नाबालिग नौकरानी पर जुल्म मामले में बड़कागांव बीडीओ और पत्नी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट

 नाबालिग नौकरानी पर जुल्म मामले में बड़कागांव बीडीओ और पत्नी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट
File Photo (बीडीओ राकेश कुमार)
पीबी ब्यूरो ,   Oct 18, 2019

नाबालिग नौकरानी को बेरहमी से पीटने और इलेक्ट्रिक आयरयन से दागने के मामले में हजारीबाग जिले के बड़कागांव प्रखंड के बीडीओ राकेश कुमार और उनकी पत्नी आरती के खिलाफ कोर्ट ने गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया है. 

बीते दो अक्तूबर को हजारीबाग स्थित सदर थाना में इस मामले में बीडीओ और उनकी पत्नी के खिलाफ केस दर्ज किया गया था. 

हजारीबाग के सदर थाना इंचार्ज पुलिस इंस्पेक्टर नीरज सिंह ने बताया है कि कोर्ट से वारंट जारी हो गया है. पुलिस उसे हासिल कर आगे की कार्रवाई करेगी. पिछले दो अक्तूबर को बीडीओ और उनकी पत्नी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. 

पुलिस अधिकारी के मुताबिक आईपीसी की अलग- अलग धाराओं के अलावा जेजे एक्ट और बालक श्रम प्रतिषेध और विनियमन अधिनियम 1986 के तहत केस दर्ज किया गया है. केस दर्ज किए जाने के बाद से बीडीओ और उनकी पत्नी फरार हैं. जबकि पुलिस उन्हें पकड़ने की कोशिशों में जुटी है. 

इससे पहले पीड़िता का बयान कोर्ट मे दर्ज कराया गया है. साथ ही पुलिस ने भी बयान दर्ज किया है. मेडिकल रिपोर्ट भी पुलिस को मिली है.  

इसे भी पढ़ें: बीजीपी का हमला, मिशनरीज़ ऑफ़ चैरिटी के निर्मल हृदय का बोल रहा पाप, विपक्ष है चुपचाप

इसी मामले में हजारीबाग के उपायुक्त भुवनेश प्रताप सिंह द्वारा बैठाई गई एक अलग जांच में जिले के अपर समाहर्ता ने भी उपायुक्त को रिपोर्ट सौंप दी है. 

क्या है घटना 

पीड़िता बड़कागांव पतरा के सौहदी कोयलांग की रहने वाली है. उसके पिता किनतुस लकड़ा और मौसेरा भाई राहुल लकड़ा के मुताबिक बड़कागांव के रहने वाले बिपिन महतो नाम के एक व्यक्ति ने बच्ची को बीडीओ के घर नौकरानी के काम पर लगाया था. काम पर लगाने के बाद ही बच्ची को कई वजहों से प्रताड़ित किया जाता था. उसे भरपेट खाना भी नहीं दिया जाता था. 

बीडीओ और उनकी पत्नी हजारीबाग शहर में रहती हैं. बीते सात सितंबर को दो सौ रुपए चोरी के आरोप में बच्ची की बेरहमी से पिटाई की गई. बच्ची को करम परब पर घर आने भी नहीं दिया.

इससे पहले बीडीओ की पत्नी ने गर्म आयरन (इलेक्ट्रिक ) से शरीर के कई हिस्सों में दागा जिसके निशान अब भी उसके शरीर पर बने हुए हैं. छाती पर आयरन से दागा गया है. उसके बाल नोंचे गए. गर्म पानी में बच्ची के हाथ डुबो दिए गए. 

पीड़िता के पिता और भाई का आरोप है कि ये सारी घटनाएं बीडीओ की जानकारी में होती रही. बीडीओ भी कई मौके पर बच्ची की पिटाई करते थे. बीडीओ ने मामले को दबाने का भी प्रयास किया. 25 सितंबर को बच्ची को बच्ची को बड़कागांव में लावारिस हालत में छोड़ दिया गया. कुछ लोगों ने परिजनों को सूचना दी. वहां से परिजन घर ले गए. इसके बाद सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया. 

इससे पहले बीडीओ की पत्नी ने गर्म आयरन (इलेक्ट्रिक ) से शरीर के कई हिस्सों में दागा जिसके निशान अब भी उसके शरीर पर बने हुए हैं. छाती पर आयरन से दागा गया है. उसके बाल नोंचे गए. गर्म पानी में बच्ची के हाथ डुबो दिए गए. इसी मामले में चाइल्ड हेल्पलाइन और बाल कल्याण कमेटी ने भी संज्ञान लिया है. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

पंचतत्व में विलीन हुए बेरमो विधायक और मजदूरों के नेता राजेंद्र बाबू
पंचतत्व में विलीन हुए बेरमो विधायक और मजदूरों के नेता राजेंद्र बाबू
लॉकडाउन विफल रहा, अब आगे की रणनीति बताएं पीएम मोदीः राहुल गांधी
लॉकडाउन विफल रहा, अब आगे की रणनीति बताएं पीएम मोदीः राहुल गांधी
 अब उत्तर प्रदेश का मजदूर दुनिया में जहां भी होगा सरकार उसके साथ खड़ी रहेगी : योगी आदित्यनाथ
अब उत्तर प्रदेश का मजदूर दुनिया में जहां भी होगा सरकार उसके साथ खड़ी रहेगी : योगी आदित्यनाथ
कोरोना का कहरः दुनिया के टॉप 10 देशों में भारत भी शामिल
कोरोना का कहरः दुनिया के टॉप 10 देशों में भारत भी शामिल
चाईबासा के प्रवासी आदिवासी की मौत, लाश पड़ी है वर्धा अस्पताल में, गम में डूबे हैं 15 मजदूर साथी
चाईबासा के प्रवासी आदिवासी की मौत, लाश पड़ी है वर्धा अस्पताल में, गम में डूबे हैं 15 मजदूर साथी
'अचानक लॉकडाउन लागू करना गलत था, हम इसे तुरंत समाप्त नहीं कर सकते'
'अचानक लॉकडाउन लागू करना गलत था, हम इसे तुरंत समाप्त नहीं कर सकते'
देश में 4 करोड़ प्रवासी मजदूर, अब तक 75 लाख घर लौटें हैं :गृह मंत्रालय
देश में 4 करोड़ प्रवासी मजदूर, अब तक 75 लाख घर लौटें हैं :गृह मंत्रालय
लॉकडाउन में किसानों की क्या मदद की गई और कर्जमाफी से क्यों मुंह मोड़ रही सरकारः सुदेश
लॉकडाउन में किसानों की क्या मदद की गई और कर्जमाफी से क्यों मुंह मोड़ रही सरकारः सुदेश
बोकारोः गांव की महिलाओं ने एक महिला को बेरहमी से पीटा, बाल काटे, खींचकर कपड़े खोले, 11 गिरफ्तार
बोकारोः गांव की महिलाओं ने एक महिला को बेरहमी से पीटा, बाल काटे, खींचकर कपड़े खोले, 11 गिरफ्तार
70 हजार भाड़ा देकर मुंबई से लौटे 7 मजदूर, बाबूलाल बोले, 'हेमंत जी, अफसर आपको सच बताते नहीं'
70 हजार भाड़ा देकर मुंबई से लौटे 7 मजदूर, बाबूलाल बोले, 'हेमंत जी, अफसर आपको सच बताते नहीं'

Stay Connected

Facebook Google twitter