सीएम की कुर्सी पर कई दफा काबिज रहा 'परिवार' अपना हिसाब देने के बदले लुइस से हिसाब मांग रहेः सुदेश

सीएम की कुर्सी पर कई दफा काबिज रहा 'परिवार' अपना हिसाब देने के बदले लुइस से हिसाब मांग रहेः सुदेश
पीबी ब्यूरो ,   Oct 29, 2020

आजसू पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष और राज्य के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुदेश कुमार महतो ने कहा है कि जो 'परिवार' की दफा मुख्यमंत्री की कुर्सी पर काबिज रहा, वो अपना हिसाब देने के बदले दुमका में लुइस मरांडी से काम का हिसाब पूछ रहे.

दुमका उपचुनाव में भाजपा उम्मीदवार पूर्व मंत्री लुइस मरांडी के समर्थन में कार्यकर्ताओं और समर्थकों को लामबंद करने पहुंचे सुदेश ने प्रत्यक्ष- परोक्ष तौर पर सोरेन परिवार और सत्तारूढ़ दलों को निशाने पर लिया. 

उन्होंने कहा कि दुमका उपचुनाव पर लोगों की निगाहें टिकी है. दरअसल 2019 में मिले जनादेश को स्वीकार करने के बजाय त्याग दिया गया. और यह काम मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने किया. 

मुख्यमंत्री ने जो चुनौती पेश की है, वह भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं, समर्थकों की नहीं यहां की जनता के लिए है. जनता ने जिसे अपना जन प्रतिनिधि बनाया, उन्होंने मुंह मोड़ लिया. सत्ता में आए हेमंत सोरेन के दस महीने हो गए, उन्हें भी अपना काम बताना चाहिए. जबकि सत्तारूढ़ दल इधर- उधर की बात कह जनता को भरमाने में लगे हैं. 

आजसू प्रमुख ने कहा कि राजतंत्र से बाहर आकर लोकतंत्र की स्थापना हुई थी. लेकिन यहां लोकतंत्र के अंदर ही राजतंत्र शुरू हो गया है. यह लड़ाई राजा रंक ही. इसे जनता को अपनी लड़ाई माननी चाहिए, 

इसे भी पढ़ें: मुंगेर में हिंसा, आयोग ने डीएम और एसपी को हटाया, फ्लैग मार्च पर निकले डीआईजी

सुदेश महतो ने कहा कि दुमका का लंबे समय तक सांसद रहे, केंद्र में कोयला मंत्री रहे परिवार को भी अपने काम का हिसाब देना चाहिए. उनका इशारा शिबू सोरेन की तरफ था. 

आजसू प्रमुख ने कहा कि विधानसभा चुनाव में बीजेपी- आजसू के अलग होकर चुनाव लड़ने का विरोधियों को लाभ मिला. बीजेपी और आजसू ने 62 लाख वोट हासिल किए. जबकि सत्तारूढ़ दल 62 लाख से कम वोट लाकर कुर्सी पर बैठे. 

उन्होंने आजसू कार्यकर्ताओं से दुमका में लुइस की जीत सुनिश्चित कराने के लिए दमखम लगाने पर जोर दिया. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

बिहार में स्पीकर का चुनाव: भाजपा के विजय सिन्हा के मुकाबले राजद ने अवध बिहारी चौधरी को उतारा
बिहार में स्पीकर का चुनाव: भाजपा के विजय सिन्हा के मुकाबले राजद ने अवध बिहारी चौधरी को उतारा
कंगना की गिरफ्तारी पर मुंबई हाईकोर्ट ने लगाई रोक
कंगना की गिरफ्तारी पर मुंबई हाईकोर्ट ने लगाई रोक
बिहार: एआईएमआईएम के विधायक ने शपथ में हिन्दुस्तान शब्द नहीं पढ़ा, बीजेपी बोली, पाकिस्तान चले  जाएं
बिहार: एआईएमआईएम के विधायक ने शपथ में हिन्दुस्तान शब्द नहीं पढ़ा, बीजेपी बोली, पाकिस्तान चले जाएं
असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरूण गोगोई का निधन
असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरूण गोगोई का निधन
क्यों सुर्खियों में है कोडरमा के उपायुक्त रमेश घोलप का एक पोस्ट, 'जब मां मेरे ऑफिस में आई थी'
क्यों सुर्खियों में है कोडरमा के उपायुक्त रमेश घोलप का एक पोस्ट, 'जब मां मेरे ऑफिस में आई थी'
राजद ने पूछा, सीएम नीतीश कुमार के नवरत्नों में भ्रष्टाचारी ही क्यों हैं?
राजद ने पूछा, सीएम नीतीश कुमार के नवरत्नों में भ्रष्टाचारी ही क्यों हैं?
कांग्रेस के सहयोग से गुपकार संगठन के लोग देश को अलगाव में झोंक रहे हैं : नित्यानंद राय
कांग्रेस के सहयोग से गुपकार संगठन के लोग देश को अलगाव में झोंक रहे हैं : नित्यानंद राय
ड्रग्स मामले में एनसीबी का शिकंजाः कॉमेडियन भारती सिंह के बाद पति हर्ष भी गिरफ्तार
ड्रग्स मामले में एनसीबी का शिकंजाः कॉमेडियन भारती सिंह के बाद पति हर्ष भी गिरफ्तार
प्यार में 'जिहाद' की कोई जगह नहीं, बांटने के लिए भाजपा ने गढ़ा 'लव जिहाद' शब्द : अशोक गहलोत
प्यार में 'जिहाद' की कोई जगह नहीं, बांटने के लिए भाजपा ने गढ़ा 'लव जिहाद' शब्द : अशोक गहलोत
प्यार में 'जिहाद' की कोई जगह नहीं, बांटने के लिए भाजपा ने गढ़ा 'लव जिहाद' शब्द : अशोक गहलोत
प्यार में 'जिहाद' की कोई जगह नहीं, बांटने के लिए भाजपा ने गढ़ा 'लव जिहाद' शब्द : अशोक गहलोत

Stay Connected

Facebook Google twitter