का कहना है कि संकट की घड़ी में गांव वालों पर हमेशा ही देवी- देवताओं की कृपा रही है.

भारत में देवी-देवताओं का अनुष्ठान और आह्वान मुश्किलों की घड़ी में आस्था के साथ करने की परंपरा रही है. बड़े- बुजुर्ग भी कई मौके पर ये तरीके अपनाते रहे हैं. 

श्री बंशीधर मंदिर में पाठ

उधर गढ़वा में ही प्रसिद्ध श्री बंशीधर मंदिर में कोरोना वायरस से मुक्ति और विश्व कल्याण के लिये विशेष अनुष्ठान 'नारायण कवच' पाठ शुक्रवार की सुबह से प्रारंभ किया गया है.  यह अनुष्ठान मंदिर के आचार्य और पुजारियों के द्वारा किया जा रहा है.

आचार्य श्रीकांत मिश्र ने कहा है, ''मंदिर में नित्य पूजन और आरती के साथ राग भोग लगाया जा रहा है. साथ ही नारायण कवच का निरंतर पाठ होगा. सम्पूर्ण विश्व इस वारयस को लेकर चिंतित है. सभी लोग इससे बचाव के उपाय को लेकर तरह-तरह के प्रयास कर रहे हैं. ऐसे श्री बंशीधर जी की आराधना ही इस संकट से मुक्ति दिलाने में सहायक हो सकता है. भगवान विष्णु के अवतार भगवान श्री बंशीधर जी ने सदैव संसार पर आई विपत्तियों का हरण किया है. उंगली पर गोवर्धन पर्वत उठाकर समस्त संसार का कल्याण किया है''.

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के खतरे के मद्देनजर श्री बंशीधर मंदिर में श्रद्धालुओं के लिए रोक लगा दी गई है. मंदिर के आचार्य सत्यनारायण मिश्र कहते हैं कि मंदिर के इतिहास में ऐसे हालात पहली बार बने हैं. 

उन्होंने बताया कि मंदिर में विश्व शांति के कल्याणार्थ अनुष्ठान किया जा रहा है. अनुष्ठान में नारायण कवच का पाठ किया जा रहा है. इस अनुष्ठान में मंदिर के सभी पुजारी शामिल हैं.

कथारा में विश्व शांति हवन यज्ञ 

इसे भी पढ़ें: निर्भया गैंगरेप: चारों अभियुक्तों को दी गई फांसी, तमाम पैंतरे हुए नकाम

इधर बेरमो अनुमंडल में विश्व शांति हवन यज्ञ का आयोजन किया गया. कथारा चार नंबर शिवमंदिर के प्रांगण में आयोजित इस यज्ञ को मंदिर के पुजारी पंडित गुप्तेश्वर पांडेय और रवि पांडेय द्वारा पूरे वैदिक रीति से संपन्न कराया.

गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि कई विपदाएं ऐसी होती हैं, जिस पर इंसान को काबू करने में काफ़ी परेशानी होती है. ऐसी परिस्थिति में ईश्वर की कृपा के लिए विशेष अनुष्ठान किए जाते हैं.

मंदिर समिति के अजय सिंह का कहना है कि इस हवन यज्ञ द्वारा आम जन में शक्ति का भरोसा कायम करना, तथा विपदा में विचलित नहीं होने तथा तथा ईश्वर के शरण में जाने का प्रयास किया गया है.

मंदिर समिति द्वारा कोरोना वायरस के बचाव के लिए जो जरुरी एहतियात हैं, उससे भी लोगों को वाकिफ करा रही है. हवन में कई महिलाएं भी शामिल हुईं. 

इधर गिरिडीह जिले के बिरनी प्रखंड के कई गांवों में महिलाओं ने स्थानीय देवी मंडपों में पूजा अर्चना कर कोरोना के खतरे से बचाव की मन्नतें मांगीं. महिलाओं का कहना है कि देवी- देवता खुश रहेंगे, तो कोरोना वारयस का घर-परिवार, गांव- समाज  पर कोई असर नहीं होगा. 

हालांकि इन अनुष्ठान से चिकित्सा विज्ञान कोई इत्तेफाक नहीं रखता. लेकिन समाज आपदा के वक्त विश्वास से हटना नहीं चाहता. कई बुजुर्ग कहते हैं कि इतिहास गवाह रहा है कि जब-जब संकट पड़ा है, लोग इकट्ठे देवी- देवता का आह्वान कर जान बचाने की गुहार लगाते हैं. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

लाल किले से पीएम मोदी के भाषण की ये 10 बड़ी और अहम बातें जानिए
लाल किले से पीएम मोदी के भाषण की ये 10 बड़ी और अहम बातें जानिए
आईपीएल 2020 के रंग में धौनी, साथियों के साथ चेन्नई पहुंचे
आईपीएल 2020 के रंग में धौनी, साथियों के साथ चेन्नई पहुंचे
शहरी क्षेत्रो में 'सीएम श्रमिक योजना', हेमंत बोले, निबंधन के 15 दिनों में रोजगार अन्यथा बेरोजगारी भत्ता
शहरी क्षेत्रो में 'सीएम श्रमिक योजना', हेमंत बोले, निबंधन के 15 दिनों में रोजगार अन्यथा बेरोजगारी भत्ता
वैक्सीन पर उठते सवालों के बीच रूस का दावा, दो सालों तक छू नहीं सकेगा वायरस
वैक्सीन पर उठते सवालों के बीच रूस का दावा, दो सालों तक छू नहीं सकेगा वायरस
राजस्थान विधानसभा में बोले सचिन पायलट, मैं जब तक बैठा हूं, सरकार सुरक्षित है
राजस्थान विधानसभा में बोले सचिन पायलट, मैं जब तक बैठा हूं, सरकार सुरक्षित है
वकील प्रशांत भूषण अवमानना के मामले में दोषी करार, सजा पर सुनवाई 20 अगस्त को
वकील प्रशांत भूषण अवमानना के मामले में दोषी करार, सजा पर सुनवाई 20 अगस्त को
हेमंत बोले, झारखंड की स्थानीय नीति सवालों के घेरे में, हम देख रहे हैं कि क्या बदलाव किया जाए
हेमंत बोले, झारखंड की स्थानीय नीति सवालों के घेरे में, हम देख रहे हैं कि क्या बदलाव किया जाए
तेजस्वी ने नीतीश और उनके मंत्री को घेरा, कोरोना के आंकड़ों पर पूछा- कौन सच्चा कौन झूठा?
तेजस्वी ने नीतीश और उनके मंत्री को घेरा, कोरोना के आंकड़ों पर पूछा- कौन सच्चा कौन झूठा?
झारखंडः पीटीआई के ब्यूरो चीफ पीवी रामानुजम ने खुदकुशी कर ली
झारखंडः पीटीआई के ब्यूरो चीफ पीवी रामानुजम ने खुदकुशी कर ली
 जीडीपी में गिरावट की नारायणमूर्ति की आंशका पर राहुल का तंज: ‘मोदी है तो मुमकिन है’
जीडीपी में गिरावट की नारायणमूर्ति की आंशका पर राहुल का तंज: ‘मोदी है तो मुमकिन है’

Stay Connected

Facebook Google twitter