गिरिडीहः बकरा मारने के आरोप में दलित युवकों की बांधकर पिटाई, 18 पर एफआईआर, एसपी पहुंचे जांच में

गिरिडीहः बकरा मारने के आरोप में दलित युवकों की बांधकर पिटाई, 18 पर एफआईआर, एसपी पहुंचे जांच में
Publicbol
पीबी ब्यूरो ,   Aug 02, 2020

झारखंड में गिरिडीह जिले के घघरडीहा गांव में बकरा मारने के आरोप में दो दलित युवकों की पेड़ से बांध कर पिटाई के मामले में जांच शुरू हो गई है. 

गिरिडीह के एसपी अमित रेणु और एसडीपीओ कुमार गौरव आज घाघरडीह गांव पहुंचे. पीड़ित दलित युवकों-परनामांद दास, शंकर दास और उनके परिजनों से बातचीत की, साथ ही गांव वालों से भी घटना की जानकारी ली. 

पुलिस अधीक्षक ने कहा है कि दोनों पक्षों से पूछताछ की गई है. जो भी दोषी होंगे उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. जांच और कार्रवाई के लिए पुलिस को आवश्यक निर्देश दिए गए हैं. 

इस बीच पीड़ित युवकों के बयान पर मुखिया बालेश्वर यादव समेत 18 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है.

जबकि गांव की एक महिला शकुंतला देवी की शिकायत पर परमानंद दास, शंकर दास समेत 12 लोगों पर केस दर्ज किया गया है. दोनों प्राथमिकी शनिवार देर शाम दर्ज कराई गई है. 

इसे भी पढ़ें: मुंबई में पटना एसपी को जबरन किया क्वारंटाइन, नीतीश बोले, ठीक नहीं किया, अब डीजीपी करेंगे बात

दलित युवकों पर आरोप 

दोनों दलित युवक घघरडीहा गांव के डंडोडीह टोली के रहने वाले हैं.

29 जुलाई को बकरा चुराकर काटने के आरोप में ग्रामीणों ने परमानंद दास एवं शंकर दास की पेड़ में बांधकर पिटाई की थी.

वहीं, पीड़ित युवकों का कहना है कि 28 जुलाई को उनकी फसलों को बकरा खा रहा था.

दोनों ने बकरे को खदेड़ दिया. बाद में बकरे को यादव टोली के कुछ परिवार के लोगों ने खुद ही मार दिया.

इसके बाद बकरा मारने का आरोप लगाते हुए दोनों को घर से निकाल कर एक पेड़ में बांध दिया.

इस दौरान पंचायत हुई जिसमें उनसे जबरन कहलाया गया कि दोनों ने बकरे को मारा है. उन पर 60 हजार का जुर्माना भी लगाया गया. हालांकि उन्होंने जुर्माना की राशि नहीं दी है. 

दोनों के बांधे जाने की सूचना पर मुखिया बालेश्वर यादव भी पहुंचे और पंचायत के बाद दोनों को छोड़ा गया. इससे पहले कुछ लोगों ने पेड़ से बांधे जाने की तस्वीर भी उतारी. 

महिला और मुखिया

इधर, दूसरे पक्ष की तरफ से शकुंतला देवी ने दोनों युवकों पर बकरा काटने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि दोनों युवकों ने बकरा की चोरी की है.

इस मामले को लेकर पंचायत हुई थी. पंचायत में मामला सलट गया था. दलित उत्पीड़न का आरोप गलत है. 

इसे भी पढ़ें: अर्जुन मुंडा के मंत्रालय को स्कॉच गोल्ड अवार्ड, आदिवासी छात्रों को डीबीटी से भेजे 25 सौ करोड़ रुपए

मुखिया बालेश्वर यादव का कहना है कि 28 जुलाई को बकरा काटने की शिकायत मिली थी. 29 जुलाई को पंचायत हो रही थी. पंचायत में कुछ लोग काफी गु्ससाए हुए थे. उन्हें शांत कराने की कोशिश की जा रही थी.  

इस बीच कुछ लोगों ने जबरन दोनों युवकों को पेड़ से बांध दिया. हालांकि उन्होंने तुरंत ही दोनों को रस्सी से खुलवा दिया. इस दौरान किसी भी तरह दोनों युवकों को प्रताड़ित नहीं किया गया. राजनीतिक साजिश के तहत उन्हें फंसाया गया है.


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कृषि सुधार 21 वीं सदी के भारत की जरूरत, किसानों को आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास जारी रहेंगे: मोदी
कृषि सुधार 21 वीं सदी के भारत की जरूरत, किसानों को आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास जारी रहेंगे: मोदी
कोडरमाः स्टेशन पर कंफर्म टिकट लेकर इंतजार करते रह गए यात्री, नही रुकी ट्रेन, खब हुआ हुज्जत
कोडरमाः स्टेशन पर कंफर्म टिकट लेकर इंतजार करते रह गए यात्री, नही रुकी ट्रेन, खब हुआ हुज्जत
राज्यसभा में विपक्ष ने जिस तरीके से हंगामा किया उससे संसदीय गरिमा को चोट पहुंची हैः राजनाथ सिंह
राज्यसभा में विपक्ष ने जिस तरीके से हंगामा किया उससे संसदीय गरिमा को चोट पहुंची हैः राजनाथ सिंह
बिहार चुनावः चिराग पासवान ने कार्यकर्ताओ को लिखा, एनडीए में अभी नही हुई है सीट बंटवारे पर बात
बिहार चुनावः चिराग पासवान ने कार्यकर्ताओ को लिखा, एनडीए में अभी नही हुई है सीट बंटवारे पर बात
विपक्ष के भारी हंगामे के बीच कृषि सुधार से जुड़े दो बिल राज्यसभा में ध्वनि मत से पारित
विपक्ष के भारी हंगामे के बीच कृषि सुधार से जुड़े दो बिल राज्यसभा में ध्वनि मत से पारित
नीतीश कुमार एक थाना या ब्लॉक का नाम बता दें, जहां बिना 'चढ़ावा' काम होता होः तेजस्वी यादव
नीतीश कुमार एक थाना या ब्लॉक का नाम बता दें, जहां बिना 'चढ़ावा' काम होता होः तेजस्वी यादव
अभिनेत्री पायल घोष ने फिल्मकार अनुराग कश्यप पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया
अभिनेत्री पायल घोष ने फिल्मकार अनुराग कश्यप पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया
कृषि विधेयक किसानों के रक्षा कवच, विरोध करने वाले दे रहे बिचौलियों का साथ: पीएम मोदी
कृषि विधेयक किसानों के रक्षा कवच, विरोध करने वाले दे रहे बिचौलियों का साथ: पीएम मोदी
नक्सलियों और अपराधियों के आगे पस्त हेमंत सरकार निहत्थे सहायक पुलिसकर्मियों पर लाठियां चला रहीः रघुवर दास
नक्सलियों और अपराधियों के आगे पस्त हेमंत सरकार निहत्थे सहायक पुलिसकर्मियों पर लाठियां चला रहीः रघुवर दास
गढ़वा: जलावन के लिए लकड़ी चुनने गए पति-पत्नी पर मधुमक्खियों का हमला, दोनों की मौत
गढ़वा: जलावन के लिए लकड़ी चुनने गए पति-पत्नी पर मधुमक्खियों का हमला, दोनों की मौत

Stay Connected

Facebook Google twitter