झारखंडः 22 लाख फर्स्ट टाइम वोटर्स, रुख किधर होगा

झारखंडः 22 लाख फर्स्ट टाइम वोटर्स, रुख किधर होगा
Publicbol
पीबी ब्यूरो ,   Mar 14, 2019

लोकसभा चुनाव में झारखंड के 22 लाख 753 युवा वोटर पहली दफा मतदान करेंगे. भारत निर्वाचन आयोग के द्वारा एक जनवरी 2019 को जारी अंतिम मतदाता सूची में 18-19 उम्र के वोटरों की संख्या 22 लाख 753 है. इनमें पुरूष की संख्या एक लाख 668 और महिला वोटरों की संख्या 87 हजार 56 है. जबकि थर्ड जेंडर के वोटरों की संख्या 29 है. 

हालांकि राज्य के निर्वाचन पदाधिकारी एल ख्यांग्ते का कहना है यह संख्या टेंटेटिव है. यह संख्या बढ़ सकती है. दरअसल भारत निर्वाचन आयोग के द्वारा तय किए गए प्रावधान के तहत नामांकन प्रक्रिया पूरी होने तक मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में दर्ज कराए जा सकते हैं. 

चुनाव आयोग का भी जोर नए और छूटे मतदाताओं का नाम सूची में जोड़ने पर है. ताकि मतदान प्रतिशत को बढ़ाया जा सके. 

युवा उम्मीदवार

जाहिर है राज्य की 14 सीटों के लि होने वाले चुनाव में इन युवाओं का फैसला अहम होगा. सभी दलों की नजर इन वोटरों पर है. युवाओं को अपनी ओर खींचने के लिए सबसे ज्यादा सोशल माडिया का इस्तेमाल किया जा रहा है. बूथ कमेटियों में उन्हें शामिल किया जा रहा है. 

इसे भी पढ़ें: ट्वीट वारः योगी आदित्यनाथ ने अंग्रेजी में किया, तो अखिलेश बोले-मुख्यमंत्री जी, मतलब बता दीजिए

पार्टी के रणनीतिकार यह बताने के कोई मौके नहीं छोड़ रहे कि युवा ही राजनीति के दारोमदार हैं. लेकिन युवाओं को टिकट देने के नाम पर दलों का नजरिया परखा जाना बाकी है. उम्मीदवारों की दावेदारी, सूची और वर्तमान सांसदों के नाम, उम्र पर गौर करने से संकेत साफ मिलते हैं कि दलों में युवा उम्मीदवार हाशिए पर ही होंगे. 

गौरतलब है कि बीजेपी में खूंटी से सांसद कड़िया मुंडा 83, रांची से रामटहल चौधरी 76 तथा धनबाद से पीएन सिंह 70 साल के हैं. दुमका से जेएमएम के सांसद शिबू सोरेन भी 65 पार हैं. 

14 सीटें

झारखंड में लोकसभा की 14 सीटें हैं. इस बार राज्य में कुल वोटरों की संख्या दो करोड़ 19 लाख 81 हजार 479 वोटर हैं. इनमें महिला वोटरों की संख्या एक करोड़ चार लाख 73 हजार 475 है. दिव्यांग वोटरों की संख्या 87 हजार 754 है, जिन्हें मतदान में भाग लेने के लिए ट्रांसपोर्टिंग की सुविधा मुहैया कराई जाएगी. पूरे राज्य में 3797 सर्विस वोटर हैं. राज्य में कुल 29 हजार 464 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. इनमें शहरी क्षेत्र में 4404 और ग्रामीण क्षेत्र में 25 हजार साठ मतदान केंद्र हैं. 

पलामू आगे

पलामू संसदीय क्षेत्र के लिए सबसे ज्यादा 30 हजार 158 फर्स्ट टाइमर वोटर्स बनाए गए हैं जबकि राजमहल में सबसे कम 9800 युवा पहली बात मतदान करेंगे.

दुमका में 14 हजार 630, गोड्डा में 15, 364 चतरा में 13 हजार 797, कोडरमा  में 15 हजार 73 युवा वोटर पहली बात मतदान करेंगे. 

गिरिडीह में 14 हजार 893, धनबाद में 12 हजार 714 युवा वोटर बनाए गए हैं. धनबाद में इनकी संख्या 12 हजार 714 और रांची संसदीय क्षेत्र में 26 हजार 956 युवा पहली बात वोट डालेंगे.

इसके अलावा जमशेदपुर में 13 हजार 745, चाईबासा में 13 हजार 82, खूंटी में 14 हजार 944, लोहरदगा में 11 हजार 657 वोटर पहली दफा मतदान करेंगे. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

चाईबासाः नैहर में थी आदिवासी महिला, पति बीमार पड़े, तो साइकिल से नाप ली 50 किमी दूरी
चाईबासाः नैहर में थी आदिवासी महिला, पति बीमार पड़े, तो साइकिल से नाप ली 50 किमी दूरी
अच्छी पहलः ओडिशा ने 500 एमबीबीएस छात्रों को कोरोना मरीजों के इलाज के लिए प्रशिक्षित किया
अच्छी पहलः ओडिशा ने 500 एमबीबीएस छात्रों को कोरोना मरीजों के इलाज के लिए प्रशिक्षित किया
कोरोना रोका जा सके, इसके लिए छत्तीसगढ़ के जेलों से छोड़े गए 584 कैदी
कोरोना रोका जा सके, इसके लिए छत्तीसगढ़ के जेलों से छोड़े गए 584 कैदी
कोरोना का कहर, देश में संक्रमण के 2,902 मामले, मरने वालों की संख्या 68 हुई
कोरोना का कहर, देश में संक्रमण के 2,902 मामले, मरने वालों की संख्या 68 हुई
2 दिन में तबलीगी जमात के 647 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले जबकि 24 घंटों में 12 मरीजों की मौत
2 दिन में तबलीगी जमात के 647 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले जबकि 24 घंटों में 12 मरीजों की मौत
नर्सों से अभद्रता करने वाले तबलीगी जमात के लोगों पर लगेगा रासुका, छोड़ेंगे नहींः योगी आदित्यनाथ
नर्सों से अभद्रता करने वाले तबलीगी जमात के लोगों पर लगेगा रासुका, छोड़ेंगे नहींः योगी आदित्यनाथ
पीएम मोदी ने राज्यों से कहा, अगले कुछ हफ्तों में टेस्टिंग, ट्रेसिंग और क्वारंटाइन पर रहे जोर
पीएम मोदी ने राज्यों से कहा, अगले कुछ हफ्तों में टेस्टिंग, ट्रेसिंग और क्वारंटाइन पर रहे जोर
 धार्मिक स्थानों पर जमा होकर अव्यवस्था पैदा करने का यह वक्त नहीं है : ए आर रहमान
धार्मिक स्थानों पर जमा होकर अव्यवस्था पैदा करने का यह वक्त नहीं है : ए आर रहमान
देश में पांव पसारता कोरोना, संक्रमण के 1965 मामले, मरने वालों की संख्या 50
देश में पांव पसारता कोरोना, संक्रमण के 1965 मामले, मरने वालों की संख्या 50
कोरोना के बीच क्यों सुर्खियों में हैं डॉक्टर सुधीर डेहरिया
कोरोना के बीच क्यों सुर्खियों में हैं डॉक्टर सुधीर डेहरिया

Stay Connected

Facebook Google twitter