जदयू ने झारखंड में संताल परगना की 5 सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा की

जदयू ने झारखंड में संताल परगना की 5 सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा की
Publicbol
पीबी ब्यूरो ,   Oct 06, 2019

बिहार में सत्तारूढ़ नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाइटेड (जदयू) झारखंड में अकेले चुनाव लड़ने की तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटा है. इसी सिलसिले में आज संतालपरगना की पांच सीटों पर उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की गई. पूर्व सांसद तथा जदयू के प्रदेश अध्यक्ष सालखन मुर्मू ने दुमका में प्रेस कांफ्रेस कर इसकी जानकारी दी. सालखन सोरेन खुद शिकारापाड़ा विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ेंगे. 

उन्होंने बताया कि प्रो सुजीत कुमार सोरेन को जामा से, प्रो ईश्वर मरांडी को महेशपुर से, लूकस हांसदा को बोरियो से, और मार्शल ऋषिराज टुडू को दुमका से जदयू का प्रत्याशी बनाया जाएगा. प्रेस कांफ्रेस में ये चारों लोग उपस्थित थे. 

सालखन मुर्मू ने कहा कि झारखंड में पार्टी सभी 81 सीटों पर चुनाव लड़ने के लिए स्वतंत्र है. लेकिन हम उन सीटों पर ही चुनाव लड़ेंगे, जहां मजबूत दावेदारी है और पार्टी की जमीनी पैठ रही है. 

प्रेस कांफ्रेस में सालखन मुर्मू ने झारखंड में सत्तारूढ़ बीजेपी और प्रमुख विपक्षी दल जेएमएम को भी आड़े हाथ लिया. उन्होंने कहा कि झारखंड की सरकार खुद को डबल इंजन वाली विकास की सरकार कहती है, जबकि असल में यह डबल इंजन वाली विनाश की पार्टी है. इसका काम है जल, जंगल, जमीन और जीवन को बर्बाद करना और झारखंड की खनिज संपदा को लूटकर उद्योगपतियों को सौंपना. आदिवासियों और मूलवासियों को उजाड़ना.

सालखन मुर्मू ने कहा कि शिबू सोरेन ने 40 साल तक आदिवासियों के सबसे ज्यादा वोट लिए. जबकि उन्होंने ही आदिवासियों के साथ सबसे ज्यादा धोखा किया है. उन्हें लोगों को बताना चाहिए कि आदिवासियों के लिए अब तक क्या काम किए. सोरेन परिवार ने सीएनटी-एसपीटी एक्ट का उल्लंघन किया. सरना कोड नहीं बनाया. झारखंड की अपनी स्थानीय नीति की बात करते थे. लेकिन, जब सत्ता में आये तो स्थानीय नीति नहीं बनायी. झामुमो ने सत्ता में आने के बाद पंचायतों को सशक्त नहीं बनाया.

इसे भी पढ़ें: 11 महीने बाद विधायक ढुल्लू महतो और पूर्व सांसद रवींद्र पांडेय पर दर्ज हुआ यौन शोषण का एफआईआर

गौरतलब है कि इससे पहले चार अक्तूबर को जदयू ने नौ उम्मीदवारों के नामों की सूची जारी की थी. इनमें कोल्हान में मझगांव से सलखान मुर्मू, जमशेदपुर पश्चिम से संजीव आचार्य, जमशेदपुर पूर्वी से संजय ठाकुर, घाटशिला में डॉ अमित कुमार सिंह, पोटका में विश्वनाथ सिंह सरदार, बहरागोड़ा में बबलू दास, खरसावां में कुमार सिंह बानरा, गुमला एजे एक्का व तमाड़ से मानकी सुनील सिंह मुंडा प्रत्याशी बनाए गए हैं.

हांलाकि इन नामों की घोषणा के साथ ही प्रदेश अध्यक्ष का पार्टी के अंदर ही विरोध हो चुका है. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

योगी सरकार की उल्टी गिनती शुरूः अखिलेश यादव
योगी सरकार की उल्टी गिनती शुरूः अखिलेश यादव
नरेंद्र मोदी ने खुद को बनाया है और उनके आगे राहुल गांधी कहीं नहीं ठहरते : रामचंद्र गुहा
नरेंद्र मोदी ने खुद को बनाया है और उनके आगे राहुल गांधी कहीं नहीं ठहरते : रामचंद्र गुहा
डीएसपी देविंदर सिंह को चुप कराने के लिए एनआईए के हवाले किए गया केसः राहुल गांधी
डीएसपी देविंदर सिंह को चुप कराने के लिए एनआईए के हवाले किए गया केसः राहुल गांधी
इसरो की एक और उपलब्धि, जीसैट 30 उपग्रह का सफल प्रक्षेपण
इसरो की एक और उपलब्धि, जीसैट 30 उपग्रह का सफल प्रक्षेपण
13 साल का सिलसिला, सिमडेगा के एक गांव में श्रमदान कर सड़क बना रहे ग्रामीण
13 साल का सिलसिला, सिमडेगा के एक गांव में श्रमदान कर सड़क बना रहे ग्रामीण
बीसीसीआई की केंद्रीय अनुबंध सूची से बाहर हुए धोनी, भविष्य को लेकर अटकलें तेज
बीसीसीआई की केंद्रीय अनुबंध सूची से बाहर हुए धोनी, भविष्य को लेकर अटकलें तेज
विवाद के बाद शिवसेना नेता संजय राउत ने इंदिरा गांधी की गैंगस्टर से मुलाकात वाली टिप्पणी वापस ली
विवाद के बाद शिवसेना नेता संजय राउत ने इंदिरा गांधी की गैंगस्टर से मुलाकात वाली टिप्पणी वापस ली
चंदे में चुनावी बॉन्ड से सबसे अधिक बीजेपी को मिले 1450 करोड़ रुपएः एडीआर रिपोर्ट
चंदे में चुनावी बॉन्ड से सबसे अधिक बीजेपी को मिले 1450 करोड़ रुपएः एडीआर रिपोर्ट
यादेंः खेत-खलिहान, संघर्ष के मैदान, जनता के अरमान में जिंदा हैं कॉमरेड महेंद्र
यादेंः खेत-खलिहान, संघर्ष के मैदान, जनता के अरमान में जिंदा हैं कॉमरेड महेंद्र
उत्कृष्ट प्रेम दर्शन, विनयशीलता, निश्छलता का प्रतीक 'टुसू' के रंगों में रचा-बसा मन
उत्कृष्ट प्रेम दर्शन, विनयशीलता, निश्छलता का प्रतीक 'टुसू' के रंगों में रचा-बसा मन

Stay Connected

Facebook Google twitter