'विश्वास रखें, नॉर्थ-ईस्ट की भाषा, संस्कृति, परंपरा पर आंच नहीं आने दूंगा'

'विश्वास रखें, नॉर्थ-ईस्ट की भाषा, संस्कृति, परंपरा पर आंच नहीं आने दूंगा'
Twitter - BJP
पीबी ब्यूरो ,   Dec 12, 2019

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि नॉर्थ-ईस्ट की किसी भाषा, रहन सहन, संस्कृति, परंपरा पर वे आंच आने नहीं देंगे. झारखंड के धनबाद में चुनावी रैली को संबोधित कर रहे पीएम मोदी ने संसद के दोनों सदनों से पारित नागरिकता संशोधन विधेयक के बारे में स्थिति स्पष्ट की. 

उन्होंने कहा, ''मैं आज इस मंच से नॉर्थ-ईस्ट के और विशेषकर असम के भाइयों-बहनों और वहां के युवा साथियों को अपील करता हूं कि आप अपने इस सेवक मोदी पर विश्वास रखिए. किसी की परंपरा, भाषा, रहन-सहन, संस्कृति पर आंच नहीं आने दूंगा.खासकर मैं असम के मेरे भाई -बहनों को विश्वास दिलाता हूं कि कोई भी उनके अधिकारों को नहीं छीन सकता. उनकी राजनीतिक विरासत, भाषा और संस्कृति को क्लाउज 6 की स्पिरिट के अनुसार सुरक्षित किया जाएगा''.

उन्होंने कहा कि 31 दिसंबर 2014 तक जो भारत आए उन शरणार्थियों के लिए ही ये व्यवस्था है. नॉर्थ-ईस्ट के करीब-करीब सभी राज्य इस कानून के दायरे से बाहर हैं. कांग्रेस और उसके साथी नॉर्थ-ईस्ट में भी आग लगाने की कोशिश कर रहे हैं. वहां भ्रम फैलाया जा रहा है कि बांग्लादेश से बड़ी संख्या में लोग आ जाएंगे. जबकि ये कानून पहले से ही भारत आ चुके शरणार्थियों की नागरिकता के लिए है. 

पीएम मोदी ने कहा, ''ये जो नागरिकता के कानून में संशोधन हुआ है, इसका भारत के नागरिक मुसलमानों का कोई लेना-देना नहीं है. इस देश का हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी, मुसलमान, जो भारत के पहले से नागरिक हैं, उन पर इस कानून का कोई प्रभाव नहीं है, लेकिन वे लोग झूठ बोले जा रहे हैं.'' 

पीएम मोदी ने कहा, आप पुराने अखबार निकालकर देखिए. हर चुनाव के पहले कांग्रेस के किसी न किसी नेता या इकाई ने ये बयान दिया है कि कांग्रेस की सरकार बनेगी तो बांग्लादेश, पाकिस्तान से आए विस्थापितों को नागरिक अधिकार देंगे. हिंदू को देंगे, सिख को देंगे, लेकिन आपने देखा कि कैसे वे संसद में फिर पलट गए"

इसे भी पढ़ें: तस्वीरों के संग चुनाव के रंगः विदाई से पहले दुल्हन पहुंची वोट डालने

कांग्रेस और उसके सहयोगियों को पता है कि उनको दलित, वंचितों, आदिवासियों ने उनको ठुकरा दिया है. इसलिए एक वोट बैंक उनको अपना आखिरी सहारा दिख रहा है. इसके लिए वे देश के करोड़ों मुस्लिमों से झूठ बोल रहे हैं, छल कर रहे हैं. कांग्रेस और उसके सहयोगियों की सिर्फ और सिर्फ स्वार्थ नीति है, वोट बैंक की चिंता है. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

रांची में राष्ट्रपति ने कहा, बेटियों की सफलता काबिले तारीफ, शिक्षा का उद्देश्य हो अच्छा इंसान बनाना
रांची में राष्ट्रपति ने कहा, बेटियों की सफलता काबिले तारीफ, शिक्षा का उद्देश्य हो अच्छा इंसान बनाना
दिल्ली हिंसाः चौकसी जारी, जाफराबाद में हालात सुधर रहे, एसएन श्रीवास्तव बने नए पुलिस कमिश्नर
दिल्ली हिंसाः चौकसी जारी, जाफराबाद में हालात सुधर रहे, एसएन श्रीवास्तव बने नए पुलिस कमिश्नर
दिल्ली हिंसाः कांग्रेस ने राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपा, कहा, सरकार नाकाम रही, निर्णायक कदम उठाएं
दिल्ली हिंसाः कांग्रेस ने राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपा, कहा, सरकार नाकाम रही, निर्णायक कदम उठाएं
दिल्ली हिंसाः मरने वालों की संख्या 32 तक पहुंची, अमरीका और रूस ने जारी की एडवायजरी
दिल्ली हिंसाः मरने वालों की संख्या 32 तक पहुंची, अमरीका और रूस ने जारी की एडवायजरी
पिछली सरकार ने झारखंड को लूट का चारागाह बनाया, सब जांच कराएंगेः मंत्री बन्ना गुप्ता
पिछली सरकार ने झारखंड को लूट का चारागाह बनाया, सब जांच कराएंगेः मंत्री बन्ना गुप्ता
कांग्रेस के हाथ खून से सने हैं, सोनिया गांधी का गृह मंत्री से इस्तीफा मांगना हास्यास्पद: बीजेपी
कांग्रेस के हाथ खून से सने हैं, सोनिया गांधी का गृह मंत्री से इस्तीफा मांगना हास्यास्पद: बीजेपी
पीएम मोदी ने दिल्ली में शांति की अपील की, सोनिया ने अमित शाह से मांगा इस्तीफा
पीएम मोदी ने दिल्ली में शांति की अपील की, सोनिया ने अमित शाह से मांगा इस्तीफा
राज्य सभा चुनाव एक मौका होगा, जब झारखंड में बीजेपी-आजसू नए सिरे से करीब आ सकती है
राज्य सभा चुनाव एक मौका होगा, जब झारखंड में बीजेपी-आजसू नए सिरे से करीब आ सकती है
सिल्ली की बेटी बबीता चमकी 'खेलो इंडिया' में, तीरंदाजी में कांस्य पदक
सिल्ली की बेटी बबीता चमकी 'खेलो इंडिया' में, तीरंदाजी में कांस्य पदक
दिल्ली हिंसाः मरने वालों की संख्या 20 हुई, एनएसए ने संभाली कमान
दिल्ली हिंसाः मरने वालों की संख्या 20 हुई, एनएसए ने संभाली कमान

Stay Connected

Facebook Google twitter