'खाली खजाना' है बहाना, कांग्रेस ने बिहार चुनाव के लिए फंड जुटाने का दिया टारगेटः झारखंड बीजेपी

'खाली खजाना' है बहाना, कांग्रेस ने बिहार चुनाव के लिए फंड जुटाने का दिया टारगेटः झारखंड बीजेपी
Publicbol (File Photo)
पीबी ब्यूरो ,   Feb 06, 2020

झारखंड प्रदेश बीजेपी ने कहा है कि चुनाव से पहले घोषणा पत्र में बड़े वादे करने वाली कांग्रेस-जेएमएम- राजद गठबंधन की सरकार अब लोगों का ध्यान हटाने के लिए खाली खजाना का बहाना कर रही है. 

पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने झारखंड में गठबंधन की नई सरकार पर तीखा हमला बोला है. उन्होंने आरोप लगाया है कि राज्य की मौजूदा हालात और विकास के सारे काम ठहर जाने से प्रतीत होता है कि बिहार के लिए चुनावी फंड जुटाने के लिए कांग्रेस ने टारगेट दिया है. तभी हाल में हुए सारे टेंडर को रद्द कर दिया गया है.

प्रतुल शाहदेव ने कहा कि गठबंधन में शामिल दलों ने चुनावी घोषणा पत्र में बड़े-बड़े वादे किए थे. इन वादों को अब वो तकनीकी रूप से पूरा करने में असक्षम महसूस कर रहे हैं. इसलिए सरकार ने बहाने बनाना भी शुरू कर दिया है. 

प्रतुल ने कहा कि मुख्यमंत्री लगातार यह कह रहे हैं कि खज़ाना खाली है. जबकि यह बात सब लोग जानते हैं कि सबसे ज्यादा राजस्व वसूली दिसंबर ,जनवरी, फरवरी के महीने में होती है. लेकिन इन महीनों का ज्यादातर उपयोग हेमंत सोरेन ने दिल्ली की कांग्रेस दरबार में हाजिरी लगाने में किया.

राजस्व वसूली पर सरकार ने ध्यान ही नही दिया. अगर पहले दिन से ही मुख्यमंत्री ने राजस्व वसूली पर ध्यान दिया होता, तो सरकार इस वर्ष भी अपने लक्ष्य को प्राप्त करती.

इसे भी पढ़ें: जेएमएम सांसद विजय हांसदा आज परिणय सूत्र में बंधेंगे, शादी की सालगिरह पर हेमंत जा रहे वाराणसी

बीजेपी प्रवक्ता ने यह भी कहा है, ''झारखंड मुक्ति मोर्चा ने घोषणा पत्र में पारा शिक्षकों को नियमित करने हेतु सीमित लिखित परीक्षा लेने की बात कभी नहीं कही थी. इसका मतलब है कि सरकार अपने वादे से पलट गई है. सरकार को बताना चाहिए कि परीक्षा में जो लोग पास नहीं कर पाएंगे क्या वे नियमित नहीं होंगे? इसी तरह कांग्रेस और झामुमो ने पहले ही कैबिनेट में किसानों के ऋण माफी की घोषणा करने का निर्णय लेने का वादा किया था। सरकार बनने के 1 महीने से ज्यादा समय बीत जाने के बावजूद भी अब तक इस मुद्दे पर कोई निर्णय नही हुआ है''.


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

जेडीयू के दफ्तर में सीएम नीतीश से मिले गुप्तेश्वर पांडेय, 'सुशासन' की तारीफ की
जेडीयू के दफ्तर में सीएम नीतीश से मिले गुप्तेश्वर पांडेय, 'सुशासन' की तारीफ की
 मनमोहन सिंह की तरह गहराई वाले प्रधानमंत्री की कमी महसूस कर रहा है भारत: राहुल
मनमोहन सिंह की तरह गहराई वाले प्रधानमंत्री की कमी महसूस कर रहा है भारत: राहुल
गायक एस पी बालासुब्रमण्यम का निधन, मखमली आवाज से प्रशंसकों के दिलों पर दशकों तक राज किए
गायक एस पी बालासुब्रमण्यम का निधन, मखमली आवाज से प्रशंसकों के दिलों पर दशकों तक राज किए
बिहार विधानसभा चुनाव का बिगुल बजाः 28 अक्तूबर से तीन चरणों में मतदान, 10 नवंबर को नतीजे
बिहार विधानसभा चुनाव का बिगुल बजाः 28 अक्तूबर से तीन चरणों में मतदान, 10 नवंबर को नतीजे
कृषि बिल के विरोध में किसानों का हल्ला बोल, समर्थन में तेजस्वी यादव ट्रैक्टर लेकर उतरे सड़क पर
कृषि बिल के विरोध में किसानों का हल्ला बोल, समर्थन में तेजस्वी यादव ट्रैक्टर लेकर उतरे सड़क पर
पीएम मोदी ने फिटनेस को लेकर कोहली से यो यो टेस्ट के बारे में पूछा, विरोट बोले, बेहद अहम है यह
पीएम मोदी ने फिटनेस को लेकर कोहली से यो यो टेस्ट के बारे में पूछा, विरोट बोले, बेहद अहम है यह
रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोरोना वायरस से निधन, एम्स में ली अंतिम सांस
रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोरोना वायरस से निधन, एम्स में ली अंतिम सांस
पलामू: टीपीसी का जोनल‌ कमांडर गिरेंद्र गंझू गिरफ्तार
पलामू: टीपीसी का जोनल‌ कमांडर गिरेंद्र गंझू गिरफ्तार
टाइम की सूचीः नरेंद्र मोदी दुनिया के 100 प्रभावशाली लोगों में, पर तल्ख टिप्पणी भी
टाइम की सूचीः नरेंद्र मोदी दुनिया के 100 प्रभावशाली लोगों में, पर तल्ख टिप्पणी भी
देश में कोविड-19 से मरने वालों का आंकड़ा 90 हजार पार, अभी करीब 10 लाख लोगों का इलाज जारी
देश में कोविड-19 से मरने वालों का आंकड़ा 90 हजार पार, अभी करीब 10 लाख लोगों का इलाज जारी

Stay Connected

Facebook Google twitter