झारखंडः एक सितंबर से राज्य के अंदर बसें चलेंगी, मॉल, होटल, सैलून और लॉज खुलेंगे

झारखंडः एक सितंबर से राज्य के अंदर बसें चलेंगी, मॉल, होटल, सैलून और लॉज खुलेंगे
Photo- Chotu Singh
पीबी ब्यूरो ,   Aug 29, 2020

झारखंड में एक सितंबर से बसों को शर्तों के साथ चलाने की इजाजत दी गई है. इसके साथ ही शॉपिंग मॉल, होटल, सैलून भी शर्तों के साथ खुलेंगे.

शादी समारोह में अधिकतम 50 तथा अंतिम संस्कार में 20 लोग शामिल हो सकेंगे. शर्तों के साथ धर्मशाला और रेस्टेरेंट, लॉज भी खुलेंगे. 

शुक्रवार को राज्य सरकार ने कई सेवाओं में छूट के साथ 30 सितंबर तक के लिए लॉकडाउन की मियाद बढ़ा दी है. 

झारखंड सरकार ने राज्य में अनलॉक गाइडलाइंस जारी करते हुए आर्थिक गतिविधियों के लिए इजाजत दे दी है। हालांकि राज्य के कंटेनमेंट जोन में 30 सितंबर तक रोक जारी रहेगी.

मुख्य सचिव के हस्ताक्षऱ से आदेश जारी किया गया है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने गाइडलाइंस को शेयर करते हुए अपने ट्विटर पर लिखा, ''मेरी अपील है कि सरकारी नियमों का सख्ती से पालन करें एवं मुंह पर मास्क का उपयोग अवश्य करें. आपस में दूरी बनाएं, मगर दिलों को जोड़े रखें.''

इसे भी पढ़ें: सांसद साक्षी महाराज को गिरिडीह मे रोका गया, प्रशासन ने किया क्वारंटाइन, बीजेपी बोली, तेजप्रताप पर मेहरबानी क्यों

जारी छूट के तहत बसें राज्य के अंदर ही चलेंगी. अंतर्राज्यीय बस सेवा की इजाजत नहीं दी गई है. राज्य के अंदर जो बसें चलेंगी, उन्हें परिवहन विभाग के एसओपी का पालन करना होगा. 

 परिवहन विभाग की ओर से अलग से एसओपी जारी किया जाएगा. इसी तरह शॉपिंग मॉल, सैलून, ब्यूटी पार्लर को लेकर केंद्र सरकार के गाइडलाइन के तहत शर्तों का पालन करना होगा. 

बाहर से आने वालों को 14 दिनों का होम क्वारंटाइन में रहना अनिवार्य है. साथ ही जिला प्रशासन को सूचना देनी होगी. 

इन पर पाबंदियां जारी रहेंगी

- स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान 30 सितंबर तक बंद रहेंगे.

- सामाजिक, राजनीतिक, खेलकूद, मनोरंजन, धार्मिक, सांस्कृतिक और शैक्षणिक या किसी अन्य काम के लिए भीड़ लगाने की इजाजत नहीं होगी.

- सिनेमा हॉल, स्विमिंग पूल, जिम, पार्क, थिएटर और बार खोलने की इजाजत नहीं दी गई है.

- अंतरराज्यीय बस सेवा पर रोक जारी रहेगी.

- सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद खुले धार्मिक स्थलों को छोड़कर बाकी आम लोगों के लिए बंद रहेंगे.


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

सुप्रीम कोर्ट का सिविल सेवा परीक्षा 2020 स्थगित करने से इंकार
सुप्रीम कोर्ट का सिविल सेवा परीक्षा 2020 स्थगित करने से इंकार
हाथरस गैंग रेप और पीड़िता की मौतः पीएम मोदी ने की मुख्यमंत्री से बात, योगी ने एसआईटी बैठाई
हाथरस गैंग रेप और पीड़िता की मौतः पीएम मोदी ने की मुख्यमंत्री से बात, योगी ने एसआईटी बैठाई
तारीखों में जानिएः अयोध्या में बाबरी मस्जिद विध्वंस से संबंधित पूरा घटनाक्रम
तारीखों में जानिएः अयोध्या में बाबरी मस्जिद विध्वंस से संबंधित पूरा घटनाक्रम
हाथरस गैंगरेपः अक्षय कुमार बोले, इतनी क्रूरता, दोषियों को फांसी पर लटका देना चाहिए
हाथरस गैंगरेपः अक्षय कुमार बोले, इतनी क्रूरता, दोषियों को फांसी पर लटका देना चाहिए
विपक्ष का एक ही काम, जाने-समझे बिना किसी भी मसले पर विरोध करो: पीएम मोदी
विपक्ष का एक ही काम, जाने-समझे बिना किसी भी मसले पर विरोध करो: पीएम मोदी
कृषि विधेयक किसानों के लिए मौत की सजा हैं: राहुल गांधी
कृषि विधेयक किसानों के लिए मौत की सजा हैं: राहुल गांधी
पप्पू यादव ने बनाया प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन, कहा, 30 साल के महापाप को खत्म करना है
पप्पू यादव ने बनाया प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन, कहा, 30 साल के महापाप को खत्म करना है
लवली आनंद ने राजद का दामन थामा, बोलीं, नीतीश सरकार ने धोखा दिया है
लवली आनंद ने राजद का दामन थामा, बोलीं, नीतीश सरकार ने धोखा दिया है
मत विभाजन की मांग के वक्त सांसद शिवा सीट पर थे, पर सदन का ऑर्डर में होना महत्वपूर्णः हरिवंश
मत विभाजन की मांग के वक्त सांसद शिवा सीट पर थे, पर सदन का ऑर्डर में होना महत्वपूर्णः हरिवंश
क्या विधायक प्रदीप यादव की धार खत्म कर रही है कांग्रेस?
क्या विधायक प्रदीप यादव की धार खत्म कर रही है कांग्रेस?

Stay Connected

Facebook Google twitter