जदयू की वर्चुअल रैली: नीतीश का लालू पर हमला, 'अंदर होकर भी अनाप-शनाप ट्वीट करते हैं'

जदयू की वर्चुअल रैली: नीतीश का लालू पर हमला, 'अंदर होकर भी अनाप-शनाप ट्वीट करते हैं'
पीबी ब्यूरो ,   Sep 07, 2020

जदयू की पहली वर्चुअल रैली ‘निश्चय संवाद’ में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने 15 साल की उपलब्धियां गिनाई और लालू-राबड़ी के शासनकाल पर जमकर हमला बोला. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि बिहार को अब लालटेन की जरूरत नहीं है. 

इस दौरान सीएम नीतीश ने बिना नाम लिए राजद सुप्रीमो लालू पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा, ''कुछ लोग अंदर है फिर भी बाहर में एक आदमी रख लिया है, जो दिन भर अनाप-शनाप ट्वीट करते रहता है. नीतीश ने कहा कि भला आप ही बताइए जो जेल में है, वो ट्वीट कैसे कर सकता है. इसका मतलब है कि बाहर में एक आदमी को हायर किया गया है, जो ये सब कर रहा है''.

कौन भार है सब जानते हैं

पूरे भाषण के दौरान राबड़ी और तेजस्वी का नाम लिए बिना दोनों पर जमकर बरसे. लालू को भी सुनाया. नीतीश ने कहा कि लालूजी कहते हैं कि हमलोग बिहार पर भार हैं. आप जेल में हैं तो लोगों को पता चल ही रहा है कि कौन भार है. जब आपको काम करने का मौका मिला तब आपलोगों ने क्यों नहीं किया? आप जब से अंदर हैं बिहार की जनता को मुक्ति मिली हुई है. चुनाव में जनता मालिक है. जिसे चाहेगी, काम की जिम्मेदारी देगी।

नीतीश कुमार ने कहा कि लालू राज में जो अपराध था उसके बारे में बताना चाहिए. मियां बीबी के राज में लोग कैसे गाड़ी से बदूंक निकाल कर चलते थे. आगे उन्होंने कहा कि हम लोगों को मौका मिला तो पहले क्या थी विधि व्यवस्था की और आज क्या है.

इसे भी पढ़ें: रांची के सिविल सर्जन कोरोना की चपेट में, रिम्स में हुए भर्ती

उन्होंने कहा कि पहले सामूहिक नरसंहार होता था और आज क्या स्थिति है जरा बताइए. हर प्रकार से हम लोगों ने काम किया, लेकिन कुछ लोग कुछ भी बोलते रहते हैं. हमारी सरकार क्राइम, करप्शन और कम्युनलिज्म को हम बर्दाश्त नहीं कर सकती है. जीरो टोलरेंस पर हम काम करते हैं और कहीं भी गलत चीज बर्दाश्त नहीं कर सकते.

जरूर इज्जतू दूंगा 

मुख्यमंत्री ने कहा कि चंद्रिका प्रसाद यादव (राजद छोड़कर जदयू में आए) का स्वागत है. ऐश्वर्या राय के साथ क्या हुआ? लोग शिक्षा की बात करते हैं. लालू परिवार में एक पढ़ी-लिखी लड़की के साथ क्या हुआ? ऐश्वर्या दारोगा बाबू (पूर्व मुख्यमंत्री) की पौत्री हैं. दारोगा राय ने कितनी मदद की थी. उनकी पौत्री के साथ क्या हुआ? परिवारवाद ही उनके लिए सब कुछ है. जिन्होंने आपकी मदद की, आपने उनके साथ क्या किया? ये सब लोग आए, मैं इनकी इज्जत करूंगा.

