बीजेपी नेता की हत्या के खिलाफ बरवाडीह बंद, रांची में पार्टी के नेता पहुंचे पुलिस मुख्यालय

बीजेपी नेता की हत्या के खिलाफ बरवाडीह बंद, रांची में पार्टी के नेता पहुंचे पुलिस मुख्यालय
Publicbol
पीबी ब्यूरो ,   Jul 06, 2020

झारखंड में लातेहार जिले में बीजेपी नेता जयवर्द्धन सिंह की हत्या के खिलाफ आज बरवाडीह बाजार स्वतः स्फूर्त बंद है. इससे पहले लातेहार के एसपी प्रशांत आनंद ने घटना स्थल का जायजा लेने के बाद जांच के लिए एसआईटी बैठाई है. 

इधर रांची में बीजेपी नेताओं का एक प्रतनिधिमंडल ने पुलिस महानिदेशक के नाम एक ज्ञापन सौंपते हुए इस घटना की निष्पक्ष जांच कराने के साथ अपराधियों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की है. 

उधर बीजेपी के सांसद और प्रदेश महामंत्री समीर उरांव तथा आदित्य प्रसाद साहू घटना की जानकारी लेने तथा जयवर्द्धन सिंह के शोक संतप्त परिवजनों से मिलने बरवाडीह पहुंचे हैं. 

बरवाडीह एसडीपीओ अमरनाथ के नेतृत्व में गठित एसआईटी में आधा दर्जन पुलिस अधिकारी भी शामिल हैं.

घटना के बाद पलामू और लातेहार के सीमावर्ती इलाके को सील किया गया है. और दोनों जिलों की पुलिस टीम छापेमारी कर रही है.

इसे भी पढ़ें: झारखंडः कोरोना से एक और मौत, आंकड़ा हुआ 21

जांच के दौरान पुलिस को घटना स्थल महज 200 मीटर की दूरी पर एक पिस्टम मिला है. प्रारंभित तफ्तीश में पुलिस को आशंका है कि हत्याकांड को अंजाम देने के लिए बाहर से शूटर बुलाए गए थे.

तफ्तीश में पुलिस को जानकारी मिली है कि गोली मारने के बाद अपराधी पैदल बाजार की तरफ भागे. स्थानीय लोगों ने पीछा किया तो अपराधियों ने हवाई फायरिंग भी की. अपराधी सूर्या हॉस्पीटल के पास अंधेरे का फायदा उठा कर भाग गए. 

घटनास्थल को पुलिस ने सील कर दिया है, जबकि बरामद हथियार को एफएसएल टीम जांच कर रही है. 

गौरतलब है कि रविवार की देर शाम जयवर्द्धन सिंह की बरवाडीह बस स्टैंड के सामने गोली मार कर हत्या कर दी गई थी. 

यह जगह बरवाडीह थाना से महज 50 गज की दूरी पर है. अज्ञात अपराधियों ने उन्हें गोली मारी और उसके बाद फायरिंग करते हुए निकल गए.

गोली जयवर्द्धन सिंह को बेहद ही करीब से मारी गई थी, जिससे मौके पर ही जयवर्द्धन सिंह की मौत हो गई.

जयवर्धन सिंह बीजेपी के जिला महामंत्री होने के साथ चतरा से पार्टी के सांसद सुनील सिंह के प्रतिनिधि थे. 

इधर आज सुबह 11 बजे बरवाडीह में उनका अंतिम संस्कार किया गया. जयवर्द्धन सिंह के पुत्र ने मुखाग्नि दी. वहीं दाह संस्कार में हजारों लोग शामिल हुए. इससे पहले लातेहार जिला मुख्यालय में शव का पोस्टमार्टम कराया गया.  

बरवाडीह बंद के दौरान पूरे बाजार परिसर में सन्नाटा पसरा हुआ है. बरवाडीह के लोग गम और गुस्से में है.

इसे भी पढ़ें: लालू ने जमानत के लिए झारखंड हाईकोर्ट में दायर की याचिका, बताया, बीमार हैं, आधी सजा भी काट चुके हैं

जयवर्द्धन सिंह मूल रूप से पलामू के पाटन थाना क्षेत्र के बलगड़ा के रहने वाले हैं. बरवाडीह उनका ननिहाल है, जहां वेलोग दशकों से रह रहे थे. इस घटना को लेकर बीजेपी में आक्रोश है. 

