रांची में दुतीचंद ने तोड़ा अपना रिकॉर्ड, बनीं बेस्ट एथलीट, पुरूषों में तेजिंदर का जलवा

रांची में दुतीचंद ने तोड़ा अपना रिकॉर्ड, बनीं बेस्ट एथलीट, पुरूषों में तेजिंदर का जलवा
पीबी ब्यूरो ,   Oct 14, 2019

झारखंड की राजधानी रांची स्थित खेलगांव में आयोजित ओपन नेशनल चैंपियनशिप में देश की शीर्ष महिला धावक दुतीचंद ने 200 मीटर दौड़ में भी स्वर्ण पदक जीत लिया है.

इससे पहले 100 मीटर दौड़ में भी उन्होंने स्वर्ण पदक हासिल किया. सेमीफाइनल में दुती ने 11.22 सेकेंड का समय निकालकर नए रिकार्ड बनाए. इससे पहले दोहा में हुई विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 11.26 सेंकेंड का समय निकाला था. 

इस चैंपिनयनशिप में दुतीचंद बेस्ट एथलीट बनने का गौरव हासिल किया है. रविवार को 200 मीटर के लिए दौड़ में तामिलनाड़ु की अर्चना को रजत पदक और रेलवे की चंद्रलेखा ने कांस्य पदक जीता है.

रांची में तीन दिवसीय इस प्रतियोगिता में देश भर के दिग्गज एथलीट जुटे थे. और सबकी निगाहें खिलाड़ियों पर टिकी थी. दरअसल सभी खिलाड़ी ओलंपिक में क्वालिफाइ करने के लिए जोर लगा रहे थे. 

तीन दिवसीय इस प्रतियोगिता का समापन रविवार को हुआ. इससे पहले राज्य के खल मंत्री अमर बाउरी ने दुतीचंद को सम्नानित भी किया. पुरूषों में तेजिदंर बेस्ट एथलीट (गोला फेंक) बने हैं. तेजिंदर ने भी खुद का रिकॉर्ड तोड़ा है. 

इसे भी पढ़ें: दुमका का इनामी नक्सली पुणे में हुआ गिरफ्तार

12 अक्तूबर को तेजिदंर पाल सिंह तूर ने अपना ही रिकॉर्ड तोड़ते हुए 20.92 फीटर गोला फेंक कर स्वर्ण पदक जीता था. इससे पहले तेजिदंर ने जकार्ता में हुए एशियन गेम्स में 20.72 मीटर गोला फेंका था. 

रेलवे ओवर ऑल चैपियन

इस प्रतियोगिता में रेलवे को ओवर ऑल चैंपियन का खिताब मिला है. रेलवे ने 264.5 अंक हासिल किए हैं. जबकि सर्विसेज की टीम 174 अंकों के साथ दूसरे नंबर पर और हरियाणा की टीम 88.5 अंक लाकर तीसरे नंबर पर रही. 

झारखंड की प्रियंका केरकेट्टा ने हाइ जंप में जीता है गोल्ड मेडल

इस प्रतियोगिता में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर के कई खिलड़ियों ने अपना परचम लहराया. झारखंड इस चैपियनशिप में 11 वें नबर पर रहा. झारखंड की एक मात्र एथलीट प्रियंका केरकेट्टा ने हाइजंप (ऊंची कूद) में स्वर्ण पदक जीता है. 

सीनियर नेशनल ओपन एथलेटिक्स चैंपियनशिप में प्रियंका ने पहली बार स्वर्ण पदक जीता है. इस चैंपियनशिप में स्वर्ण जीतने के साथ ही उसके अंकों का खाता खुल गया है. अब उसकी नजर अगले वर्ष होने वाले फेडरेशन कप एथलेटिक्स चैंपियनशिप पर है जो भारत में टोक्यो ओलंपिक के लिए अंतिम क्वालीफाइंग प्रतियोगिता होगी.

