'15 साल में हमसे कोई भूल हुई थी तो उसके लिए माफी मांगते हैं'

'15 साल में हमसे कोई भूल हुई थी तो उसके लिए माफी मांगते हैं'
Coutesy-ANI
पीबी ब्यूरो ,   Jul 03, 2020

आरजेडी नेता और बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव का एक बयान सियासत के गलियारे में सुर्खियों में है. बिहार चुनाव को लेकर मोर्चाबंदी के बीच गुरुवार को पार्टी के एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने अपने पिता लालू प्रसाद यादव के शासनकाल को लेकर प्रतिक्रिया दी.

तेजस्वी यादव ने कहा, ''ठीक है 15 साल हम लोग सत्ता में रहे लेकिन हम सरकार में नहीं थे, हम तो छोटे थे. फिर भी हमारी सरकार रही, लेकिन इससे कोई इनकार नहीं कर सकता कि लालू जी ने सामाजिक न्याय नहीं किया. उन्होंने सामाजिक न्याय किया. वो दौर अलग दौर था. ठीक है 15 साल में हमसे कोई कमी या भूल हुई थी तो उसके लिए हम माफी भी मांगते हैं.'' 

इसके साथ ही तेजस्वी ने कहा कि मौजूदा सरकार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हैं. और वो भी तो 15 साल रहे. उन्होंने भी कहा था कि पलायन रोक दूंगा. कहा था कि रोजगार देंगे. किसानों की स्थिति को ठीक करेंगे. लेकिन क्या ये काम हुए.

लालू जी के राज में जनप्रतिनिधियों, गरीबों का, पार्टी कार्यकर्ताओं का सम्मान होता था.'

तेजस्वी यादव ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान हमने देखा कि बड़़ी संख्या में लोग बिहार वापस लौटे. यह लोग अन्य राज्यों में नौकरी के लिए गए थे. 

इसे भी पढ़ें: नीट और जेईई मेन परीक्षाएं स्थगित, मिली सितंबर में नई तारीख

उन्होंने नीतीश सरकार पर सवाल दागते हुए पूछा कि आखिर हमारे राज्य के लोग पलायन क्यों कर रहे हैं, क्यों नहीं हम बिहार में उनके लिए अच्छी व्यवस्था कर लेते हैं. 

जाहिर है बिहार चुनाव के नजरिए से तेजस्वी का यह बयान बेहद अहम हो सकता है. 

नीतीश कुमार अपने कार्यकर्ताओं को पहले ही कह चुके हैं कि वह जनता तक लालू बनाम नीतीश के 15 सालों के काम काजों का हिसाब-किताब लेकर जाएं. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी का निधन, पार्टी स्तब्ध
कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी का निधन, पार्टी स्तब्ध
अलीगढ़ः बीजेपी विधायक का आरोप, पुलिस ने पीटा, कार्यकर्ताओं ने थाना घेरा, तनाव
अलीगढ़ः बीजेपी विधायक का आरोप, पुलिस ने पीटा, कार्यकर्ताओं ने थाना घेरा, तनाव
रूस की कोरोना वैक्सीन के बारे जानकारों की अलग-अलग राय?
रूस की कोरोना वैक्सीन के बारे जानकारों की अलग-अलग राय?
फेसबुक पोस्ट को लेकर बेंगलुरु में भड़की हिंसा, पुलिस फायरिंग में तीन की मौत
फेसबुक पोस्ट को लेकर बेंगलुरु में भड़की हिंसा, पुलिस फायरिंग में तीन की मौत
मशहूर शायर राहत इंदौरी का निधन, कोरोना वायरस से संक्रमित थे
मशहूर शायर राहत इंदौरी का निधन, कोरोना वायरस से संक्रमित थे
कितना भी मैं किसी का विरोध करूं, भाषा की मर्यादा कभी नहीं तोड़ताः सचिन
कितना भी मैं किसी का विरोध करूं, भाषा की मर्यादा कभी नहीं तोड़ताः सचिन
रांची के निकट ओरमांझी में ट्रक पर जा रहे 35 लाख रुपए की अफीम और डोडा बरामद
रांची के निकट ओरमांझी में ट्रक पर जा रहे 35 लाख रुपए की अफीम और डोडा बरामद
दस राज्यों में कोरोना को हरा देते हैं, तो देश भी जीत जाएगाः पीएम मोदी
दस राज्यों में कोरोना को हरा देते हैं, तो देश भी जीत जाएगाः पीएम मोदी
राजस्थानः कांग्रेस में बंवडर थमने की उम्मीद, सचिन की बात सुनने के लिए तीन सदस्यीय कमेटी
राजस्थानः कांग्रेस में बंवडर थमने की उम्मीद, सचिन की बात सुनने के लिए तीन सदस्यीय कमेटी
झारखंड में बेरोजगारी बड़ी चुनौती, हम इससे निपटेंगेः हेमंत सोरेन
झारखंड में बेरोजगारी बड़ी चुनौती, हम इससे निपटेंगेः हेमंत सोरेन

Stay Connected

Facebook Google twitter