बीजेपी के सांसद समीर उरांव और आदित्य प्रसाद साहू का कहना है कि राज्य में कानून व्यवस्था पूरी तरह से बिगड़ गई है. अपराधियों को प्रत्यक्ष- परोक्ष तौर पर संरक्षण मिल रहा है. 

समीर उरांव ने कहा कि चुनाव के वक्त जयवर्धन सिंह ने अपना लाइसेंसी हथियार प्रशासन के बास जमा किया था. लेकिन बाद में उनके मांगे जाने के बाद उन्हें हथियार नहीं लौटाया जा रहा .

उन्होंने इस हत्या के पीछे गहरी साजिश का आरोप लगाया . और कहा कि पुलिस महकमा इस घटना को गंभीरता से ले. 

इस बीच प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शहदेव भी बरवाडीह जा रहे हैं. उन्होंने बताया कि प्रदेश महामंत्री प्रदीप वर्मा की अगुवाई में एक प्रतिनिधमंडल ने पुलिस मुख्यालय में जाकर डीजीपी के नाम ज्ञापन सौंपा है. 

प्रतुल शाहदेव ने कहा कि घटना से तीन दिन पहले ही जयवर्धन सिंह ने बरवाडीह थाना को अपनी हत्या की आशंका से वाकिफ कराया था. लेकिन बरवाडीह की पुलिस ने इसे गंभीरता से नहीं लिया. 

 

 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कांग्रेस के 'दिशाहीन' होने की धारणा को दूर करने के लिए पूर्णकालिक अध्‍यक्ष चुनना ही होगा: शशि थरूर
कांग्रेस के 'दिशाहीन' होने की धारणा को दूर करने के लिए पूर्णकालिक अध्‍यक्ष चुनना ही होगा: शशि थरूर
कोविड-19 : देश में मरने वालों का आंकड़ा 43 हजार पार, 15 लाख लोग ठीक भी हुए
कोविड-19 : देश में मरने वालों का आंकड़ा 43 हजार पार, 15 लाख लोग ठीक भी हुए
झारखंड आंदोलनकारी और सोशल एक्टिविस्ट बशीर अहमद नहीं रहे, शोक की लहर
झारखंड आंदोलनकारी और सोशल एक्टिविस्ट बशीर अहमद नहीं रहे, शोक की लहर
बीजेपी के नेता पहुंचे राजभवन, बताया, स्पीकर सरकार के इशारे पर बाबूलाल को नेता प्रतिपक्ष नहीं बना रहे
बीजेपी के नेता पहुंचे राजभवन, बताया, स्पीकर सरकार के इशारे पर बाबूलाल को नेता प्रतिपक्ष नहीं बना रहे
नई शिक्षा नीति पूरी तरह से लागू होगी, अब 'क्या सोचना है' नहीं 'कैसे सोचना है ' पर जोरः पीएम मोदी
नई शिक्षा नीति पूरी तरह से लागू होगी, अब 'क्या सोचना है' नहीं 'कैसे सोचना है ' पर जोरः पीएम मोदी
कोरोनाः तोड़े सारे रिकॉर्ड, देश में 24 घंटों में मिले 62 हजार से अधिक मरीज
कोरोनाः तोड़े सारे रिकॉर्ड, देश में 24 घंटों में मिले 62 हजार से अधिक मरीज
सुशांत केसः सीबीआई ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ दर्ज की एफआईआर
सुशांत केसः सीबीआई ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ दर्ज की एफआईआर
जम्मू-कश्मीरः मनोज सिन्हा बने नए उपराज्यपाल, जीसी मुर्मू ने इस्तीफा दिया
जम्मू-कश्मीरः मनोज सिन्हा बने नए उपराज्यपाल, जीसी मुर्मू ने इस्तीफा दिया
झारखंड में भी गूंज, अवधपुरी आए रघुनंदन ...
झारखंड में भी गूंज, अवधपुरी आए रघुनंदन ...
राम न्याय हैं, वे कभी अन्याय में प्रकट नहीं हो सकतेः राहुल गांधी
राम न्याय हैं, वे कभी अन्याय में प्रकट नहीं हो सकतेः राहुल गांधी

Stay Connected

Facebook Google twitter