आदिवासियों का जीवन ही उनका दर्शन हैः अर्जुन मुंडा

आदिवासियों का जीवन ही उनका दर्शन हैः अर्जुन मुंडा
पीबी ब्यूरो ,   Jan 19, 2020

जनजातीय मामलों के केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने कहा है कि जनजातीय समाज के लोगों में सहचर जीवन व्यवस्था का महत्व है. यह इनके जीवन और दर्शन से जुड़ा हुआ है, इसलिए इससे हटकर कुछ सोचना वे पसंद नहीं करते. 

डॉ रामदयाल मुंडा जनजातीय कल्याण शोध संस्थान और कल्याण विभाग द्वारा रांची स्थित आड्रे हाउस में आयोजित जनजातीय दर्शन पर तीन दिवसीय अंतरार्ष्ट्रीय कांफ्रेंस के समापन समारोह में उन्होंने यह बात कही. इस अवसर पर उन्होंने आदि दर्शन स्मारिका का विमोचन भी किया.

अर्जुन मुंडा ने कहा कि वर्ग और प्रजाति के आधार पर सभी अलग-अलग हैं, लेकिन कई अध्ययनों के आधार पर इस तरह की सहचर जैसी समानता सभी जगह के जनजातीय समाज में मिलती है. जनजातीय समुदाय की चारित्रिक विशेषता सभी जगह एक ही तरह की पायी जाती है, जिसे वह बदलना नहीं चाहते हैं. यह एक चक्र की तरह है. पुरानी चीजें नए रूप में पुन: प्रस्तुत होती है.

उन्होंने कहा कि पहली बार डॉ रामदयाल मुंडा जनजातीय कल्याण शोध संस्थान के द्वारा इसका आय़ोजन हुआ है, जिसमें आदिवासी दर्शन पर मंथन किया गया. इससे प्राप्त ऐतिहासिक तथ्यों पर अनुभव का लाभ समाज को मिलेगा.

 

इसे भी पढ़ें: बीजेपी की कमान जेपी नड्डा को, नए अध्यक्ष चुने गए

उन्होंने कहा कि जनजातीय समाज पूरी प्रकृति को सहचर के रुप में देखता है और यह बहुत बड़ा दर्शन है. उन्होंने कहा कि जनजातीय समाज प्रकृति का अनुचर नहीं है. इस समाज के लोग सरल स्वभाव के होते हैं. वे ज्यादा बोलते नहीं हैं. इसलिए कभी-कभी इसे उनकी कमजोरी समझा जाता है, जबकि वे प्रकृति के साथ एकांत में रहना ज्यादा पसंद करते हैं.

उन्होंने कहा कि जनजातियों का जीवन ही उनका दर्शन है. उन्होंने आज तक कोई कानून नहीं बनाया है. उन्होंने जरुरी बातों को अपने जीवन का अंग बना लिया. जनजातीय समाज ने दस्तावेज बनाना जरुरी नहीं समझा.

नेतरहाट में जुटेंगे

कल्याण विभाग की सचिव हिमांडी पांडे ने कहा कि 10-15 फरवरी तक नेतरहाट में देशभर के जनजातीय लोक कलाकार जुटेंगे. उन्होंने उम्मीद जताई कि झारखंड के कलाकार भी अपनी दमदार उपस्थिति दर्ज कराएंगे.

 समापन समारोह में संस्थान के निदेशक श्री रणेंद्र कुमार, डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ एस एन मुंडा और संत जेवियर्स कॉलेज के प्राध्यपक संतोष किड़ो के अलावा बड़ी संख्या में गणमान्य लोग मौजूद थे.


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

नीतीश कुमार एक थाना या ब्लॉक का नाम बता दें, जहां बिना 'चढ़ावा' काम होता होः तेजस्वी यादव
नीतीश कुमार एक थाना या ब्लॉक का नाम बता दें, जहां बिना 'चढ़ावा' काम होता होः तेजस्वी यादव
अभिनेत्री पायल घोष ने फिल्मकार अनुराग कश्यप पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया
अभिनेत्री पायल घोष ने फिल्मकार अनुराग कश्यप पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया
कृषि विधेयक किसानों के रक्षा कवच, विरोध करने वाले दे रहे बिचौलियों का साथ: पीएम मोदी
कृषि विधेयक किसानों के रक्षा कवच, विरोध करने वाले दे रहे बिचौलियों का साथ: पीएम मोदी
नक्सलियों और अपराधियों के आगे पस्त हेमंत सरकार निहत्थे सहायक पुलिसकर्मियों पर लाठियां चला रहीः रघुवर दास
नक्सलियों और अपराधियों के आगे पस्त हेमंत सरकार निहत्थे सहायक पुलिसकर्मियों पर लाठियां चला रहीः रघुवर दास
गढ़वा: जलावन के लिए लकड़ी चुनने गए पति-पत्नी पर मधुमक्खियों का हमला, दोनों की मौत
गढ़वा: जलावन के लिए लकड़ी चुनने गए पति-पत्नी पर मधुमक्खियों का हमला, दोनों की मौत
'राजपूत नहीं थे सुशांत', राजद विधायक के विवादित बयान पर बिहार में बीजेपी भड़की
'राजपूत नहीं थे सुशांत', राजद विधायक के विवादित बयान पर बिहार में बीजेपी भड़की
गृह मंत्री अमित शाह को एम्स से छुट्टी मिली
गृह मंत्री अमित शाह को एम्स से छुट्टी मिली
संसद में संजय राउत का तंज, क्या भाभीजी का पापड़ खाकर इतने लोग कोरोना से हुए ठीक?
संसद में संजय राउत का तंज, क्या भाभीजी का पापड़ खाकर इतने लोग कोरोना से हुए ठीक?
भारत-चीन तनावः राज्यसभा में बोले रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, देश का मस्तक नहीं झुकने देंगे
भारत-चीन तनावः राज्यसभा में बोले रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, देश का मस्तक नहीं झुकने देंगे
हेमंत दुमका से लौटे अब बाबूलाल के पहुंचने की तैयारी, उपचुनाव में लड़ाई होगी भारी
हेमंत दुमका से लौटे अब बाबूलाल के पहुंचने की तैयारी, उपचुनाव में लड़ाई होगी भारी

Stay Connected

Facebook Google twitter