गोल्ड जीतने के बाद प्रियंका की पहली प्रतिक्रिया थी, ''अब मेरा ध्यान अगले वर्ष होने वाले फेडरेशन कप एथलेटिक्स चैंपियनशिप पर है. आगे कहा कि चूकि ओलंपिक क्वालीफाइंग के लिए मेरा अंक जुड़ना शुरू हो गया है, इसलिए मैं चाहती हूं कि वहां भी बेहतर कर अंकों में बढ़ोतरी करूं.''

जबकि प्रतियोगिता के पहले दिन ही पुरूष वर्ग के हर्डल्स में मध्य प्रदेश के जयवीर और और तामिलनाड़ु के आयासमय ने नया मीट रिकॉर्ड बनाया है. 

इस प्रतियोगिता में चित्रा पल्किज, अभिनव परार, करारे अशोक, शिप्रा, प्रमिला यादव, सौम्या मुरगन, मरीना जॉर्ज कार्तिक य़ू, विमल मुकेश, रूबीना, लिबिजा साजी, लाइम्वान नाराजरी सरीखे स्टार खिलाड़ियों ने अल- अलग इवेंट में पदक हासिल किए हैं. 

 

 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

चाईबासाः नैहर में थी आदिवासी महिला, पति बीमार पड़े, तो साइकिल से नाप ली 50 किमी दूरी
चाईबासाः नैहर में थी आदिवासी महिला, पति बीमार पड़े, तो साइकिल से नाप ली 50 किमी दूरी
अच्छी पहलः ओडिशा ने 500 एमबीबीएस छात्रों को कोरोना मरीजों के इलाज के लिए प्रशिक्षित किया
अच्छी पहलः ओडिशा ने 500 एमबीबीएस छात्रों को कोरोना मरीजों के इलाज के लिए प्रशिक्षित किया
कोरोना रोका जा सके, इसके लिए छत्तीसगढ़ के जेलों से छोड़े गए 584 कैदी
कोरोना रोका जा सके, इसके लिए छत्तीसगढ़ के जेलों से छोड़े गए 584 कैदी
कोरोना का कहर, देश में संक्रमण के 2,902 मामले, मरने वालों की संख्या 68 हुई
कोरोना का कहर, देश में संक्रमण के 2,902 मामले, मरने वालों की संख्या 68 हुई
2 दिन में तबलीगी जमात के 647 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले जबकि 24 घंटों में 12 मरीजों की मौत
2 दिन में तबलीगी जमात के 647 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले जबकि 24 घंटों में 12 मरीजों की मौत
नर्सों से अभद्रता करने वाले तबलीगी जमात के लोगों पर लगेगा रासुका, छोड़ेंगे नहींः योगी आदित्यनाथ
नर्सों से अभद्रता करने वाले तबलीगी जमात के लोगों पर लगेगा रासुका, छोड़ेंगे नहींः योगी आदित्यनाथ
पीएम मोदी ने राज्यों से कहा, अगले कुछ हफ्तों में टेस्टिंग, ट्रेसिंग और क्वारंटाइन पर रहे जोर
पीएम मोदी ने राज्यों से कहा, अगले कुछ हफ्तों में टेस्टिंग, ट्रेसिंग और क्वारंटाइन पर रहे जोर
 धार्मिक स्थानों पर जमा होकर अव्यवस्था पैदा करने का यह वक्त नहीं है : ए आर रहमान
धार्मिक स्थानों पर जमा होकर अव्यवस्था पैदा करने का यह वक्त नहीं है : ए आर रहमान
देश में पांव पसारता कोरोना, संक्रमण के 1965 मामले, मरने वालों की संख्या 50
देश में पांव पसारता कोरोना, संक्रमण के 1965 मामले, मरने वालों की संख्या 50
कोरोना के बीच क्यों सुर्खियों में हैं डॉक्टर सुधीर डेहरिया
कोरोना के बीच क्यों सुर्खियों में हैं डॉक्टर सुधीर डेहरिया

Stay Connected

Facebook Google twitter