दुनिया के सबसे तेज मानव कैलकुलेटर नीलकंठ भानु प्रकाश को कितना जानते हैं आप

दुनिया के सबसे तेज मानव कैलकुलेटर नीलकंठ भानु प्रकाश को कितना जानते हैं आप
पीबी ब्यूरो ,   Aug 27, 2020

दुनिया के सबसे तेज धावक जमैका के यूसेन बोल्ट को आपने दौड़ते देखा है. अगर आपका जवाब हां होगा, तो कह सकते हैं  कि गणित में नीलकंठ भानु प्रकाश उतने ही तेज हैं जितने रनिंग में यूसेन बोल्ट.

महज 20 साल की उम्र में उन्होंने मेंटल कैलकुलेशन वर्ल्ड चैम्पियनशिप्स में भारत को पहला गोल्ड दिलाया है.

वो कहते हैं कि गणित "दिमाग का एक बड़ा खेल" है और वो "गणित के फोबिया को पूरी तरह मिटाना" चाहते हैं.

हैदराबाद के नीलकंठ भानु "हर वक़्त अंकों के बारे में सोचते रहते हैं" और अब वो दुनिया के सबसे तेज़ ह्यूमन कैलकुलेटर हैं.

वो मेंटल मैथ्स की तुलना स्प्रिंटिंग से करते हैं. वो कहते हैं कि तेज़ दौड़ने वालों पर कोई सवाल नहीं उठाता, लेकिन मेंटल मैथ्स को लेकर हमेशा सवाल उठते हैं.

इसे भी पढ़ें: गोड्डा के महागामा में मछली कारोबारी की गोली मार कर हत्या

लंदन में आयोजित माइंड स्पोर्ट्स ओलंपियाड में मानसिक गणना विश्व चैम्पियनशिप में भारत के लिए पहला स्वर्ण जीतने के बाद हैदराबाद के 21 साल के नीलकंठ भानु प्रकाश दुनिया के सबसे तेज मानव कैलकुलेटर के रूप में सामने आये हैं.

दिल्ली स्टीफन कॉलेज 

दिल्ली विश्वविद्यालय के सेंट स्टीफन कॉलेज में गणित (ऑनर्स) के छात्र नीलकंठ भानु प्रकाश विश्व रिकॉर्ड के साथ दुनिया में सबसे तेज मानव कैलकुलेटर के रूप में 50 लिम्का रिकॉर्ड भी जीत चुके हैं.

भानु प्रकाश ने कहा कि उन्होंने मैथ प्रयोगशाला बनाने और लाखों बच्चों तक पहुंचने के लिए गणित पर ध्यान देना शुरू किया था.

भानुप्रकाश ने बताया, "मैंने भारत को गणित के वैश्विक स्तर पर स्थान दिलाने में अपना पूरा जोर लगाया है." 

उन्होंने कहा, "मेरा दिमाग एक कैलकुलेटर की गति से तेज गणना करता है. इन रिकॉर्ड को तोड़ना, एक बार स्कॉट मैन्सबर्ग और शकुंतला देवी जैसे मैथ मैस्ट्रो के लिए ही संभव है."

न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए उन्होंने कहा कि 13 साल से 57 साल की उम्र तक 29 प्रतियोगियों को पछाड़ा, मैंने 65 अंकों के स्पष्ट अंतर के साथ स्वर्ण पदक जीता. जज मेरी गति से मंत्रमुग्ध थे, उन्होंने मुझे अपनी सटीकता की पुष्टि करने के लिए अधिक गणना करने को कहा."

द माइंड स्पोर्ट ओलंपियाड को यूके, जर्मनी, यूएई, फ्रांस, ग्रीस और लेबनान के 30 प्रतिभागियों के साथ खेला गया था. नीलकंठ ने आगे कहा कि मेरे नाम दुनिया में 'सबसे तेज मानव कैलकुलेटर' होने के लिए चार विश्व रिकॉर्ड और 50 लिम्का रिकॉर्ड दर्ज हैं.