अब लालटेन और ढिबरी नहीं

राजद के शासनकाल में 700 मेगावाट बिजली की खपत थी और अब 5000 मेगावाट बिजली की खपत हो रही है. 2012 में 15 अगस्त को ऐलान किया था कि बिजली की स्थिति नहीं सुधरी तो वोट नहीं मांगेंगे. 2018 में 31 दिसंबर तक लक्ष्य रखा कि हर घर बिजली पहुंचा देंगे और समय से दो महीने पहले ही यह काम पूरा हो गया। शहरी क्षेत्रों में 24 घंटे और ग्रामीण क्षेत्रों में 22 घंटे से ज्यादा बिजली दी जा रही है. जो भी नए घर बन रहे हैं उन्हें कनेक्शन दिया जा रहा है। पूरे बिहार में लालटेन की जरूरत खत्म हो गई है. पति-पत्नी के राज में तो लालटेन और ढिबरी ही थी.

याद कीजिए सड़कों को

नीतीश ने कहा कि पहले पता ही नहीं चलता था कि गड्ढे में सड़क है कि सड़क में गड्ढा है. अब केंद्र और राज्य की योजनाओं से पूरे बिहार में सड़कें चकाचक हो गई है. लोग 5 घंटे में बिहार के किसी कोने से पटना पहुंच सकते हैं. गांवों में भी पक्की गली का निर्माण कराया गया है. हमारा अगला लक्ष्य है कि गांवों में बने सड़कों को नेशनल या स्टेट हाइवे से जोड़ा जाए और सड़क बने हैं उनका और चौड़ीकरण हो जाए.


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

गायक एस पी बालासुब्रमण्यम का निधन, मखमली आवाज से प्रशंसकों के दिलों पर दशकों तक राज किए
गायक एस पी बालासुब्रमण्यम का निधन, मखमली आवाज से प्रशंसकों के दिलों पर दशकों तक राज किए
बिहार विधानसभा चुनाव का बिगुल बजाः 28 अक्तूबर से तीन चरणों में मतदान, 10 नवंबर को नतीजे
बिहार विधानसभा चुनाव का बिगुल बजाः 28 अक्तूबर से तीन चरणों में मतदान, 10 नवंबर को नतीजे
कृषि बिल के विरोध में किसानों का हल्ला बोल, समर्थन में तेजस्वी यादव ट्रैक्टर लेकर उतरे सड़क पर
कृषि बिल के विरोध में किसानों का हल्ला बोल, समर्थन में तेजस्वी यादव ट्रैक्टर लेकर उतरे सड़क पर
पीएम मोदी ने फिटनेस को लेकर कोहली से यो यो टेस्ट के बारे में पूछा, विरोट बोले, बेहद अहम है यह
पीएम मोदी ने फिटनेस को लेकर कोहली से यो यो टेस्ट के बारे में पूछा, विरोट बोले, बेहद अहम है यह
रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोरोना वायरस से निधन, एम्स में ली अंतिम सांस
रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोरोना वायरस से निधन, एम्स में ली अंतिम सांस
पलामू: टीपीसी का जोनल‌ कमांडर गिरेंद्र गंझू गिरफ्तार
पलामू: टीपीसी का जोनल‌ कमांडर गिरेंद्र गंझू गिरफ्तार
टाइम की सूचीः नरेंद्र मोदी दुनिया के 100 प्रभावशाली लोगों में, पर तल्ख टिप्पणी भी
टाइम की सूचीः नरेंद्र मोदी दुनिया के 100 प्रभावशाली लोगों में, पर तल्ख टिप्पणी भी
देश में कोविड-19 से मरने वालों का आंकड़ा 90 हजार पार, अभी करीब 10 लाख लोगों का इलाज जारी
देश में कोविड-19 से मरने वालों का आंकड़ा 90 हजार पार, अभी करीब 10 लाख लोगों का इलाज जारी
वीआरएस के बाद गुप्तेश्वर पांडे ने कहा, लोगों से बात कर तय करूंगा कि आगे क्या करना है
वीआरएस के बाद गुप्तेश्वर पांडे ने कहा, लोगों से बात कर तय करूंगा कि आगे क्या करना है
कृषि सुधार 21 वीं सदी के भारत की जरूरत, किसानों को आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास जारी रहेंगे: मोदी
कृषि सुधार 21 वीं सदी के भारत की जरूरत, किसानों को आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास जारी रहेंगे: मोदी

Stay Connected

Facebook Google twitter