जमशेदपुरः फेसबुक पोस्ट को लेकर प्रोफेसर जीतराई हांसदा को जेल, आदिवासी संगठन सकते में

जमशेदपुरः फेसबुक पोस्ट को लेकर प्रोफेसर जीतराई हांसदा को जेल, आदिवासी संगठन सकते में
Twitter- JJM
पीबी ब्यूरो ,   May 27, 2019

ग्रेजुएट कॉलेज साकची जमशेदपुर में बीएड विभाग के पूर्व एसोसिएट प्रोफेसर जीतराई हांसदा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है. दो साल पहले प्रोफेसर जीतराई हांसदा के एक विवादित फेसबुक पोस्ट को लेकर यह कार्रवाई की गई है. 

इससे पहले कॉलेज से उन्हें हटा दिया गया था. जबकि पुलिस ने एफआईआर दर्ज की थी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक साकची पुलिस ने कहा है कि आपत्तिजनक पोस्ट करने वाले जीतराई हांसदा फरार चल रहे थे. शनिवार की रात साकची के एक होटल से उन्हें गिरफ्तार किया गया. गिरप्तारी के बाद रविवार को उन्हे जेल भेजा गया. 

आरोप है कि 29 मई 2017 को प्रोफेसर जीतराई हांसदा ने अपने फेसबुक वाल पर एक पोस्ट किया था, जिसमें लिखा था, ''मैं बीफ पार्टी देना चाहता हूं. मुझे कोई बताएगा कि कहां मिलेगा''. 

हांसदा ने यह भी कहा था कि ''आदिवासियों में अंतिम संस्कार तथा विभिन्न अनुष्ठान और त्योहारों के दौरान गोमांस खाया जाता है, तो क्या हम कानून की वजह से अपना खानपान और अनुष्ठान बंद कर दें. इस तरह के कानून का हम विरोध करते हैं. ''

इस पोस्ट के बाद कॉलेज में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया. इसके बाद दो जून 2017 को हांसदा के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया. इस बीच कॉलेज ने उन्हें हटा दिया था. 

इसे भी पढ़ें: गिरिडीहः पानी का संकट, गु्स्सा उबाल पर, किया सड़क जाम

प्रोफेसर हांसदा को जेल भेजे जाने से कई पारंपरिक आदिवासी संगठनों ने नाराजगी जताई है. इससे पहले भी माझी परगना महल ने कोल्हान विश्वविद्यालय के कुलपति को एक पत्र लिखकर हांसदा के खिलाफ किसी किस्म की कार्रवाई पर विरोध जताया था. 

माझी परगना महल के दशमत हांसदा का कहना है, ''प्रोफेसर जीतराई के पोस्ट में रत्ती भर का संदेह या मिथ्या नहीं है. बल्कि उसने आदिवासी समुदाय की पंरपरा, देशज खानपान के संरक्षण संवर्धन की बात कही. विभिन्न अनुष्ठान में भैंस, सूऊर, मर्गा, भेड़, बकरे की बलि की प्रथा है''. 

प्रोफेसर की गिरफ्तारी से झारखंड जनाधिकार महासभा भी सकते में है. महासभा ने कहा है कि इस किस्म की कार्रवाई आदिवासियों पांरपरिक अधिकार के साथ मानवाधिकार के खिलाफ है. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कांग्रेस के 'दिशाहीन' होने की धारणा को दूर करने के लिए पूर्णकालिक अध्‍यक्ष चुनना ही होगा: शशि थरूर
कांग्रेस के 'दिशाहीन' होने की धारणा को दूर करने के लिए पूर्णकालिक अध्‍यक्ष चुनना ही होगा: शशि थरूर
कोविड-19 : देश में मरने वालों का आंकड़ा 43 हजार पार, 15 लाख लोग ठीक भी हुए
कोविड-19 : देश में मरने वालों का आंकड़ा 43 हजार पार, 15 लाख लोग ठीक भी हुए
झारखंड आंदोलनकारी और सोशल एक्टिविस्ट बशीर अहमद नहीं रहे, शोक की लहर
झारखंड आंदोलनकारी और सोशल एक्टिविस्ट बशीर अहमद नहीं रहे, शोक की लहर
बीजेपी के नेता पहुंचे राजभवन, बताया, स्पीकर सरकार के इशारे पर बाबूलाल को नेता प्रतिपक्ष नहीं बना रहे
बीजेपी के नेता पहुंचे राजभवन, बताया, स्पीकर सरकार के इशारे पर बाबूलाल को नेता प्रतिपक्ष नहीं बना रहे
नई शिक्षा नीति पूरी तरह से लागू होगी, अब 'क्या सोचना है' नहीं 'कैसे सोचना है ' पर जोरः पीएम मोदी
नई शिक्षा नीति पूरी तरह से लागू होगी, अब 'क्या सोचना है' नहीं 'कैसे सोचना है ' पर जोरः पीएम मोदी
कोरोनाः तोड़े सारे रिकॉर्ड, देश में 24 घंटों में मिले 62 हजार से अधिक मरीज
कोरोनाः तोड़े सारे रिकॉर्ड, देश में 24 घंटों में मिले 62 हजार से अधिक मरीज
सुशांत केसः सीबीआई ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ दर्ज की एफआईआर
सुशांत केसः सीबीआई ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ दर्ज की एफआईआर
जम्मू-कश्मीरः मनोज सिन्हा बने नए उपराज्यपाल, जीसी मुर्मू ने इस्तीफा दिया
जम्मू-कश्मीरः मनोज सिन्हा बने नए उपराज्यपाल, जीसी मुर्मू ने इस्तीफा दिया
झारखंड में भी गूंज, अवधपुरी आए रघुनंदन ...
झारखंड में भी गूंज, अवधपुरी आए रघुनंदन ...
राम न्याय हैं, वे कभी अन्याय में प्रकट नहीं हो सकतेः राहुल गांधी
राम न्याय हैं, वे कभी अन्याय में प्रकट नहीं हो सकतेः राहुल गांधी

Stay Connected

Facebook Google twitter