दिमाग का बड़ा खेल 

भानु कहते हैं कि गणित दिमाग का एक बड़ा खेल है और वो गणित के फोबिया को पूरी तरह मिटाना चाहते हैं. वो मेंटल मैथ्स की तुलना स्प्रिंटिंग से करते हैं. वो कहते हैं कि तेज दौड़ने वालों पर कोई सवाल नहीं उठाता, लेकिन मेंटल मैथ्स को लेकर हमेशा सवाल उठते हैं।.

गणित के साथ भानु के इस सफर की शुरुआत पांच साल की उम्र में हुई. तब उनके साथ एक दुर्घटना हो गई थी. उनके सिर में चोट लगी और वो एक साल के लिए बिस्तर पर रहे. उन्होंने बताया कि मेरे माता-पिता को कहा गया था कि मेरे देखने-सुनने-समझने की क्षमता पर असर पड़ सकता है. तब मैंने अपने दिमाग को व्यस्त रखने के लिए मेंटल मैथ्स कैलकुलेशन करना शुरू किया

इसे भी पढ़ें: कोडरमाः पत्थर खदान में ट्र्क गिरा, चालक समेत दो की मौत

 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कृषि विधेयक किसानों के लिए मौत की सजा हैं: राहुल गांधी
कृषि विधेयक किसानों के लिए मौत की सजा हैं: राहुल गांधी
पप्पू यादव ने बनाया प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन, कहा, 30 साल के महापाप को खत्म करना है
पप्पू यादव ने बनाया प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन, कहा, 30 साल के महापाप को खत्म करना है
लवली आनंद ने राजद का दामन थामा, बोलीं, नीतीश सरकार ने धोखा दिया है
लवली आनंद ने राजद का दामन थामा, बोलीं, नीतीश सरकार ने धोखा दिया है
मत विभाजन की मांग के वक्त सांसद शिवा सीट पर थे, पर सदन का ऑर्डर में होना महत्वपूर्णः हरिवंश
मत विभाजन की मांग के वक्त सांसद शिवा सीट पर थे, पर सदन का ऑर्डर में होना महत्वपूर्णः हरिवंश
जेडीयू के दफ्तर में सीएम नीतीश से मिले गुप्तेश्वर पांडेय, 'सुशासन' की तारीफ की
जेडीयू के दफ्तर में सीएम नीतीश से मिले गुप्तेश्वर पांडेय, 'सुशासन' की तारीफ की
 मनमोहन सिंह की तरह गहराई वाले प्रधानमंत्री की कमी महसूस कर रहा है भारत: राहुल
मनमोहन सिंह की तरह गहराई वाले प्रधानमंत्री की कमी महसूस कर रहा है भारत: राहुल
झारखंडः सरना कोड की मांग पर गोलबंद होते आदिवासी संगठन, 15 अक्तूबर को राज्य व्यापी चक्का जाम करेंगे
झारखंडः सरना कोड की मांग पर गोलबंद होते आदिवासी संगठन, 15 अक्तूबर को राज्य व्यापी चक्का जाम करेंगे
पता नहीं, पीएम मोदी देश को किस दिशा में ले जाना चाहते हैं, कृषि विधेयक सबसे बड़ा प्रहारः हेमंत सोरेन
पता नहीं, पीएम मोदी देश को किस दिशा में ले जाना चाहते हैं, कृषि विधेयक सबसे बड़ा प्रहारः हेमंत सोरेन
गायक एस पी बालासुब्रमण्यम का निधन, मखमली आवाज से प्रशंसकों के दिलों पर दशकों तक राज किए
गायक एस पी बालासुब्रमण्यम का निधन, मखमली आवाज से प्रशंसकों के दिलों पर दशकों तक राज किए
बिहार विधानसभा चुनाव का बिगुल बजाः 28 अक्तूबर से तीन चरणों में मतदान, 10 नवंबर को नतीजे
बिहार विधानसभा चुनाव का बिगुल बजाः 28 अक्तूबर से तीन चरणों में मतदान, 10 नवंबर को नतीजे

Stay Connected

Facebook Google twitter