शोकॉज से फर्क नहीं, पहले प्रभारी आरपीएन सिंह से पूछा जाए कि तीन साल में कमेटी क्यों नहीं बनीः फुरकान अंसारी

 शोकॉज से फर्क नहीं, पहले प्रभारी आरपीएन सिंह से पूछा जाए कि तीन साल में कमेटी क्यों नहीं बनीः फुरकान अंसारी
Publicbol File Photo
पीबी ब्यूरो ,   Nov 20, 2020

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और गोड्डा से पूर्व सांसद फुरकान अंसारी ने कहा है कि पार्टी द्वारा जारी शोकॉज उन्हें फिलहाल नहीं मिला है. अगर मिलेगा तो जवाब देंगे. उन्होंने बोकारो में जो कुछ कहा था, उस पर कायम हैं. 

इसके साथ ही फुरकान अंसारी ने कहा कि हमें शोकॉज देने के बजाए पहले झारखंड में कांग्रेस के पार्टी प्रभारी से पूछा जाना चाहिए कि तीन सालों मे प्रदेश की कमेटी क्यों नहीं गठित हुई. सच यह है कि प्रभारी आरपीएन सिंह गुड बुक में बने रहने के लिए राहुल गांधी और सोनिया गांधी को अंधकार में रखते हैं. 

फुरकान अंसारी ने कहा, ''राहुल गांधी और सोनिया गांधी हमारे शीर्ष नेता हैं. उनके बारे में हमें कुछ भी नहीं कहना. लेकिन राहुल गांधी की जो टीम है वह विश्वसनीय नहीं है. इस पर आपत्ति है. हमने यही तो कहा है कि टीम को ठीक करिए''

गौरतलब है कि झारखंड प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष केशव महतो कमलेश ने प्रदेश अध्यक्ष के निर्देश पर  फुरकान अंसारी को शोकॉज किया है. 

दरअसल हाल ही में फुरकान अंसारी ने बोकारो में मीडिया से बातचीत में बिहार में कांग्रेस के खराब प्रदर्शन पर पार्टी की रणनीति पर  सवाल उठाए थे. साथ ही झारखंड कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह को भी निशाने पर लिया था. 

इसे भी पढ़ें: चतरा में नक्सलियों का आतंकः छठ घाट पर अर्घ्य देने पहुंचे कोयला कारोबारी की हत्या

तब फुरकान अंसारी ने कहा था कि राहुल गांधी के दफ्तर में एमबीए और ऊंची डिग्री वाले सलाहकार बन बैठे हैं. इस कारण राहुल गांधी को राजनीति और चुनाव के बारे सही जानकारी नहीं मिल पाती.डॉ अजय कुमार को बिहार की राजनीति की कोई समझ- जानकारी नहीं है और उन्हें वार रूम का प्रभारी बनाकर भेजा गया.

इसके साथ ही झारखंड में कांग्रेस के प्रभारी आरपीएन सिंह पर पूर्व सांसद ने तल्ख टिप्पणी की थी कि उनका वश चले, तो आरपीएन को प्रखंड अध्यक्ष भी नहीं बनाएं. 

फुरकान अंसारी द्वारा उठाए गए इन सवालों पर प्रदेश नेतृत्व ने शोकॉज किया है. फुरकान अंसारी फिलहाल मधुपुर में हैं. उन्होंने कहा कि जब शोकॉज मिलेगा, तो जवाब दे देंगे. इससे क्या फर्क पड़ता है. कुछ भी गलत नहीं कहा है. 

उन्होंने कहा कि बीस सूत्री कमेटी का गठन होना है. इसमें कांग्रेस का भी हिस्सा है. प्रखंडों में कौन अध्यक्ष होगा, यह भी दिल्ली से तय होगा, तो पार्टी जमीनी स्तर पर कैसे मजबूत होगी. प्रभारी आरपीएन सिंह ने झारखंड में पार्टी के लिए कौन से उल्लेखनीय काम किए हैं, यह भी बताना चाहिए. लोकसभा चुनाव में झारखंड में कांग्रेस कैसे हारी, सबको पता है. नेतृत्व को हमेशा गलत- सलत फीडबैक देकर अपनी कुर्सी बचाए रखने की आदत पार्टी में खत्म होनी ही चाहिए. 

फुरकान अंसारी ने कहा, ''35 सालों तक विधायक सांसद रहे. साढ़े चार दशक हो गए, पार्टी का झंडा ढोते. अब चुनाव भी नहीं लड़ना,पर कांग्रेस का यह हाल होते देख जब दुख होता है, तो बोलना पड़ता है. अगर इसे गुनाह  माना जाता है, तो परवाह नहीं करते. राहुल गांधी से फिर आग्रह करते हैं कि वे अपनी टीम बदलें और चुनावी मोर्चे को युद्ध की तरह संभालें.'' 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कांग्रेस के कद्दावर नेता अहमद पटेल का निधन
कांग्रेस के कद्दावर नेता अहमद पटेल का निधन
बिहार में स्पीकर का चुनाव: भाजपा के विजय सिन्हा के मुकाबले राजद ने अवध बिहारी चौधरी को उतारा
बिहार में स्पीकर का चुनाव: भाजपा के विजय सिन्हा के मुकाबले राजद ने अवध बिहारी चौधरी को उतारा
कंगना की गिरफ्तारी पर मुंबई हाईकोर्ट ने लगाई रोक
कंगना की गिरफ्तारी पर मुंबई हाईकोर्ट ने लगाई रोक
बिहार: एआईएमआईएम के विधायक ने शपथ में हिन्दुस्तान शब्द नहीं पढ़ा, बीजेपी बोली, पाकिस्तान चले  जाएं
बिहार: एआईएमआईएम के विधायक ने शपथ में हिन्दुस्तान शब्द नहीं पढ़ा, बीजेपी बोली, पाकिस्तान चले जाएं
असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरूण गोगोई का निधन
असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरूण गोगोई का निधन
क्यों सुर्खियों में है कोडरमा के उपायुक्त रमेश घोलप का एक पोस्ट, 'जब मां मेरे ऑफिस में आई थी'
क्यों सुर्खियों में है कोडरमा के उपायुक्त रमेश घोलप का एक पोस्ट, 'जब मां मेरे ऑफिस में आई थी'
राजद ने पूछा, सीएम नीतीश कुमार के नवरत्नों में भ्रष्टाचारी ही क्यों हैं?
राजद ने पूछा, सीएम नीतीश कुमार के नवरत्नों में भ्रष्टाचारी ही क्यों हैं?
कांग्रेस के सहयोग से गुपकार संगठन के लोग देश को अलगाव में झोंक रहे हैं : नित्यानंद राय
कांग्रेस के सहयोग से गुपकार संगठन के लोग देश को अलगाव में झोंक रहे हैं : नित्यानंद राय
ड्रग्स मामले में एनसीबी का शिकंजाः कॉमेडियन भारती सिंह के बाद पति हर्ष भी गिरफ्तार
ड्रग्स मामले में एनसीबी का शिकंजाः कॉमेडियन भारती सिंह के बाद पति हर्ष भी गिरफ्तार
प्यार में 'जिहाद' की कोई जगह नहीं, बांटने के लिए भाजपा ने गढ़ा 'लव जिहाद' शब्द : अशोक गहलोत
प्यार में 'जिहाद' की कोई जगह नहीं, बांटने के लिए भाजपा ने गढ़ा 'लव जिहाद' शब्द : अशोक गहलोत

Stay Connected

Facebook Google twitter